मध्यप्रदेश राज्य वन सेवा मुख्य परीक्षा

मध्यप्रदेश राज्य वन सेवा मुख्य परीक्षा का पैटर्न और सिलेबस

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) राज्य वनसेवा (MP SFS) परीक्षा का आयोजन करता है| परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होता है| इस लेख मे हम आपको इस परीक्षा के मुख्य पाठ्यक्रम और पैटर्न के बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं| लेकिन इच्छुक आवेदको को जानकारी होनी चाहिए की इस मुख्य राज्य वनसेवा परीक्षा में वही उम्मीदवार शिरकत सकेंगे|

जो मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) की शर्तों के अनुसार छानबीन (प्रारंभिक) परीक्षण में प्राप्त अंको के आधार पर अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए योग्य घोषित किया जाता है| अंतिम चयनसूची केवल मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार में प्राप्त अंको के आधार पर निर्मित की जायेगी| यदि इच्छुक आवेदक छानबीन परीक्षा के पैटर्न और सिलेबस की संपूर्ण जानकारी चाहते है, तो यहाँ पढ़ें- मध्य प्रदेश राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा का पैटर्न और सिलेबस

मुख्य परीक्षा

पैटर्न और योजना

लिखित परीक्षा के लिए कुल 400 अंक तथा साक्षात्कार हेतु कुल 50 अंक, कुल 450 अंक निर्धारण इस प्रकार रहेगा, जैसे-

परीक्षा  प्रमुख विषय  प्रश्न संख्या  अंक 
प्रथम प्रश्न-पत्र सामान्य अध्ययन, मध्य प्रदेश का सामान्य परिचय, प्रारम्भिक गणित, सामान्य हिन्दी, सामान्य अंग्रेजी आदि 100 200
द्वितीय प्रश्न-पत्र विज्ञान, प्रौद्योगिकी और पर्यावरण 100 200
साक्षात्कार 50
कुल 200 450

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश वन सेवा परीक्षा के लिए पात्रता मानदंड और आवेदन की प्रक्रिया

प्रश्न-पत्र योजना

1. प्रथम प्रश्न-पत्र

2. द्वितीय प्रश्न-पत्र

1. प्रथम प्रश्न-पत्र एवं द्वितीय प्रश्न-पत्र अनिवार्य विषय का होगा| समस्त प्रश्न वस्तुनिष्ठ (बहुविकल्प) प्रकार के होंगे| कुल 100 प्रश्न होंगें| प्रत्येक प्रश्न 02 अंक का होगा| इस प्रकार प्रत्येक प्रश्न-पत्र का पूर्णांक 200 होगा|

2. प्रत्येक प्रश्न के चार विकल्प (A,B,C,D) होंगें| प्रत्येक प्रश्न के चार संभावित उत्तर (A,B,C,D) में समूहीकृत किया जायेगा| जिसमें से केवल एक ही सही उत्तर होगा|

3. प्रश्न-पत्र की अवधि दो घंटे की होगी| प्रश्न-पत्र हिन्दी तथा अंग्रेजी दोनों भाषाओं में होगा|

लिखित परीक्षा में उत्तीर्णांक

1. लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण होने हेतु आवेदक को प्रत्येक प्रश्न-पत्र में 40 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा|

2. मध्य प्रदेश हेतु अधिसूचित अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के आवेदकों को जो मध्य प्रदेश के मूल निवासी है, लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण होने हेतु न्यूनतम 30 प्रतिशत अंक प्रत्येक प्रश्न-पत्र में प्राप्त करना अनिवार्य होगा|

3. परीक्षा में कोई ऋणात्मक मूल्यांकन नहीं होगा|

4. शारीरिक दक्षता परीक्षण में सफल परीक्षार्थी ही साक्षात्कार में सम्मिलित होंगें|

यह भी पढ़ें- MP SET प्रवेश परीक्षा, जानिए योग्यता, आवेदन, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

साक्षात्कार

1. लिखित परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर गुणानुक्रम में विभिन्न प्रवर्गों से भारी जाने वाली कुल रिक्तियों की संख्या के तीन गुना तथा समान अंक प्राप्त करने वाले आवेदक साक्षात्कार हेतु आमंत्रित किए जायेंगें|

2. साक्षात्कार हेतु कोई न्यूनतम उत्तीर्णांक नहीं होंगें|

चयन विधि- अंतिम चयन, लिखित परीक्षा तथा साक्षात्कार में कुल प्राप्त अंकों को जोड़कर प्राप्त अंकों के गुणानुक्रम के आधार पर घोषित किया जाएगा|

मुख्य परीक्षा का पाठ्यक्रम

मध्य प्रदेश वन सेवा मुख्य परीक्षा का सिलेबस इस प्रकार है, जैसे-

सामान्य अध्ययन (प्रथम प्रश्न-पत्र)

सामान्य विज्ञान एवं पर्यावरण- सामान्य विज्ञान एवं पर्यावरण पर प्रश्नों में दैनिक (रोजमर्रा) अवलोकन एवं अनुभव से सम्बन्धित प्रश्न जो किसी भी शिक्षित व्यक्ति द्वारा अपेक्षित है और जिन्होंने इन विषयों का विशेष अध्ययन नहीं किया हो, सम्मिलित होंगे|

राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाएँ- वर्तमान घटनाओं में प्रमुख राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के ज्ञान का परीक्षण किया जायेगा|

भारत का इतिहास एवं स्वतंत्र भारत- इतिहास में सामाजिक, आर्थिक एवं राजनैतिक पहलुओं से सम्बन्धित सामान्य ज्ञान के प्रश्न होंगे| राष्ट्रीय आन्दोलन एवं स्वतंत्र भारत के विकास के प्रश्न भी पूछे जाएंगे|

यह भी पढ़ें- MP BE प्रवेश, जानिए योग्यता, आवेदन, काउंसलिंग और कट ऑफ की प्रक्रिया

भारत का भूगोल

1. भौतिक, सामाजिक एवं आर्थिक भूगोल के सामान्य ज्ञान के प्रश्न होंगे| इसमें भारतीय कृषि एवं प्राकृतिक संसाधनों का समावेश होगा तथा भारतीय जनांकिकीय एवं जनगणना से सम्बन्धित प्रश्न होंगे|

2. विश्व की सामान्य भौगोलिक जानकारी|

भारतीय राजनीति एवं अर्थ व्यवस्था- इसमें देश की राजनैतिक व्यवस्था एवं संविधान, पंचायती राज, सामाजिक व्यवस्था, आर्थिक विकास, चुनाव, राजनीतिक दलों, योजनाएँ, औद्योगिक विकास, विदेशी व्यापार, आर्थिक एवं वित्तीय संस्थाओं पर प्रश्न होंगे|

खेलकूद- मध्यप्रदेश, भारत, एशिया एवं विश्व में खेले जाने वाले प्रमुख खेलकूद एवं खेल प्रतियोगिताओं पुरस्कारों तथा व्यक्तित्वों से सम्बन्धित प्रश्न होगे|

मध्यप्रदेश का भूगोल, इतिहास तथा संस्कृति- मध्यप्रदेश के भूगोल में पर्वतों के विकास, नदियां, जलवायु, वनस्पतियाँ, जीव जन्तु, खनिज, परिवहन से सम्बन्धित प्रश्न होगे| मध्यप्रदेश के इतिहास एवं संस्कृति में प्रसिद्ध राजवंशों का योगदान, जनजातियां, कला, स्थापत्य कला, ललित कलाओं एवं ऐतिहासिक व्यक्तियों पर भी प्रश्न होंगे|

मध्यप्रदेश की राजनीति एवं अर्थव्यवस्था- इसमें प्रदेश की राजनैतिक व्यवस्था, राजनीतिक दलों एवं चुनाव, पंचायतीराज, मध्यप्रदेश की सामाजिक व्यवस्था, आर्थिक विकास से संबंधतिध प्रश्न होंगे| इसमें उधोग योजनाए, आर्थिक कार्यक्रम, व्यापार, मध्यप्रदेष की जनांकिकीय एवं जनगणना पर प्रश्न भी समिमलित होंगे|

सामान्य मानसिक योग्यता- संख्यात्मक योग्यता, तर्क, कूट, आंकड़ों का विश्लेषण एवं निष्कर्ष तथा सभ्यता संबंधी प्रश्नों का समावेश होगा|

सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी- इसमें अभिलक्षण, प्रयोग और शब्दावलियों, जैसे वेबसाईट, आनलाईन सर्च इंजिन, ई-मेल, वीडियो मेल, चेटिंग, वीडियो कान्फ्रेन्स, हेकिंग , क्रेकिंग, वायरस और सायबर अपराध से सम्बन्धित प्रश्न सम्मिलित होंगे|

यह भी पढ़ें- MP MET प्रवेश परीक्षा, जानिए योग्यता, आवेदन, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

मध्यप्रदेश का सामान्य परिचय-

भूगोल- मध्यप्रदेश का सामान्य परिचय, क्षेत्र, भूस्वरूप एवं संरचना, भौतिक एवं भौगोलिक क्षेत्र तथा जलवायु|

मध्यप्रदेश के प्राकृतिक संसाधन-

1. खनिज संपदा

2. वन संपदा एवं वन जीवन

3. कृषि एवं पशुपालन, फसलों का क्षेत्रीय वितरण, कृषि का योजनाबद्ध विकास, हरित क्रांति, पशुधन का विकास|

4. जल संसाधन- सिंचाई का विकास एवं सिंचाई परियोजनाएँ|

मानव संसाधन- जनसंख्या, जनसंख्या घनत्व, शहरी एवं ग्रामीण जन संख्या, साक्षरता एवं श्रमशक्ति|

उर्जा संसाधन- इसमें परंपरागत एवं अपरंपरागत उर्जा के संसाधन तथा उनके मानवीय जीवन में उपयोग से संबंधित प्रश्न होंगे|

उद्योग- इसमें प्रदेश के उद्योगों के प्रकार एवं आकार तथा उनके राज्य की अर्थ व्यवस्था पर प्रभाव से संबंधित प्रश्न होंगे|

पर्यावरण- पर्यावरण एवं उनके संरक्षण, प्रदूषण, प्राकृतिक आपदा तथा इनका मानवीय जीवन की गुणवत्ता पर होने वाले प्रभावों से संबंधित प्रश्न होंगे|

यह भी पढ़ें- MP PET प्रवेश परीक्षा, जानिए आवेदन, पात्रता, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

योजनाएं एवं मूल्यांकन- इसमें पंचवर्षीय योजनाओं के अभी तक के विभिन्न पहलूओं, विभिन्न कार्यक्रमों जो शहरी एवं ग्रामीण विकास के सबंध में तथा आर्थिक योजनाओं के मूल्यांकन तथा देश के परिप्रेक्ष्य में मध्यप्रदेश की सापेक्षित स्थिति से संबंधित प्रश्न होंगे|

मध्यप्रदेश की प्रशासनिक संरचना- इसमें मध्यप्रदेश की विभिन्न प्रशासनिक इकाइयों जैसे संभाग, जिला, तहसील एवं विकास खण्डों का आपसी संबंध एवं प्रशासनिक संरचना से संबंधित अभ्यार्थियों के ज्ञान का परीक्षण करना रहेगा|

ग्रामीण एवं शहरी प्रशासनिक संरचना- पंचायती राज, नगर पालिका एवं नगर निगम की संरचना एवं प्रशासनिक ढांचे से संबंधित सामान्य ज्ञान के प्रश्न अभ्यार्थियों से पूछे जायेंगें|

खेलकूद विविध- खेलकूद के लिये संगठन, प्रबंधन एवं सुविधाओं से संबंधित अभ्यार्थियों की जागरूकता का परीक्षण करना होगा| इसमें मध्यप्रदेश के राजकीय पुरस्कारों, व्यक्तित्वों एवं शासकीय तथा अशासकीय संगठनों के योगदान से संबंधित प्रश्न होंगे|

मध्यप्रदेश की संस्कृति , साहित्य, संगीत , नृत्य ,कला एवं इतिहास

मध्यप्रदेश की संस्कृति- प्रकृति, प्रकार एवं मुख्य-मुख्य बातें तथा मानव जीवन पर उनके प्रभाव से संबंधित प्रश्न होंगे|

साहित्य-

1. प्राचीन- कालिदास ,भृतहरि, भवभूति व बाणभट्ट|

2. मध्यकालीन- केशव पद्माकर ,भूषण|

3. आधुनिक- पं. माखनलाल चतुर्वेदी, सुभद्राकुमारी चैहान, गजानन माधव मुक्तिबोध, बालकृष्ण शर्मा, “नवीन” भवनीप्रसाद मिश्र, हरिशंकर परसाई, शरद जोशी, मूल्लारामोजी, डा. शिवमंगल सिंह सुमन तथा नंद दुलारे बाजपेयी|

4. लोक साहित्य- मध्यप्रदेश की बोलियां ईसूरी तथा सिंगाजी|

यह भी पढ़ें- MP D.EL.Ed में प्रवेश कैसे लें, जानिए आवेदन, पात्रता और परिणाम की प्रक्रिया

संगीत एवं नत्य परम्परा

1. संगीत परम्परा- तानसेन, उस्ताद अलाउदीन खॉ, उस्ताद हाफिज अली खाँ, पंडित किशनराव, शंकर पंडित, राजाभैया पूछवाले,उस्ताद अमीर खॉ , कुमार गंधर्व, महाराज चक्रधरसिंह, पंडित कार्तिकराम|

2. नृत्य परम्परा- लोक संगीत की प्रमुख शैलिया, प्रमुख लोक नृत्य|

कलायें- सामान्य प्रवृत्ति के प्रश्नों में भित्ति चित्रकला, लोक चित्रकला, आधुनिक चित्रकला के घराने एवं प्रमुख चित्रकार शामिल होंगे| इसमें प्रमुख लोक कलाओं एवं अन्य विभिन्न रंगमचो से संबंधित प्रश्न भी होंगे|

प्रमुख अनुसूचित जनजाति- प्रमुख अनुसूचित जन जातियों के नाम, अभिलक्षण, अधिवास, मुख्य मेले एवं तीज त्यौहार तथा सांस्कृतिक संरचना से संबंधित सामान्य ज्ञान के मूल्यांकन के लिये प्रश्न पूछे जायेंगे| इसमें म.प्र. शासन के द्वारा अनुसूचित जनजातियों के उत्थान से सबंधित कार्यक्रमों पर भी प्रश्न होंगे|

संस्कृति के क्षेत्र में म.प्र. शासन के कार्यक्रम- अभ्यार्थियों से साहित्यिक अकादमियों एवं संस्थानों से संबंधित सामान्य ज्ञान के मूल्यांकन के लिये प्रश्न पूछे जायेंगे| संगीत तथा चित्रकला के विविध घराने से संबंधित तथा संस्कृति मेलों से संबंधित प्रश्न होंगे| साहित्य ,संगीत एवं ललितकलाओं में प्रमुख योगदान के लिये शासन द्वारा दिये जाने वाले विभिन्न पुरूस्कारों से संबंधित प्रश्न होंगे|

पुरातात्विक विरासत- प्रमुख ऐतिहासिक, पुरातात्विक एवं पर्यटन स्थानों से संबंधित सामान्य ज्ञान के प्रश्न होंगे|

मध्यप्रदेश की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि- मध्यप्रदेश का गठन, मध्यप्रदेश के प्रमुख राजवंशों एवं शासकों पर प्रश्न होंगे| इसमें स्वतंत्रता आन्दोलन में मध्यप्रदेश के योगदान पर भी प्रश्न होंगे|

यह भी पढ़ें- MP PV & FT प्रवेश परीक्षा, जानिए आवेदन, पात्रता, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

सामान्य अंग्रेजी

परीक्षा का सिलेबस सामान्य अंग्रेजी के अनुसार होगा, वस्तुनिष्ठ प्रकार का प्रश्न पत्र अधिकतम दो अंकों के प्रत्येक प्रश्न को 40 अंक तक ले जाएगा|

भाग 1- एप्लाइड व्याकरण विषय, भाषण शब्दावली के भागों की तरह, सक्रिय निष्क्रिय, प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष भाषण, वाक्य का परिवर्तन (प्रत्येक के 2 अंक के 10 प्रश्न)|

भाग 2- वाक्य पूर्ण होने के प्रश्न (रिक्त स्थान भरें) ये बहुविकल्पी की प्रकृति के होंगे (प्रत्येक के 2 अंक के 5 प्रश्न)|

भाग 3- पढ़ने की समझ पर प्रश्न (अनदेखी के आधार पर 2 में से प्रत्येक के 5 प्रश्न)|

सामान्य हिन्दी

मध्यप्रदेश राज्य वन सेवा मुख्य परीक्षा के लिए सामान्य हिन्दी विषयक पाठ्यक्रम इस प्रकार होगा, जैसे-

वस्तुनिष्ठ प्रकार का प्रश्न पत्र 40 अंकों का होगा, जिसमें 20 वस्तुनिष्ठ प्रश्न रहेंगे| प्रत्येक वस्तुनिष्ठ प्रश्न 2 अंक का होगा|

भाग 1- व्याकरण संबंधी वस्तुनिष्ठ प्रश्न जिसमें संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, संधि, समास, कारक, आधारित 5 प्रश्न पूछे जायेंगे| प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा|

भाग 2- वाक्य संरचना, वाक्य के प्रकार, वाक्यगत अशुद्धि, शब्दगत अशुद्धि एवं तत्सम, तद्भव से संबंधित 5 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे| प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा|

भाग 3- पारिभाषिक शब्द (प्रशासनिक शब्द), विलोम शब्द, पर्यायवाची शब्द, मुहावरे, कहावतें, प्रारूप लेखन, संक्षेपण, आधारित 5 प्रश्न होंगे| प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा|

भाग 4- अपठित गद्यांश से संबंधित 5 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे| प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा|

प्राथमिक गणित- अंकगणित, बीजगणित, ज्यामिति, त्रिकोणमिति आदि से प्रश्न होंगे|

यह भी पढ़ें- MP PAHUNT प्रवेश प्रक्रिया, जानिए आवेदन, पात्रता, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

द्वितीय – प्रश्न पत्र

विषय- विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं पर्यावरण

रसायन विज्ञान

रासायनिक अभिक्रिया की दर एवं रासायनिक साम्य- रासायनिक अभिक्रिया की दर का प्रारंभिक ज्ञान, तीव्र एवं मंद रासायनिक अभिक्रियाए, रासायनिक उत्क्रमणीय एवं अनुत्कमणीय रासायनिक अभिक्रियाए रासायनिक साम्य गतिक प्रकृति, अम्ल एवं क्षार पीएच पैमाना (सरल आंकिक प्रश्न) उष्माक्षेपी एवं उष्माशोषी अभिक्रियाएँ|

कुछ महत्वपूर्ण रासायनिक यौगिक- गुण एवं उपयोग, बनाने की विधि, उत्पादन (जल, कपडे धोने का सोडा, खाने का सोडा, विरंजकचूर्ण एवं प्लास्टर ऑफ पेरिस) भवन निर्माण संबंधी कुछ पदार्थो का निर्माण-चूना, सीमेंट, कांच एवं इस्पात|

धातुएं- आवर्त सारिणी में धातुओं की स्थिति एवं सामान्य गुण, धातु, खनिज अयस्क, खनिज एवं अयस्क में अंतर|

धातकर्म- अयस्कों का सांद्रण, निस्तापन, भर्जन प्रगलन एवं शोधन, कॉपर एवं आयरन का धातुकर्म, धातुओं का संक्षारण, मिश्र धातुएं|

अधातुए- आवर्त सारणी में अधातुओं की स्थिति एवं सामान्य गुण, हाइड्रोन, नाइट्रोजन एवं ऑक्सीजन की प्रयोगशाला विधि गुण एवं उपयोग कुछ महत्वपूर्ण कार्बनिक यौगिक- ऐल्कोहल एवं एसिटिक अम्ल बनाने की प्रयोगशाला विधि, गुण एवं उपयोग कुछ सामान्य कृत्रित बहुलक, पॉलीथीन, पाली विनाइल क्लोराइड, टेफ्लान, साबुन एवं अपमार्जक|

यह भी पढ़ें- MP PET प्रवेश परीक्षा, जानिए आवेदन, पात्रता, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

भौतिक विज्ञान

ऊर्जा के स्त्रोत- ऊर्जा के नवीन स्त्रोत एवं पारम्परिक स्त्रोत, सौर ऊर्जा का स्त्रोत, सूर्य में ऊर्जा उत्पत्ति के कारण सौर तापन युक्तियां, सोलर कुकर, सोलन सेल, पवन ऊर्जा, जल ऊर्जा, बायोगेस, जीवाश्म ईधन, आदर्श ईधन, आदर्श ईधन के गणधर्म, नाभिकीय ऊर्जा, नाभिकीय विखंडन, संलयन श्रृखंला अभिक्रिया, नाभिकीय रियक्टर, नाभिकीय ऊर्जा के लाभ व हानियां|

प्रकाश- प्रकाश की प्रकृति, प्रकाश का परावर्तन, परावर्तन के नियम, समतल एवं वक्र सतह से परावर्तन, समतल, उत्तल एवं अवतल दर्पण द्वारा प्रतिबिम्ब रचना, फोकस दूरी तथा वक्रता त्रिज्या में संबंध, एक पिन विधि द्वारा अवतल दर्पण की फोकस दूरी ज्ञात करना, यू-वी-एफ़ में संबंध|

प्रकाश का अपवर्तन- अपवर्तन के नियम, कांच के गुटके द्वारा अपवर्तन, क्रांतिक कोण, पूर्ण आंतरिक परावर्तन, पूर्ण आंतरिक परावर्तन का दैनिक जीवन में उपयोग, लैंस (अभिसारी एवं अपसारी लैंस) परिभाषा, फोकस दूरी, प्रकाशित केन्द्र, लैंस द्वारा प्रतिबिम्ब रचना, मानव नेत्र इसके दोष एवं निराकरण तथा फोटो ग्राफिक कैमरे और मानव नेत्र में तुलना, सरल सूक्ष्मदर्शी तथा खगोलीय दूरदर्शी, बनावट, उपयोग, कार्यविधि, किरण आरेख (सूत्र की स्थापना नही)|

विद्युत और इसके प्रभाव- विद्युत तीव्रता, विभव-विभवांतर, विद्युत धारा, ओहह्म का नियम, प्रतिरोध, विशिष्ट प्रतिरोध, प्रभावित करने वाले कारक, प्रतिरोधों का संयोजन एवं इसके आंकिक प्रश्न, विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव, इसकी उपयोगिता, शक्ति एवं विद्युत ऊर्जा व्यय की गणना (आंकिक) विद्युत प्रयोग में रखी जाने वाली सावधानियां, विद्युत धारा का रासायनिक प्रभाव, प्राथमिक, द्वितीयक सेल, इनके गुण-दोष लेकलांशी सेल, शुष्क सेल, सीसा संचायक सेल बनावट|

यह भी पढ़ें- MP Pre MCA प्रवेश परीक्षा, जानिए आवेदन, पात्रता, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

विद्युत धारा के चुम्बकीय प्रभाव- विद्युत धारा के चुम्बकीय प्रभाव, ओस्टेड का प्रयोग, विद्युत चुम्बकीय प्रेरण, विदयुत मोटर जनित्र की कार्यप्रणाली, सिद्धांत एवं उपयोग, प्रत्यावर्ती धारा एवं दिष्ट धारा का सामान्य अध्ययन। गैसों में विद्युत विसर्जन, विसर्जन नलिका, कैथोड किरणे, एक्स-किरणे एवं इनके गुणधर्म|

चुम्बकत्व- चुम्बक एवं इसके प्रकार, कृत्रिम चुम्बक, चुम्बक बनाने की विधियां, चुम्बकत्व का आणविक सिद्धांत, चुम्बकीय विनाश, चुम्बकीय रक्षक, चुम्बकीय बल रेखाएं व उनके गुण तथा बल रेखाएं खींचना| भूचुम्बकत्व-भू-चुम्बकत्व, चुम्बकीय तूफान, चुम्बकीय एवं भौगौलिक याम्योत्तर वी एच आई एवं 0 में संबंध|

जीव विज्ञान

जन्तुपोषण, श्वसन, उत्सर्जन, नियंत्रण और समन्वय, प्रजनन और वृद्धि, आनुवंशिकता और विकास आदि प्रमुख टोपिक से प्रश्न होंगे|

प्रौद्योगिकी

विज्ञान और प्रौद्योगिकी की राष्ट्रीय नीति और समय-समय पर नीति में बदलाव, ग्रामीण भारत में सूचना प्रौद्योगिकी की भूमिका, ऊर्जा संसाधन, भारत में वर्तमान विज्ञान और प्रौद्योगिकी विकास आदि प्रमुख टोपिक से प्रश्न होंगे|

पर्यावरण

जैव-विविधता और उसका संरक्षण, पर्यावरण प्रदूषण, ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, आपदा प्रबंधन, विभिन्न देशों में जनसंख्या में भिन्नता आदि प्रमुख टोपिक से प्रश्न होंगे|

यह भी पढ़ें- एमपी टीईटी परीक्षा (MP TET Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

यदि उपरोक्त जानकारी से हमारे प्रिय पाठक संतुष्ट है, तो लेख को अपने Social Media पर LikeShare जरुर करें और अन्य अच्छी जानकारियों के लिए आप हमारे साथ Social Media द्वारा Facebook Page को Like, TwitterGoogle+ को Follow और YouTube Channel को Subscribe कर के जुड़ सकते है|

महत्वपूर्ण लिंक- MPPSC

1 thought on “मध्यप्रदेश राज्य वन सेवा मुख्य परीक्षा का पैटर्न और सिलेबस”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *