उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा अंकन योजना, पैटर्न और पाठ्यक्रम

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय (AKTU) द्वारा उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) आयोजित की जाती है| परीक्षा में कई पेपर होते हैं जो उम्मीदवार द्वारा चुने गए पाठ्यक्रम के अनुसार अलग-अलग होते हैं| परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रश्न यानी बहुविकल्पीय प्रश्न (MCQs) शामिल होंगे|

पूछे जाने वाले प्रश्नों की कुल संख्या प्रत्येक पेपर के लिए अलग-अलग होगी और पेपर के अनुसार समय अवधि भी भिन्न होगी| प्रवेश परीक्षा का मानक उच्चतर माध्यमिक या यूजी पाठ्यक्रमों के समकक्ष परीक्षा और पीजी कार्यक्रमों के लिए स्नातक स्तर का होगा|

आवेदन से पहले सभी इच्छुक उम्मीदवारों को परीक्षा पैटर्न और पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकार के बारे में स्पष्ट जानकारी होनी चाहिए| ताकि बेहतर तैयारी के साथ परीक्षा में शामिल हो सकें| इसी संदर्भ में अंकन योजना, पैटर्न और पाठयक्रम की जानकारी हेतु अभ्यर्थियों को इस पुरे लेख को पढने की सलाह दी जाती है|

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा आयु सीमा और शैक्षणिक योग्यता

पाठ्यक्रमों के लिए पेपर

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा में विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए अलग-अलग पेपर होंगे| उम्मीदवारों को पाठ्यक्रम का चयन करना चाहिए, जिस पाठ्यक्रम में वे आगे बढ़ना चाहते हैं| संबंधित प्रश्न पत्र की आवश्यकता के साथ पाठ्यक्रम नीचे दिए गए हैं, जैसे-

पाठ्यक्रम  प्रश्न पत्र 
बी. टेक / बी. टेक (कृषि इंजीनियरिंग) पेपर- 1
बी.टेक (बायोटेक्नोलॉजी) पेपर- 1 या पेपर- 2
बी.टेक (एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग) केवल पेपर- 3
बी. फार्मा पेपर- 1 या पेपर- 2
बी. आर्क पेपर 4
बीएचएमसीटी / बीएफएडी / बीएफए पेपर- 5
बी. टेक लेटरल एंट्री (डिप्लोमा धारकों के लिए) पेपर- 6
बी. फार्मा लेटरल एंट्री (डिप्लोमा धारकों के लिए) पेपर- 7
बी. टेक लेटरल एंट्री (बीएससी ग्रेजुएट्स के लिए) पेपर- 8
एमबीए पेपर- 9
एमसीए पेपर- 10
एमसीए लेटरल एंट्री पेपर- 11

यह भी पढ़ें- यूपीएससी आईईएस (UPSC IES) परीक्षा योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

परीक्षा पैटर्न

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) में 11 पेपर शामिल होंगे जो आमतौर पर 3 दिनों में आयोजित किए जाएंगे| परीक्षा में परीक्षण किए गए विषय उम्मीदवार द्वारा चुने गए तकनीकी विषय पर निर्भर करेंगे| परीक्षण 180 मिनट में उत्तर दिए जाने वाले वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्नों से बना होगा| उम्मीदवारों को हर सही उत्तर के लिए +4 अंक दिए जाएंगे| अधिकतम अंक प्राप्य विभिन्न पेपर्स पर निर्भर करेगा| परीक्षा का विस्तृत पैटर्न निम्नलिखित है, जैसे-

परीक्षा का तरीका- उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) का आयोजन ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड में किया जाएगा|

ऑफलाइन मोड- पेपर 1, पेपर 2, पेपर 3 और पेपर 4 को ऑफलाइन मोड के माध्यम से संचालित किया जाएगा| उम्मीदवारों को अपने उत्तर ओएमआर शीट पर अंकित करने होंगे|

ऑनलाइन मोड- पेपर 5, पेपर 6, पेपर 7, पेपर 8, पेपर 9, पेपर 10 और पेपर 11 ऑनलाइन मोड में आयोजित किए जाएंगे यानी यह कंप्यूटर आधारित टेस्ट होगा|

भाषा- परीक्षा का पेपर अंग्रेजी और हिंदी भाषा में उपलब्ध होगा| यह किसी अन्य भाषा में प्रदान नहीं किया जाएगा और ऐसा करने के लिए किसी भी अनुरोध पर विचार नहीं किया जाएगा|

प्रश्न का प्रकार- परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होंगे यानि सभी प्रश्न MCQ के रूप में होंगे| प्रत्येक प्रश्न में उत्तर के रूप में सुझाए गए 4 वैकल्पिक विकल्प होंगे, जिसमें से आवेदक को वह चुनना होगा जो सबसे उपयुक्त उत्तर लगता हो|

यह भी पढ़ें- डॉक्टर ऑफ़ फार्मेसी (D. Pharm) कोर्स प्रक्रिया, योग्यता, अवधि, करियर और वेतन

अवधि- उम्मीदवारों को 3 घंटे (180 मिनट) की अवधि में 150 प्रश्नों का प्रयास करना होगा| प्रत्येक पेपर के लिए प्रश्नों की संख्या, कुल अंक और समय की अवधि नीचे दी गई है, जैसे-

प्रश्न पत्र  विषय  प्रश्न और प्रकार कुल प्रश्न  अंक  समय अवधि 
पेपर- 1 भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित 50 MCQs प्रत्येक से 150 600  

 

3 घंटे

पेपर- 2 भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान 50 MCQs प्रत्येक से 150 600
पेपर- 3 एजी- I, एजी- II और एजी- III 50 MCQs प्रत्येक से 150 600
पेपर- 4 वास्तुकला के लिए योग्यता टेस्ट, भाग अ- गणित और सौंदर्यशास्त्र संवेदनशीलता, भाग ब- ड्राइंग योग्यता 50 MCQs प्रत्येक से गणित और सौंदर्यशास्त्र संवेदनशीलता और 2 ड्राइंग प्रश्न 52 500 2 घंटे 30 मिनट
पेपर- 5 सामान्य जागरूकता के लिए योग्यता परीक्षा (BHMCT / BFAD / BFA) 75 MCQs 75 300  

 

 

 

1 घंटा 30 मिनट

पेपर- 6 इंजीनियरिंग में डिप्लोमा धारकों के लिए योग्यता टेस्ट (पार्श्व प्रवेश) 75 MCQs 75 300
पेपर- 7 फार्मेसी में डिप्लोमा धारकों के लिए योग्यता टेस्ट (पार्श्व प्रवेश) 75 MCQs 75 300
पेपर- 8 बीएससी के लिए योग्यता टेस्ट इंजीनियरिंग में स्नातक (पार्श्व प्रवेश) 75 MCQs 75 300
पेपर- 9 एमबीए के लिए योग्यता टेस्ट 100 MCQs 100 400  

2 घंटे

पेपर- 10 एमसीए के लिए योग्यता टेस्ट 100 MCQs 100 400
पेपर- 11 द्वितीय वर्ष MCA (लेटरल एंट्री) के लिए योग्यता टेस्ट 100 MCQs 100 400

यह भी पढ़ें- गेट परीक्षा (GATE Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

अंकन योजना

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) में प्रश्नों का प्रयास कैसे करें, यह तय करने में मदद करने के लिए आवेदकों के पास अंकन योजना के बारे में स्पष्ट विचार होना चाहिए| हालांकि परीक्षा में कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं है, लेकिन मेरिट लिस्ट तैयार करने के लिए आवेदकों के गलत उत्तरों की कुल संख्या का रिकॉर्ड रखा जाएगा| अंकन योजना इस प्रकार है, जैसे-

परीक्षा मोड ऑफलाइन- पेपर 1, 2, 3 और 4

ऑनलाइन- पेपर 5, 6, 7, 8, 9, 10 और 11

प्रश्न पत्र का प्रकार उद्देश्य (MCQs)
सही उत्तर के लिए अंक +4
नकारात्मक अंकन 0
भाषा का माध्यम अंग्रेजी और हिंदी

यह भी पढ़ें- बी. फार्मेसी कोर्स (B. Pharm. Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, वेतन और करियर

महत्वपूर्ण निर्देश

1. पेपर 1, 2, 3 और 4 का मूल्यांकन ओएमआर पद्धति द्वारा किया जाएगा| उम्मीदवारों को ओएमआर शीट पर अपनी प्रतिक्रियाओं को चिह्नित करना होगा|

2. परीक्षा में ओएमआर शीट पर अपने उत्तरों को चिह्नित करने के लिए आवेदकों को केवल बॉलपॉइंट पेन (ब्लैक / ब्लू) का उपयोग करना चाहिए|

3. प्रश्न अंग्रेजी और हिंदी दोनों भाषाओं में दिए जाएंगे| अस्पष्टता के मामले में, अंग्रेजी संस्करण को अंतिम माना जाएगा|

4. प्रत्येक आकांक्षी द्वारा दिए गए गलत उत्तरों की संख्या का एक रिकॉर्ड रखा जाएगा| इसका उपयोग टाई-ब्रेकिंग मानदंड के रूप में किया जाएगा|

परीक्षा पाठ्यक्रम

उत्तर प्रदेश राज्य प्रवेश परीक्षा (UPSEE) का सिलेबस यूजी पाठ्यक्रमों के लिए 10 + 2 स्तर (कक्षा 11 वीं और 12 वीं) के संपूर्ण पाठ्यक्रम और पीजी पाठ्यक्रमों के लिए स्नातक स्तर पर आधारित है| परीक्षा के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का पाठ्यक्रम आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध प्रोस्पेक्टस में दिया जाएगा| प्रत्येक पाठ्यक्रम से संबंधित विषयों के महत्वपूर्ण विषय जिनका अध्ययन करने की आवश्यकता है, नीचे दिए गए हैं, जैसे-

पेपर 1- गणित महत्वपूर्ण विषय: बीजगणित, संभावना, त्रिकोणमिति, गतिकी, निर्देशांक ज्यामिति, गणना और वैक्टर स्टैटिक्स इत्यादि|

पेपर 1 और पेपर 2- भौतिकी महत्वपूर्ण विषय: माप, एक आयाम में गति, गति के नियम, ताप और ऊष्मागतिकी, लहर, रे ऑप्टिक्स और ऑप्टिकल उपकरण, कार्य, शक्ति और ऊर्जा, लहर प्रकाशिकी, आकर्षण-शक्ति, ठोस और तरल पदार्थ के यांत्रिकी, चालू बिजली और इलेक्ट्रोस्टैटिक इत्यादि|

यह भी पढ़ें- MP BE प्रवेश, जानिए योग्यता, आवेदन, काउंसलिंग और कट ऑफ की प्रक्रिया

पेपर 1 और पेपर 2- रसायन विज्ञान महत्वपूर्ण विषय: सामान्य कार्बनिक रसायन, समाधान के सहयोगात्मक गुण, रासायनिक संतुलन और बलगति विज्ञान और और एसिड-बेस अवधारणा, विद्युत्-रसायन और उत्प्रेरण, रिडॉक्स प्रतिक्रियाएँ, ऊष्मारसायन, आईयूपीएसी, पॉलिमर, कोलाइड, ठोस अवस्था, आवर्त सारणी, पेट्रोलियम, रासायनिक संबंध, परमाण्विक संरचना और संवयविता इत्यादि|

पेपर 2- जीव विज्ञान के महत्वपूर्ण विषय: जीवन की उत्पत्ति, जनन विज्ञान, कार्बनिक विकास, आवृत्तबीजी में बीज पौधा, मानव जेनेटिक्स और यूजीनिक्स, सेल विभेदन संयंत्र ऊतक, अनुप्रयुक्त जीवविज्ञान, शैवाल, बैक्टीरिया, कवक, ब्रायोफाइटा, पेरिडोफाइटा, पशु शरीर क्रिया विज्ञान, पौधा कोशाणु, स्तनधारी शरीर क्रिया विज्ञान और परिस्थितिकी इत्यादि|

पेपर 3- एजी- I, एजी- II और एजी- III के महत्वपूर्ण विषय: एजी- I- कृषि भौतिकी, कृषि रसायन (अकार्बनिक और जैविक) / एजी- II- कृषि इंजीनियरिंग, कृषि सांख्यिकी और एजी- III कृषिविज्ञान, कृषि वनस्पति विज्ञान इत्यादि|

पेपर 4- वास्तुकला योग्यता के महत्वपूर्ण विषय: गणित, सौंदर्य बोध संवेदनशीलता और ड्राइंग योग्यता इत्यादि|

पेपर 5- BHMCT / BFAD / BFA के लिए योग्यता: यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि संख्यात्मक योग्यता सेक्शन 10 वीं कक्षा का होगा, महत्वपूर्ण विषय: तर्क और तार्किक कटौती, अंग्रेजी भाषा, सामान्य ज्ञान संख्यात्मक क्षमता और वैज्ञानिक योग्यता इत्यादि|

यह भी पढ़ें- बिहार डीसीईसीई पात्रता मानदंड, आवेदन, प्रवेश पत्र, सिलेबस और परिणाम

पेपर 6- के महत्वपूर्ण विषय इस प्रकार है: यंत्र विज्ञान अभियांत्रिकी, इंजीनियरिंग ग्राफिक्स, बेसिक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, बेसिक इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, कंप्यूटर विज्ञान के तत्व, बुनियादी कार्यशाला अभ्यास, प्राथमिक जीवविज्ञान, भौतिक विज्ञान / रसायन विज्ञान / मैथ ऑफ डिप्लोमा स्टैंडर्ड इत्यादि|

पेपर 7- पाठ्यक्रम के महत्वपूर्ण विषय: औषध बनाने की विद्या- I और II, फार्मास्युटिकल केमिस्ट्री- I और II, स्वास्थ्य शिक्षा और सामुदायिक फार्मेसी, फार्माकोग्नॉसी, बायोकेमिस्ट्री और क्लिनिकल पैथोलॉजी, मानव शरीर रचना विज्ञान और शरीर विज्ञान, औषध और विष विज्ञान, फार्मास्युटिकल विधिशास्त्र, दवा की दुकान और व्यवसाय प्रबंधन, अस्पताल और नैदानिक फार्मेसी इत्यादि|

पेपर 8- अभिरुचि परीक्षण के महत्वपूर्ण विषय: रेखीय बीजगणित, गणना, विभेदक समीकरण, फोरियर श्रेणी, जटिल चर, प्रायिकता और सांख्यिकी इत्यादि|

पेपर 9- एमबीए पाठ्यक्रम के महत्वपूर्ण विषय: अंग्रेजी भाषा, संख्यात्मक योग्यता, सोच और निर्णय लेना, सामान्य जागरूकता इत्यादि|

पेपर 10- एमसीए पाठ्यक्रम के महत्वपूर्ण विषय: गणित, सांख्यिकी, तार्किक क्षमता इत्यादि|

पेपर 11- पार्श्व प्रवेश एमसीए पाठ्यक्रम के महत्वपूर्ण विषय: गणितीय संरचना, कम्प्यूटिंग अवधारणाओं, सोचने की क्षमता इत्यादि|

यह भी पढ़ें- यूपीटीईटी परीक्षा (UPTET Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

यदि उपरोक्त जानकारी से हमारे प्रिय पाठक संतुष्ट है, तो लेख को अपने Social Media पर LikeShare जरुर करें और अन्य अच्छी जानकारियों के लिए आप हमारे साथ Social Media द्वारा Facebook Page को Like, TwitterGoogle+ को Follow और YouTube Channel को Subscribe कर के जुड़ सकते है|

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *