उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा आयु सीमा और शैक्षणिक योग्यता

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) एक पेन-पेपर आधारित परीक्षा है जिसका आयोजन डॉ. ए.पी.जे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी (AKTU) उत्तर प्रदेश द्वारा किया जाता है, जो हर साल विभिन्न स्नातक और साथ ही स्नातक स्तर के पाठ्यक्रमों में प्रवेश पाने वाले उम्मीदवारों के लिए होता है| उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा के लिए पात्र होने के लिए, उम्मीदवारों को AKTU द्वारा निर्धारित न्यूनतम पात्रता मानदंड को पूरा करना होगा|

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा पात्रता मानदंड विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए भिन्न हो सकते हैं| उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) पात्रता मानदंड में विभिन्न सीमाएं शामिल हैं जैसे- आयु सीमा, राष्ट्रीयता, योग्यता परीक्षा, योग्यता अंक आदि| उम्मीदवार प्रबंधन कोटा के तहत निजी संस्थानों में सीधे प्रवेश पाने के लिए भी पात्र हैं| उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा के इच्छुक उम्मीदवार पात्रता मानदंड की जानकारी के लिए पूरा लेख पढ़ें|

यह भी पढ़ें- यूपीएससी आईईएस (UPSC IES) परीक्षा योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

पात्रता मानदंड

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) के पाठ्यक्रमों में प्रवेश हेतु पात्रता मानदंड निम्न है, जैसे-

नागरिकता

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) में केवल वे ही आवेदक प्रवेश पा सकते हैं, जो भारत के नागरिक हैं और निम्नलिखित में से कम-से-कम एक आवासीय श्रेणी के अंतर्गत आते हैं, जैसे-

1. इच्छुक अभ्यर्थी जिन्होंने उत्तर प्रदेश में स्थित एक संस्थान से कक्षा 12 या समकक्ष पूरी की है और जिनके माता-पिता उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी है, वे परीक्षा के लिए पात्र हैं|

2. जो उम्मीदवार अन्य राज्यों से योग्यता परीक्षा के लिए उपस्थित और उत्तीर्ण हुए हैं, वे यूपीएसईई के लिए उपस्थित हो सकते हैं, यदि उनके माता-पिता उत्तर प्रदेश के निवासी है|

3. उम्मीदवार जो अपेक्षित योग्यता रखते हैं और उत्तर प्रदेश के बाहर से योग्यता परीक्षा पास कर चुके हैं और उनके माता-पिता (पिता और माता दोनों) के पास यूपी का अधिवास नहीं है, भी आवेदन कर सकते हैं| लेकिन इस मामले में वे केवल AKTU से संबंधित निजी संस्थानों में आर्किटेक्चर / टेक्नोलॉजी पाठ्यक्रमों में 10% सीटों पर प्रवेश पाने के पात्र हैं|

4. जिन उम्मीदवारों ने अन्य राज्यों से योग्यता परीक्षा उत्तीर्ण की है और जिनके माता-पिता उत्तर प्रदेश का अधिवास नहीं रखते हैं, वे B.Tech./ B.Pharm./ और MCA (लेटरल एंट्री) के दूसरे वर्ष में सीधे प्रवेश के लिए पात्र नहीं हैं|

विदेशी उम्मीदवार- विदेशी नागरिकों (एफएन), भारतीय मूल के व्यक्ति (पीआईओ), खाड़ी देशों में भारतीय श्रमिकों के बच्चे (सीआईडब्ल्यूजीसी) के उम्मीदवार भी उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) के लिए उपस्थित होने के लिए पात्र हैं|

यह भी पढ़ें- डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी (D. Pharm) कोर्स प्रक्रिया, योग्यता, अवधि, करियर और वेतन

आयु सीमा

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) हेतु आवेदन करने के लिए कोई आयु सीमा का प्राबधान नहीं है|

शैक्षणिक योग्यता

उम्मीदवारों को विभिन्न उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) के पाठ्यक्रमों की शैक्षणिक योग्यता के निर्देश के बारे में जानकारी होनी चाहिए| विभिन्न पाठ्यक्रमों की योग्यता मानदंड का विस्तृत विवरण नीचे दिया गया है, जैसे-

B.Tech/B.Pharm/B.Arch/BHMCT/BFAD/BFA

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) बी टेक / बी फार्मा / बीएचएमसीटी / बीएफएडी / बीएफए / बी आर्क / बी टेक (कृषि) और अन्य पाठ्यक्रमों के लिए शैक्षणिक योग्यता की विशिष्टता निम्नानुसार है, जैसे-

बी. टेक / बी. फार्मा- उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) के बी टेक / बी फार्मा पाठ्यक्रम के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए अभ्यर्थी को उत्तर प्रदेश बोर्ड की 10+2 स्तर की परीक्षा या किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से किसी भी समकक्ष परीक्षा में अनिवार्य विषयों और बिना किसी वैकल्पिक के उत्तीर्ण होना चाहिए| कुल मिलाकर न्यूनतम 45% अंक (एससी / एसटी श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 40% अंक) हासिल करना आवश्यक है|

बीएचएमसीटी / बीएफएडी / बीएफए- पाठ्यक्रमों के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए उत्तर प्रदेश बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा या किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से 10+2 स्तर की परीक्षा या इसके समकक्ष उत्तीर्ण होना चाहिए और अनुग्रह के बिना न्यूनतम 45% (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवारों को 40% अंक) अंक हासिल करना चाहिए|

यह भी पढ़ें- गेट परीक्षा (GATE Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

बी. आर्क- B. Arch कोर्स के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए उम्मीदवार को उत्तर प्रदेश बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा या किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से 10 + 2 स्तर की परीक्षा या इसके समकक्ष उत्तीर्ण होना चाहिए और कुल मिलाकर न्यूनतम 50% अंक प्राप्त करना और स्पष्ट रूप से प्रत्येक अनिवार्य और वैकल्पिक विषयों में अनुग्रह के बिना उत्तीर्ण होना चाहिए|

बी. आर्क- एक उम्मीदवार जिसके पास तीन वर्ष का डिप्लोमा इन B. Arch (10+3) है, जो केंद्र / राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है, वह भी उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) B. Arch कोर्स के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए पात्र है| लेकिन उम्मीदवार को न्यूनतम 50% अंक प्राप्त करके डिप्लोमा परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी किसी भी अनुग्रह के बिना|

बी. टेक (कृषि)- B.Tech (Agriculture) पाठ्यक्रम के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए उम्मीदवार को उत्तर प्रदेश बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा या 10+2 स्तर की परीक्षा या कृषि के क्षेत्र में किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए| अनुग्रह के बिना न्यूनतम 45% (कुल अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 40%) अंक आवश्यक है|

अन्य पाठ्यक्रम- सभी उम्मीदवार जो उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) B.Tech कोर्स में प्रवेश के लिए पात्र हैं, वे B.Tech (कृषि इंजीनियरिंग) और B.Tech (जैव प्रौद्योगिकी) पाठ्यक्रमों के लिए भी पात्र हैं|

यह भी पढ़ें- बी. फार्मेसी कोर्स (B. Pharm. Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, वेतन और करियर

अनिवार्य विषय

योग्यता परीक्षा (यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा या 10+2 स्तर की परीक्षा या इसके समकक्ष) में आवश्यक विषयों का संयोजन बी टेक, बी टेक बायोटेक्नोलॉजी, बी टेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग, बी आर्क के पहले वर्ष में प्रवेश के लिए नीचे सारणीबद्ध है, जैसे-

पाठ्यक्रम अनिवार्य विषय निम्नलिखित विषयों में से कोई भी
बी.टेक भौतिकी और गणित रसायन विज्ञान / जैव-प्रौद्योगिकी / जीवविज्ञान / तकनीकी व्यावसायिक विषय
बी टेक (जैव प्रौद्योगिकी) (i) भौतिकी और (ii) गणित या जीवविज्ञान रसायन विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी / तकनीकी व्यावसायिक विषय
बी. फार्म भौतिकी और रसायन शास्त्र गणित / जैव-प्रौद्योगिकी / जीवविज्ञान / तकनीकी व्यावसायिक विषय
बी. आर्क गणित और भौतिकी रसायन विज्ञान / कंप्यूटर विज्ञान / जीव विज्ञान / इंजीनियरिंग ड्राइंग / तकनीकी व्यावसायिक विषय
बी. टेक (कृषि अभियांत्रिकी) कृषि शिक्ष्ण
बीएचएमसीटी / बीएफएडी / बीएफए कोई भी शिक्ष्ण

यह भी पढ़ें- MP BE प्रवेश, जानिए योग्यता, आवेदन, काउंसलिंग और कट ऑफ की प्रक्रिया

एमबीए और एमसीए

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) एमबीए और एमसीए पाठ्यक्रमों के लिए शैक्षणिक योग्यता की विशिष्टता निम्नानुसार है, जैसे-

एमबीए- किसी भी संस्थान में एमबीए के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए, उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से तीन साल की न्यूनतम अवधि या एआईयू द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी समकक्ष विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री उत्तीर्ण होना चाहिए और न्यूनतम 50% (एससी / एसटी के लिए 45%) अंक हासिल करना होगा|

एमसीए- किसी भी संस्थान में MCA के प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए, एक उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से तीन साल की न्यूनतम अवधि या एआईयू द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी समकक्ष विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50% (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के लिए 45%) हासिल करना होगा साथ में एमसीए कार्यक्रम के लिए पात्रता प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार को 10+2 स्तर या स्नातक स्तर पर गणित उत्तीर्ण होना चाहिए|

एमबीए / एमसीए एकीकृत- इंटीग्रेटेड एमबीए कोर्स (दोहरी डिग्री) के लिए उम्मीदवारों को यूपी बोर्ड से बारहवीं कक्षा या किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए|

यह भी पढ़ें- बिहार डीसीईसीई पात्रता मानदंड, आवेदन, प्रवेश पत्र, सिलेबस और परिणाम

पार्श्व प्रवेश पाठ्यक्रम

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) लेटरल एंट्री पाठ्यक्रमों के लिए शैक्षणिक योग्यता की विशिष्टता निम्नानुसार है, जैसे-

बी. टेक लेटरल एंट्री- न्यूनतम 45% (एससी / एसटी के लिए 40%) अंकों के साथ एक यूपी इंस्टीट्यूशन से तीन साल का इंजीनियरिंग डिप्लोमा, या

उत्तर प्रदेश पिता या माता के अधिवास के साथ, इंजीनियरिंग की किसी भी शाखा (कृषि इंजीनियरिंग, फार्मेसी और वास्तुकला को छोड़कर) में तकनीकी शिक्षा यूपी के बोर्ड द्वारा मान्यता प्राप्त न्यूनतम 45% (एससी / एसटी के लिए 40%) अंकों के साथ तीन साल का इंजीनियरिंग डिप्लोमा|

किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 45% (एससी / एसटी के लिए 40%) अंकों के साथ तीन साल की बीएससी डिग्री और 10+2 स्तर या स्नातक स्तर पर गणित उत्तीर्ण होना चाहिए|

बी. टेक (कृषि) पार्श्व प्रवेश- न्यूनतम 45% (एससी / एसटी के लिए 40%) अंक के साथ उत्तर प्रदेश इंस्टीट्यूशन से एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग में तीन साल का डिप्लोमा, या

यूपी के अधिवास के साथ पिता या माता और तकनीकी शिक्षा बोर्ड द्वारा मान्यताप्राप्त संस्थान से न्यूनतम 45% (एससी / एसटी के लिए 40%) अंकों के साथ कृषि इंजीनियरिंग में तीन साल का डिप्लोमा|

बी. फार्म पार्श्व प्रवेश- अभ्यर्थी को B.Sc ग्रेजुएट होना चाहिए या बारहवीं कक्षा में गणित विषय के साथ फार्मेसी में 2/3 साल का डिप्लोमा होना चाहिए|

एमसीए पार्श्व प्रवेश- उम्मीदवार के पास न्यूनतम 50% (एससी / एसटी उम्मीदवारों के लिए 45%) अंकों के साथ BCA / BSc (IT / Computer Application) में न्यूनतम तीन वर्ष की स्नातक डिग्री होनी चाहिए|

नोट- B.Arch./BHMCT/BFAD/BFA/MBA पाठ्यक्रम में पार्श्व प्रवेश की अनुमति नहीं है|

यह भी पढ़ें- CG Pre MCA परीक्षा पात्रता, आवेदन, प्रवेश पत्र, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

एनआरआई

एनआरआई उम्मीदवार जो न्यूनतम अपेक्षित योग्यता रखते हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) के एमबीए / एमसीए को छोड़कर सभी पाठ्यक्रमों में उत्तर प्रदेश के वित्त पोषित और निजी संस्थानों में कुल सेवन की 5% सीटों पर सीधे प्रवेश मिल सकता है| इन श्रेणी के तहत B.Arch कोर्स करने वाले आवेदकों को काउंसलिंग के दिन एप्टीट्यूड टेस्ट में उपस्थित होना होगा| एनआरआई कोटे की सीटें के लिए योग्यता निम्न है, जैसे-

जिन अभ्यर्थियों ने अर्हक परीक्षा उत्तीर्ण की है, जिनमें भारत के बाहर स्थित संस्थान से भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित अनिवार्य विषय के रूप में शामिल हैं, जिन्हें भारतीय विश्वविद्यालयों के संघ द्वारा (10+2) परीक्षा के समकक्ष माना जाता है|

वे उम्मीदवार जिन्होंने लंदन / कैम्ब्रिज / श्रीलंका से फिजिक्स, केमिस्ट्री और हायर मैथमेटिक्स (ए) के साथ हाई स्कूल सर्टिफिकेट एजुकेशन (जीसीई) परीक्षा उत्तीर्ण की है और वे भी जिन्होंने गणित द्वितीय स्तर (सी), फिजिक्स और केमिस्ट्री के साथ सैट II परीक्षा में प्रवेश लिया है| ऐसे मामलों की सापेक्ष योग्यता का निर्णय उनके सैट- II स्कोर पर पात्र होगा|

एनआरआई कोटे में खाली सीटें (यदि कोई हो) एनआरआई के ऐसे बेटे / बेटी / असली भाई / वास्तविक बहन द्वारा भरी जाएंगी जो इंटरमीडिएट पास कर चुकी हैं या (10 + 2) या फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स के समकक्ष परीक्षा भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित में से प्रत्येक और भारत में स्थित एक संस्थान से न्यूनतम 50% अंक (एससी / एसटी के लिए 45%) हासिल करना। सीटें खाली रहने पर वास्तविक भाई / बहनों और एनआरआई के पुत्र / पुत्री के बच्चों पर भी विचार किया जा सकता है|

यह भी पढ़ें- CG PET पात्रता, आवेदन, प्रवेश पत्र, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

यदि उपरोक्त जानकारी से हमारे प्रिय पाठक संतुष्ट है, तो लेख को अपने Social Media पर LikeShare जरुर करें और अन्य अच्छी जानकारियों के लिए आप हमारे साथ Social Media द्वारा Facebook Page को Like, TwitterGoogle+ को Follow और YouTube Channel को Subscribe कर के जुड़ सकते है|

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *