मध्य प्रदेश राज्य अभियांत्रिकी सेवा

मध्य प्रदेश राज्य अभियांत्रिकी सेवा प्रारम्भिक परीक्षा का पैटर्न और सिलेबस

मध्य प्रदेश राज्य लोक सेवा आयोग (MPPSC) सिविल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, कृषि इंजीनियरिंग आदि विभाग में सहायक इंजीनियरों का चयन करने के लिए मध्य प्रदेश राज्य इंजीनियरिंग सेवा (MP SES) परीक्षा आयोजित करता है| मध्य प्रदेश राज्य अभियांत्रिकी सेवा के लिए उम्मीदवारों का चयन प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार के आधार पर किया जाता है| इस लेख मे इच्छुक उम्मीदवारों के लिए मध्य प्रदेश राज्य अभियांत्रिकी सेवा प्रारम्भिक परीक्षा के पैटर्न और पाठ्यक्रम की जानकारी का उल्लेख किया गया है| ताकि इच्छुक उम्मीदवार पैटर्न और पाठ्यक्रम को समझ कर समय से तैयारी शुरू कर सके|

प्रारम्भिक परीक्षा पैटर्न

1. प्रारम्भिक परीक्षा एक ऑनलाइन परीक्षा है, जो उम्मीदवारों की छानबीन के लिए आयोजित की जाती है|

2. इस मध्य प्रदेश राज्य परीक्षा में 200 अंकों और 300 अंकों के दो पेपर होंगे|

3. इस परीक्षा में प्राप्त अंकों को अंतिम मेरिट सूची में नहीं गिना जाएगा|

4. मध्य प्रदेश राज्य अभियांत्रिकी सेवा प्रारम्भिक परीक्षा का पैटर्न इस प्रकार है, जैसे-

प्रश्न पत्र  विषय का नाम प्रश्नों की संख्या अंक
1 सामान्य योग्यता

अनुभाग- अ (भारत का सामान्य अध्ययन, मध्य प्रदेश के विशेष सन्दर्भ में)

अनुभाग- ब (सामान्य हिंदी)

अनुभाग- स (सामान्य अंग्रेजी)

 

50

25

25

 

100

50

50

2 इंजीनियरिंग (सिविल, मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, कृषि) 100 300
कुल 200 500

यह भी पढ़ें- MP SFS परीक्षा, जानिए पात्रता, आवेदन, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

प्रश्न पत्र योजना

1. दोनो प्रश्न-पत्र वस्तुनिष्ठ (बहुविकल्प) प्रकार के होंगें, प्रत्येक प्रश्न के 4 विकल्प (A, B, C, D) होंगें| अभ्यर्थी को सही उत्तर का चयन करना होगा|

2. प्रथम प्रश्न-पत्र सामान्य अभियोग्यता का होगा जिसमें दो अनुभाग होगें| अनुभाग (अ) “भारत का सामान्य अध्ययन, मध्यप्रदेश के विशेष सन्दर्भ में” से 2-2 अंक के कुल 50 प्रश्न होंगें तथा अनुभाग (ब) “हिन्दी भाषा” से 25 प्रश्न एवं (स) “English Language” से 25 प्रश्न 2-2 अंक के होंगें| इस प्रकार प्रथम प्रश्न-पत्र में कुल 100 प्रश्न होंगे तथा उसका पूर्णांक 200 होगा|

3. द्वितीय प्रश्न-पत्र अभियांत्रिकी विषय का होगा जिसमें 3-3 अंकों के कुल 100 प्रश्न पूछे जायेंगे| इस प्रकार इस प्रश्न-पत्र का पूर्णांक 300 होगा|

4. मध्य प्रदेश राज्य अभियांत्रिकी विषय के प्रश्न-पत्र में मुख्य परीक्षा हेतु निर्धारित अभियांत्रिकी विषयों के प्रथम तथा द्वितीय प्रश्न-पत्र के पाठ्यक्रम से 50-50 प्रश्न पूछे जायेंगें|

5. प्रत्येक प्रश्न-पत्र की अवधि 2 घंटे की होगी| प्रथम प्रश्न-पत्र का अनुभाग (अ) हिन्दी तथा अंग्रेज़ी दोनो भाषाओं में होगा, खंड (ब)- 1 केवल हिन्दी भाषा में तथा (ब)- 2 केवल अंग्रेजी भाषा में होगा| संबंधित अभियांत्रिकी विषय का द्वितीय प्रश्न-पत्र केवल अंग्रेजी भाषा में होगा|

यह भी पढ़ें- MP SET प्रवेश परीक्षा, जानिए योग्यता, आवेदन, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

परीक्षा के उत्तीर्णांक

ऑनलाइन प्रारम्भिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने हेतु अभ्यर्थी को प्रत्येक प्रश्न-पत्र में 40 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा| मध्य प्रदेश राज्य हेतु अधिसूचित अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति ,अन्य पिछड़ा वर्ग तथा नि:शक्त श्रेणी के ऐसे अभ्यर्थियों को जो मध्य प्रदेश राज्य के मूल निवासी है, उत्तीर्णांक में 10 प्रतिशत की छूट दी जायेगी|

उन्हें ऑनलाइन प्रारम्भिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने हेतु प्रत्येक प्रश्न-पत्र में न्यूनतम 30 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा| ऑनलाइन प्रारम्भिक परीक्षा में प्राप्त अंको के गुणानुक्रम के आधार पर विभिन्न प्रवर्गों से भरी जाने वाली कुल रिक्तियों की संख्या के 15 गुना तथा समान अंक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा हेतु योग्य घोषित किये जायेंगे|

सिलेबस प्रथम प्रश्नपत्र

सामान्य अध्ययन

अनुभाग (अ)- भारत का सामान्य अध्ययन, मध्य प्रदेश राज्य के विशेष सन्दर्भ में, जैसे-

भूगोल- मध्यप्रदेश का सामान्य परिचय, क्षेत्र, भूस्वरूप एवं संरचना, भौतिक एवं भौगोलिक क्षेत्र तथा जलवायु|

यह भी पढ़ें- MP BE प्रवेश, जानिए योग्यता, आवेदन, काउंसलिंग और कट ऑफ की प्रक्रिया

मध्यप्रदेश के प्राकृतिक संसाधन, जैसे-

क) खनिज संपदा

ख) वन संपदा एवं वन जीवन

ग) कृषि एवं पशुपालन, फसलों का क्षेत्रीय वितरण, कृषि का योजनाबद्ध विकास, हरित क्रांति, पशुधन का विकास|

ड़) जल संसाधन- सिंचाई का विकास एवं सिंचाई परियोजनाएँ|

मानव संसाधन- जनसंख्या, जनसंख्या घनत्व, शहरी एवं ग्रामीण जन संख्या, साक्षरता एवं श्रमशक्ति|

उर्जा संसाधन- इसमें परंपरागत एवं अपरंपरागत उर्जा के संसाधन तथा उनके मानवीय जीवन में उपयोग से संबंधित प्रश्न होंगे|

उद्योग- इसमें प्रदेश के उद्योगों के प्रकार एवं आकार तथा उनके राज्य की अर्थ व्यवस्था पर प्रभाव से संबंधित प्रश्न होंगे|

पर्यावरण- पर्यावरण एवं उनके संरक्षण, प्रदूषण, प्राकृतिक आपदा तथा इनका मानवीय जीवन की गुणवत्ता पर होने वाले प्रभावों से संबंधित प्रश्न होंगे|

योजनाएं एवं मूल्यांकन- इसमें पंचवर्षीय योजनाओं के अभी तक के विभिन्न पहलूओं, विभिन्न कार्यक्रमों जो शहरी एवं ग्रामीण विकास के सबंध में हो तथा आर्थिक योजनाओं के मूल्यांकन तथा देश के परिप्रेक्ष्य में मध्यप्रदेश की सापेक्षित स्थिति से संबंधित प्रश्न होंगे|

यह भी पढ़ें- MP MET प्रवेश परीक्षा, जानिए योग्यता, आवेदन, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

मध्यप्रदेश की प्रशासनिक संरचना- इसमें मध्यप्रदेश की विभिन्न प्रशासनिक इकाइयों जैसे संभाग, जिला, तहसील एवं विकास खण्डों का आपसी संबंध एवं प्रशासनिक संरचना से संबंधित अभ्यार्थियों के ज्ञान का परीक्षण करना होगा|

ग्रामीण एवं शहरी प्रशासनिक संरचना- पंचायती राज, नगर पालिका एवं नगर निगम की संरचना एवं प्रशासनिक ढ़ांचे से संबंधित सामान्य ज्ञान के प्रश्न अभ्यार्थियों से पूछे जायेगें|

खेलकूद- विविध खेलकूद के लिये संगठन, प्रबंधन एवं सुविधाओं से संबंधित अभ्यार्थियों की जागरूकता का परीक्षण करना होगा| इसमें मध्यप्रदेश के राजकीय पुरस्कारों, व्यक्तित्वों एवं शासकीय तथा अशासकीय संगठनों के योगदान से संबंधित प्रश्न भी होंगे|

मध्य प्रदेश राज्य की संस्कृति , साहित्य, संगीत , नृत्य कला एवं इतिहास

क) संस्कृति- प्रकृति, प्रकार एवं मुख्य–मुख्य बातें तथा मानव जीवन पर उनके प्रभाव से संबंधित प्रश्न होंगे|

ख) साहित्य, जैसे-

1. प्राचीन- कालिदास, भर्तहरि, भवभूति व बाणभट्ट|

2. मध्यकालीन- केशव, पद्माकर, भूषण|

3. आधुनिक- पं. माखनलाल चतुर्वेदी , सुभद्राकुमारी चौहान, गजानन माधव मुक्तिबोध’, बालकृष्ण शर्मा “नवीन”, भवनीप्रसाद मिश्र, हरिशंकर परसाई, शरद जोशी, मूल्लारामोजी डॉ. शिवमंगल सिंह सुमन तथा नंद दुलारे बाजपेयी|

4. लोक साहित्य- मध्यप्रदेश की बोलियाँ|

यह भी पढ़ें- MP PET प्रवेश परीक्षा, जानिए आवेदन, पात्रता, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

संगीत एवं नृत्य परम्परा

क) संगीत परम्परा- तानसेन , उस्ताद अलाउदीन खाँ, उस्ताद हाफिज अली खाँ, पंडित किशनराव, शंकर पंडित, राजाभैया पूछवाले, उस्ताद अमीर खाँ, कुमार गंधर्व, महाराज चक्रधरसिंह, पंडित कार्तिकराम|

ख) नृत्य परम्परा- लोक संगीत की प्रमुख शैलिया , प्रमुख लोक नृत्य|

कला- सामान्य प्रवृत्ति के प्रश्नों में भित्ति चित्रकला, लोक चित्रकला, आधुनिक चित्रकला के घराने एवं प्रमुख चित्रकार शामिल होंगे| इसमें प्रमुख लोक कलाओं एवं अन्य विभिन्न रंगमंचो से संबंधित प्रश्न भी होंगे|

प्रमुख अनुसूचित जनजाति- प्रमुख अनुसूचित जन जातियों के नाम, अभिलक्षण, अधिवास, मुख्य मेले एवं तीज त्यौहार तथा सांस्कृतिक संरचना से संबंधित सामान्य ज्ञान के मूल्यांकन के लिये प्रश्न पूछे जायेंगे| इसमें म.प्र.शासन के द्वारा अनुसूचित जनजातियों के उत्थान से सबंधित कार्यक्रमों पर भी प्रश्न होंगे|

संस्कृति के क्षेत्र में मध्य प्रदेश राज्य शासन के कार्यक्रम- अभ्यार्थियों से साहित्यिक अकादमियों एवं संस्थानों से संबंधित सामान्य ज्ञान के मूल्यांकन के लिये प्रश्न पूछे जायेंगे| संगीत तथा चित्रकला के विविध घराने से संबंधित तथा संस्कृति मेलों से संबंधित प्रश्न होंगे| साहित्य संगीत एवं ललितकलाओं में प्रमुख योगदान के लिये शासन द्वारा दिये जाने वाले विभिन्न पुरूस्कारों से संबंधित प्रश्न भी होंगे|

पुरातात्विक विरासत- प्रमुख ऐतिहासिक, पुरातात्विक एवं पर्यटन स्थानों से संबंधित सामान्य ज्ञान के प्रश्न होंगे|

मध्यप्रदेश की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि- मध्यप्रदेश का गठन, मध्यप्रदेश के प्रमुख राजवंशों एवं शासकों पर प्रश्न होंगे| इसमें स्वतंत्रता आन्दोलन में मध्यप्रदेश के योगदान पर भी प्रश्न होंगे|

यह भी पढ़ें- MP D.EL.Ed में प्रवेश कैसे लें, जानिए आवेदन, पात्रता और परिणाम की प्रक्रिया

अनुभाग (ब)- हिन्दी भाषा

1. व्याकरण संबंधी वस्तुनिष्ठ प्रश्न जिसमें संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, संधि, समास, कारक, आधारित वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे|

2. वाक्य संरचना, वाक्य के प्रकार, वाक्यगत अशुद्धि, शब्दगत अशुद्धि एवं तत्सम, तद्भव से संबंधित वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे|

3. पारिभाषिक शब्द (प्रशासनिक शब्द), विलोम शब्द, पर्यायवाची शब्द, मुहावरे, कहावतें, प्रारूप लेखन, संक्षेपण, आधारित प्रश्न होंगे|

4. अपठित गद्यांश से संबंधित 5 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे। प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा|

अनुभाग (स) अंग्रेजी भाषा

परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम सामान्य अंग्रेजी निम्नानुसार होगा, जैसे-

1. वस्तुनिष्ठ प्रकार का प्रश्न पत्र एक अंक के प्रत्येक प्रश्न में अधिकतम 25 अंक ले जाएगा|

2. एप्लाइड व्याकरण जिसमें भाषण शब्दावली के भाग, सक्रिय निष्क्रिय, प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष भाषण, सेंटेन्स का परिवर्तनजैसे विषय शामिल हैं|

3. वाक्य पूर्ण होने के प्रश्न (रिक्त स्थान भरें) ये बहुविकल्पी की प्रकृति के होंगे|

4. रीडिंग कॉम्प्रिहेंशन (प्रत्येक अनदेखी पास पर आधारित) पर प्रश्न|

द्वितीय प्रश्नपत्र

मध्य प्रदेश राज्य अभियांत्रिकी विषय के प्रश्न-पत्र में मुख्य परीक्षा के लिए प्रथम और द्वितीय प्रश्नपत्र के पाठ्यक्रम से 50-50 प्रश्न पूछे जाएंगे|

यह भी पढ़ें- MP PV & FT प्रवेश परीक्षा, जानिए आवेदन, पात्रता, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

यदि उपरोक्त जानकारी से हमारे प्रिय पाठक संतुष्ट है, तो लेख को अपने Social Media पर LikeShare जरुर करें और अन्य अच्छी जानकारियों के लिए आप हमारे साथ Social Media द्वारा Facebook Page को Like, TwitterGoogle+ को Follow और YouTube Channel को Subscribe कर के जुड़ सकते है|

महत्वपूर्ण लिंक- MPPSC

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *