बिहार यूजीएमएसी

बिहार यूजीएमएसी, पात्रता मानदंड, आवेदन और काउंसलिंग

बिहार यूजीएमएसी अर्थात अंडर ग्रेजुएट मेडिकल एडमिशन काउंसलिंग (UGMAC) जिसका आयोजन बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगी परीक्षा बोर्ड (BCECEB), पटना द्वारा प्रति वर्ष किया जाता है| बिहार यूजीएमएसी (Bihar UGMAC) के माध्यम से योग्य अभ्यर्थियों को राज्य कोटा की सीटों पर विभिन्न मेडिकल पाठ्यक्रमों (MBBS / BDS / BAMS / BHMS / BUMS / BV.Sc & AH) में प्रवेश दिया जाता है| बिहार में मेडिकल प्रवेश केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, नई दिल्ली द्वारा आयोजित राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET-UG) में प्राप्त उम्मीदवारों की मेरिट-सूची / रैंक-सूची के अनुसार प्रदान किया जाता है|

जिन उम्मीदवारों ने NEET-UG परीक्षा उत्तीर्ण की है, वे बिहार यूजीएमएसी (Bihar UGMAC) के लिए आवेदन कर सकते हैं| इस लेख में बिहार यूजीएमएसी में शामिल होने वाले इच्छुक उम्मीदवार की जानकारी के लिए पात्रता मानदंड, आवेदन कैसे करें और काउंसलिंग आदि की पूरी प्रक्रिया का उल्लेख किया गया है| इसलिए प्रवेश की पूरी जानकारी के लिए उम्मीदवारों को निचे पूरा लेख पढ़ने की सलाह दी जाती है|

महत्वपूर्ण बिंदु 

प्रवेश का माध्यम अंडर ग्रेजुएट मेडिकल एडमिशन काउंसलिंग (UGMAC)
संचालन निकाय बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगी परीक्षा बोर्ड (BCECEB)
पाठ्यक्रम की पेशकश MBBS / BDS / BAMS / BHMS / BUMS / BV.Sc & AH
प्रवेश की आवृति वार्षिक
आवेदन का तरीका ऑनलाइन
योग्यता मानदंड NEET-UG
उदेश्य राज्य की मेडिकल कोटा सीटों पर योग्य अभ्यर्थियों को प्रवेश देना
आधिकारिक वेबसाइट bceceboard.bihar.gov.in

महत्वपूर्ण तिथियां

उम्मीदवारों को बिहार अंडर ग्रेजुएट मेडिकल एडमिशन काउंसलिंग (UGMAC) की महत्वपूर्ण तारीखों के बारे में जानना आवश्यक है, ताकि कोई महत्वपूर्ण आवेदन या काउंसलिंग तिथि न छूटे| इसके लिए उम्मीदवारों को हमारा सुझाव है की उनको बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगी परीक्षा बोर्ड (BCECEB) की अधिकारिक वेबसाइट (bceceboard.bihar.gov.in) का अवलोकन करते रहना चाहिए| ताकि स्वयं नयी सूचना से अवगत होते रहें|

पात्रता मापदंड

बिहार यूजीएमएसी (Bihar UGMAC) के लिए उम्मीदवारों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे बीसीईसीई बोर्ड द्वारा निर्धारित आवश्यक पात्रता शर्तों को पूरा करते हैं| निजी और सरकारी कॉलेजों में प्रवेश के लिए आवश्यक पात्रता मानदंड हैं| इस प्रकार है, जैसे-

सरकारी संस्था-

सरकारी कॉलेजों में एमबीबीएस / बीडीएस / बीएएमएस / बीएचएमएस / बीयूएमएस प्रवेश हेतु-

राष्ट्रीयता- उम्मीदवार को भारतीय राष्ट्रीय होना चाहिए और 85% राज्य कोटे की सीटों के के लिए बिहार का निवासी होना चाहिए|

आयु सीमा- बिहार यूजीएमएसी के लिए इच्छुक उम्मीदवार की आयु न्यूनतम 17 वर्ष होनी चाहिए|

शैक्षणिक योग्यता

1. आवेदक ने सीबीएसई / काउंसिल ऑफ द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन / स्टेट बोर्ड्स द्वारा विषयों यानी फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी / बायोटेक्नोलॉजी और इंग्लिश में आयोजित 10+2 स्ट्रीम के तहत कक्षा 12 वीं की परीक्षा पास की होनी चाहिए|

2. केवल उन उम्मीदवारों को, जिन्होंने बिहार में कक्षा 11 वीं और 12 वीं की पढ़ाई की है, उन्हें काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग लेने की अनुमति है|

3. आवेदक को फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी / बायोटेक्नोलॉजी में जनरल के लिए न्यूनतम 50% अंक (एससी / एसटी / ओबीसी के लिए 40% अंक) और (जनरल-पीडब्ल्यूडी श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 45%) प्राप्त करने चाहिए|

4. एक उम्मीदवार को न्यूनतम (सामान्य उम्मीदवारों के लिए 50 प्रतिशत ), (यूआर-पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों के लिए 45 प्रतिशत), (एससी, एसटी, ओबीसी, एससी-पीडब्ल्यूडी, एसटी-पीडब्ल्यूडी और ओबीसी-पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों के लिए 40 प्रतिशत) के साथ NEET-UG परीक्षा में अर्हता प्राप्त करनी चाहिए|

निजी संस्था-

निजी कॉलेजों में एमबीबीएस / बीडीएस प्रवेश हेतु-

राष्ट्रीयता- उम्मीदवार को भारत का निवासी होना चाहिए|

आयु सीमा- बिहार यूजीएमएसी के इच्छुक उम्मीदवारों की आयु बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय (बीएएसयू), पटना में प्रवेश के लिए 31 अगस्त को 16 वर्ष होनी चाहिए और कोई अधिकतम आयु मानदंड नहीं हैं|

शैक्षणिक योग्यता- आवेदक ने सीबीएसई / काउंसिल ऑफ द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन / स्टेट बोर्ड्स द्वारा विषयों यानी फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी / बायोटेक्नोलॉजी और इंग्लिश में आयोजित 10+2 स्ट्रीम के तहत कक्षा 12 वीं की परीक्षा पास की होनी चाहिए|

सीट आरक्षण- विभिन्न श्रेणियों से संबंधित उम्मीदवारों के लिए आरक्षण निम्नानुसार हैं, जैसे-

श्रेणी  आरक्षण (प्रतिशत में)
अत्यंत पिछड़ा वर्ग (EBC) 18 %
अनुसूचित जाति (SC) 16 %
अनुसूचित जनजाति (ST) 01 %
पिछड़ा वर्ग (BC) 12 %
आरक्षित श्रेणी की लड़कियाँ (RCG) 03 %

नोट- राज्य कोटे की 50% सीटों को बचाकर अनारक्षित श्रेणी के लिए माना जाना चाहिए|

आवेदन कैसे करें

बिहार यूजीएमएसी आवेदन पत्र अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर अनुसूची के अनुसार उपलब्ध होगा| आवेदन के इच्छुक उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे आवेदन करने से पहले पात्रता मानदंडों और विवरणिका की जांच करें| आवेदन के चरण इस प्रकार है, जैसे-

पंजीकरण-

1. बिहार यूजीएमएसी (Bihar UGMAC) के लिए पंजीकरण करने हेतु एक उम्मीदवार को BCECEB की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|

2. उसे एक वैध ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर का उपयोग करके पंजीकरण करना होगा|

3. एक ‘एक्टिवेशन कोड’ पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर भेजा जाएगा|

4. खाता सक्रिय करने के लिए इस कोड का उपयोग करें और आवेदन पत्र भरने के लिए आगे बढ़ें|

5. पंजीकरण के लिए उपयोग की जाने वाली ईमेल आईडी खाते के लिए उपयोगकर्ता आईडी होगी|

6. उम्मीदवार को भविष्य में उपयोग के लिए पासवर्ड को नोट करना होगा|

व्यक्तिगत जानकारी-

1. इस अनुभाग में उम्मीदवार को विवरण भरना होगा जैसे कि पिता का नाम, माता का नाम, संपर्क विवरण इत्यादि|

2. प्रत्येक चरण को पूरा करने के बाद उम्मीदवारों को एक प्रारूप के रूप में आवेदन पत्र को बचाने की सलाह दी जाती है|

अपलोड करना-

1. पासपोर्ट आकार की तस्वीर (उम्मीदवार की तस्वीर के साथ नाम की एक तख्ती होनी चाहिए)|

2. उम्मीदवार के हस्ताक्षर (पूरा नाम बड़े अक्षरों में नहीं होना चाहिए)|

शैक्षणिक विवरण- इस अनुभाग को कुशलतापूर्वक भरने के लिए उम्मीदवारों को कक्षा 10 से 12 तक की मार्कशीट तैयार रखने की सलाह दी जाती है| उन्हें उस संस्थान का विवरण प्रदान करने की आवश्यकता है जिससे उन्होंने कक्षा 10 से 12 तक उत्तीर्ण की है, अंक / प्रतिशत प्राप्त किए हैं आदि|

पूर्वावलोकन करें- यह महत्वपूर्ण है कि उम्मीदवार द्वारा यूजीएमएसी परामर्श आवेदन पत्र में दी गई जानकारी सही है| इस प्रकार उम्मीदवारों को आवेदन प्रक्रिया में अगले चरण पर आगे बढ़ने से पहले सभी क्षेत्रों की अच्छी तरह से जांच करनी चाहिए|

शुल्क का भुगतान- बिहार यूजीएमएसी प्रक्रिया में भाग लेने के लिए एक उम्मीदवार को काउंसलिंग शुल्क का भुगतान करना होगा| यह शुल्क किसी भी परिस्थिति में वापस नहीं किया जाएगा| उम्मीदवार ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों मोड में शुल्क का भुगतान कर सकते हैं| अधिक विवरण के लिए नीचे दिए गए भुगतान के तरीके देखें, जैसे-

बैंक चालान के माध्यम से भुगतान- इस विकल्प का चयन करने से उम्मीदवार अंतिम तिथि से पहले किसी भी शाखा में परामर्श शुल्क जमा कर सकेंगे| उम्मीदवार को काउंसलिंग शुल्क के साथ बैंक चालान प्रिंट करना होगा और जमा करना होगा|
भुगतान स्थिति 24 घंटे के भीतर ऑनलाइन अपडेट की जाएगी|

ऑनलाइन भुगतान- यदि कोई उम्मीदवार इस विकल्प को चुनता है, तो वह क्रेडिट कार्ड / डेबिट कार्ड / नेट बैंकिंग का उपयोग करके परामर्श शुल्क का भुगतान कर सकता है|

डाउनलोड और प्रिंट करें- यह आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है| आवेदन फॉर्म को पूरा करने के बाद, उम्मीदवार को भविष्य के उपयोग के लिए भरे हुए आवेदन को सहेजना और प्रिंट करना चाहिए|

काउंसलिंग प्रक्रिया

बिहार यूजीएमएसी (Bihar UGMAC) प्रवेश के इच्छुक उम्मीदवारों को प्रवेश प्रक्रिया पर विशेष ध्यान देना चाहिए| जो इस प्रकार है,जैसे-

मेरिट सूची

NEET-UG प्रवेश परीक्षा में उम्मीदवार के स्कोर के आधार पर, बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगी परीक्षा बोर्ड उन्हें मेरिट सूची के आधार पर शॉर्टलिस्ट करेगा| कुल सीटों में से योग्य उम्मीदवार राज्य में स्थित सरकारी मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में 85% राज्य कोटे की सीटों पर प्रवेश ले सकते हैं| बिहार यूजीएमएसी मेरिट लिस्ट में उम्मीदवारों से संबंधित जानकारी जैसे उनका नाम, रोल नंबर, ऑल इंडिया रैंक, स्टेट रैंक, जन्म की तारीख और कुल प्रतिशत आदि शामिल है|

विकल्प भरना

बिहार यूजीएमएसी (Bihar UGMAC) का अगला चरण च्वाइस फिलिंग है| जिन उम्मीदवारों ने बिहार एनईईटी के लिए पंजीकरण किया है, उन्हें अपने पंजीकृत खातों में प्रवेश करना होगा और प्रदान की गई सूची से वांछित पाठ्यक्रम / कॉलेज का चयन करना होगा| उन्हें विंडो बंद होने तक उम्मीदवार की इच्छा के अनुसार संपादित या संशोधित किया जा सकता है| बीसीईसीईबी इन विकल्पों और उम्मीदवारों की योग्यता के आधार पर बिहार एनईईटी काउंसलिंग के लिए सीट आवंटन सूची तैयार करेगा|

सीट आवंटन सूची

बीसीईसीईबी पसंद भरने से पहले एक मॉक सीट आवंटन सूची जारी करेगा| यह आवेदकों को एक विचार देगा कि उनके द्वारा भरे गए विकल्पों के आधार पर किस कॉलेज / पाठ्यक्रम को उन्हें आवंटित किया जाएगा| च्वाइस फिलिंग विंडो बंद होने के बाद ही, बीसीईसीईबी बिहार यूजीएमएसी के लिए अंतिम सीट आवंटन सूची जारी करेगा|

स्लॉट बुकिंग

बिहार यूजीएमएसी में सीट आवंटित करने वालों के लिए दस्तावेजों के सत्यापन के लिए स्लॉट बुकिंग की जाती है और इसे जारी रखना चाहते हैं| स्लॉट की बुकिंग ऑनलाइन करनी होगी| बिहार काउंसलिंग में भाग लेने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची, इस प्रकार है, जैसे-

1. नीट यूजी एडमिट कार्ड

2. नीट यूजी का परिणाम / स्कोरकार्ड

3. कक्षा 10 या समकक्ष परीक्षा का प्रमाण पत्र / मार्कशीट / एडमिट कार्ड

4. कक्षा 12 या समकक्ष परीक्षा का प्रमाण पत्र / मार्कशीट / एडमिट कार्ड

5. आवासीय प्रमाण पत्र

6. जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)

7. पासपोर्ट आकार की तस्वीरों की छह प्रतियां (जो की एडमिट कार्ड पर चिपकाई गई)

8. बिहार यूजीएमएसी (Bihar UGMAC) आवेदन पत्र

9. अपना आधार कार्ड

10. विकलांगता प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)|

यह भी पढ़ें-

बिहार में पटवारी कैसे बने

बिहार पुलिस अधीनस्थ सेवा आयोग भर्ती

बिहार में पुलिस सब इंस्पेक्टर कैसे बने

बिहार में आबकारी सब इंस्पेक्टर कैसे बने

बिहार में प्रवर्तन सब इंस्पेक्टर कैसे बने

बिहार में स्टेनो सहायक उप निरीक्षक कैसे बने

बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी कैसे बने

बिहार पुलिस में कांस्टेबल कैसे बने

बिहार में सहायक जेल अधीक्षक कैसे बने

महत्वपूर्ण लिंक- ugmac

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *