बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी कैसे बने

बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी कैसे बने, जाने पूरी प्रक्रिया

बिहार में वन रेंजर अधिकारी भर्ती (Bihar Forest Ranger Officer Recruitment) का आयोजन बिहार पुलिस अधीनस्थ सेवा आयोग (BPSSC) द्वारा राज्य में रिक्त पदों के आधार पर किया जाता है| बिहार पुलिस अधीनस्थ सेवा आयोग (BPSSSC) वन रेंज पदों की भर्ती के लिए एक अधिसूचना जारी करता है| उसके बाद आवेदन की प्रक्रिया शुरू की जाती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं|

लेकिन भर्ती के इच्छुक उम्मीदवारों को आवेदन से पहले पात्रता मानदंड की जाँच कर लेनी चाहिए| बोर्ड तीन चरणों में बिहार में वन रेंजर अधिकारी भर्ती चयन प्रक्रिया का आयोजन करेगा पहले चरण में एक लिखित परीक्षा है, जिसके बाद अगले चरण में साक्षात्कार और अंत में शारीरिक दक्षता परीक्षा और शारीरिक मानक परीक्षण होगा|

बोर्ड इन तीनों दौरों का संचालन करता है ताकि उम्मीदवार की मानसिक और शारीरिक फिटनेस का विश्लेषण किया जा सके| इस पद के लिए चयनित होने के लिए उम्मीदवारों को शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होना चाहिए| इसलिए उम्मीदवारों को बिहार वन रेंजर अधिकारी भर्ती के लिए पहले से तैयारी करने की आवश्यकता है|

इस लेख में बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी भर्ती के इच्छुक उम्मीदवारों की जानकारी के लिए पात्रता मानदंड, आवेदन कैसे करे, परीक्षा पैटर्न और सिलेबस, शारीरिक मानदंड, प्रवेश पत्र, परिणाम और भर्ती की पूरी प्रक्रिया आदि का उल्लेख किया गया है| इसलिए भर्ती के इच्छुक उम्मीदवारों को निचे पूरा लेख पढ़ने की सलाह दी जाती है|

महत्वपूर्ण बिंदु 

भर्ती का पद  बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी
संचालन निकाय  बिहार पुलिस अधीनस्थ सेवा आयोग (BPSSC)
परीक्षा की आवृति रिक्ति आधारित
चयन प्रक्रिया लिखित परीक्षा, साक्षात्कार, शारीरिक दक्षता / शारीरिक मानक परीक्षण
परीक्षा का स्तर राज्य स्तरीय
आवेदन का तरीका ऑनलाइन
परीक्षा का तरीका लिखित (पेन पेपर आधारित)
नौकरी की श्रेणी सरकारी
भर्ती का उदेश्य बिहार राज्य में वन क्षेत्रपाल अधिकारी के रिक्त पदों को भरना
आधिकारिक वेबसाइट bpssc.bih.nic.in

महत्वपूर्ण तिथियां

उम्मीदवारों को बिहार में वन रेंजर अधिकारी भर्ती (Bihar Forest Ranger Officer Recruitment) की महत्वपूर्ण तारीखों के बारे में जानना आवश्यक है, ताकि कोई महत्वपूर्ण आवेदन या परिणाम तिथि न छूटे| इसके लिए उम्मीदवारों को हमारा सुझाव है की उनको बिहार पुलिस अधीनस्थ सेवा आयोग (BPSSC) की अधिकारिक वेबसाइट (csbc.bih.nic.in) और रोजगार समाचार पत्रों का अवलोकन करते रहना चाहिए| ताकि स्वयं नयी सूचना से अवगत होते रहें|

पात्रता मानदंड 

बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी भर्ती के लिए पात्रता मानदंड बिहार पुलिस अधीनस्थ सेवा आयोग (BPSSC) द्वारा निर्धारित किये जाते है| जिनको एक आवेदक के लिए पूरा करना आवश्यक है| जो इस प्रकार है, जैसे-

नागरिकता- बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी भर्ती के लिए उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए|

आयु सीमा 

सीधी भर्ती हेतु-

जन्म तिथि DD/MM/YYYY के प्रारूप में होनी चाहिए| यह 10th/SSC/मैट्रिक्यूलेशन सर्टिफिकेट के अनुसार होनी चाहिए| आवेदक की आयु निम्न तालिका के अनुसार होनी चाहिए, जैसे-

श्रेणी  पुरुष  महिला 
  न्यूनतम अधिकतम न्यूनतम अधिकतम
सामान्य (General) 21  42 21  45
आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग (EWS) 21  42  21  45 
बीसी / ईबीसी (BC/EBC) 21  45  21  45 
एससी/एसटी (SC/ST) 21  47 21  47 
(नोट- आवेदक, जो बिहार राज्य के निवासी नहीं हैं, को सामान्य के रूप में वर्ग का चयन करना होगा)
भूतपूर्व सैनिक हेतु-

जन्म तिथि_DD/MM/YYYY के प्रारूप में होनी चाहिए और यह पीपीओ / रक्षा सेवाओं के दस्तावेज के अनुसार होनी चाहिए| पूर्व सैनिकों की अधिकतम आयु निम्न मानदंडों के अनुसार होनी चाहिए, जैसे-

श्रेणी  पुरुष  महिला  दोनों पुरुष & महिला
  अधिकतम आयु अधिकतम आयु अधिकतम आयु सीमा
सामान्य (General) 37 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 40 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 57 साल
आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग (EWS) 37 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 40 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 57 साल
बीसी / ईबीसी (BC/EBC) 40 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 40 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 57 साल
एससी/एसटी (SC/ST) 42 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 42 वर्ष+सेवा के वर्ष +3 वर्ष 57 साल
(नोट- आवेदक, जो बिहार राज्य के निवासी नहीं हैं, को सामान्य के रूप में वर्ग का चयन करना होगा)

1. आवेदक PPO संख्या : आवेदक को अपना पशन भुगतान आदेश (PPO) नंबर देना होगा|

2. सेवा आरंभ तिथि : आवेदक को सेवा आरम्भ करने की तिथि प्रदान करनी होगी|

3. सर्विस डिस्चार्ज तिथि : आवेदक को सर्विस से डिस्चार्ज होने की तिथि भी देनी होगी|

बिहार सरकार के कर्मचारियों हेतु-

जन्म तिथि DD/MM/YYYY के प्रारूप में होनी चाहिए| यह 10th/SSC/मैट्रिक्यूलेशन सर्टिफिकेट/ सरकार द्वारा दिए गए किसी भी आधिकारिक दस्तावेज के अनुसार होनी चाहिए| आवेदक की आयु निम्न तालिका के अनुसार होनी चाहिए, जैसे-

श्रेणी  पुरुष (अधिकतम आयु) महिला (अधिकतम आयु)
सामान्य (General) 37 साल + 5 साल 40 साल + 5 साल
आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग (EWS) 37 साल + 5 साल 40 साल + 5 साल
बीसी / ईबीसी (BC/EBC) 40 साल + 5 साल 40 साल + 5 साल
एससी/एसटी (SC/ST) 42 साल + 5 साल 42 साल + 5 साल
(नोट- आवेदक, जो बिहार राज्य के निवासी नहीं हैं, को सामान्य के रूप में वर्ग का चयन करना होगा)
शैक्षणिक योग्यता 

सीधी भर्ती / बिहार सरकार के कर्मचारी- “बिहार में वन क्षेत्रपाल पदाधिकारी संवर्ग (भर्ती एवं सेवा शर्ते) नियमावली 2013″ के क्रमांक-8(3) एवं अधियाचना के अनुसार अभ्यर्थी की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता पशुपालन एवं पशु रोग विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, रसायन विज्ञान, भूगर्भ विज्ञान, गणित, भौतिक शास्त्र, सांख्यिकी एवं जन्तु विज्ञान विषयों में कम से कम एक विषय के साथ स्नातक की डिग्री होगी,

अथवा

कृषि स्नातक, वानिकी स्नातक अथवा किसी भी ट्रेड में अभियंत्रण या बैचलर ऑफ कम्प्यूटर एप्लिकेशन (BCA) में किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या समकक्ष से स्नातक का डिग्री धारक होना चाहिये|

भूतपूर्व सैनिक- “बिहार में वन क्षेत्रपाल पदाधिकारी संवर्ग (भर्ती एवं सेवा शर्ते) नियमावली 2013″ के क्रमांक-8(3) एवं अधियाचना के अनुसार अभ्यर्थी की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता पशुपालन एवं पशु रोग विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, रसायन विज्ञान, भूगर्भ विज्ञान, गणित, भौतिक शास्त्र, सांख्यिकी एवं जन्तु विज्ञान विषयों में कम से कम एक विषय के साथ स्नातक की डिग्री होगी,

अथवा

कृषि स्नातक, वानिकी स्नातक अथवा किसी भी ट्रेड में अभियंत्रण या बैचलर ऑफ कम्प्यूटर एप्लिकेशन (BCA) में किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या समकक्ष से स्नातक का डिग्री धारक होना चाहिये|

सीधी भर्ती / बिहार सरकार के कर्मचारी- मैट्रिक्यूलेशन और ग्रेजुएशन शैक्षणिक विवरण अनिवार्य हैं| यदि आप स्नातकोत्तर (पोस्ट ग्रेजुएट) हैं तो संबंधित कॉलम में संबंधित विवरण भरें|

भूतपूर्व सैनिक- ग्रेजुएशन शैक्षणिक विवरण अनिवार्य है| यदि आप पोस्ट-ग्रेजुएट हैं, तो संबंधित कॉलम में संबंधित विवरण भरें|

आरक्षण-

बिहार पदों एवं सेवाओं की रिक्तियों में आरक्षण (अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों एवं अन्य पिछड़े वर्गों के लिए) अधिनियम 1991 (बिहार अधिनियम-3, 1992) (समय-समय पर यथा संशोधित) के अनुसार आरक्षण के प्रावधान लागू होंगे एवं इसका लाभ केवल बिहार राज्य के स्थायी निवासी को ही देय होगा|

नोट- अन्य राज्यों के आरक्षण कोटि के अभ्यर्थियों की गणना अनारक्षित (सामान्य) कोटि के अभ्यर्थी के रूप में की जायेगी| तदनुरूप उनके लिए अनारक्षित (सामान्य) कोटि के अभ्यर्थियों के लिए निर्धारित आयु सीमा एवं अन्य सम्बन्धित अर्हताएँ लागू होंगी|

आवेदन कैसे करें

बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी भर्ती की आधिकारिक अधिसूचना के बाद ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू की जाती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं| आवेदन के लिए उम्मीदवार निचे दिए गए चरणों का पालन कर सकते है, जैसे-

1. भर्ती संचालन निकाय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ|

2. बिहार में वन रेंजर अधिकारी भर्ती के लिए विज्ञापन / अधिसूचना विकल्प पर क्लिक करें|

3. सभी निर्देशों को पढ़ें और अप्लाई बटन पर क्लिक करें|

4. उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड बनाकर रजिस्टर करें|

5. लॉगइन पेज पर जाएं|

6. सभी विवरणों को भरकर आवेदन पत्र को पूरा करें, क्रेडेंशियल, ईमेल पता, फोन नंबर, शिक्षा योग्यता और अन्य संपर्क विवरण|

7. हस्ताक्षर, फोटोग्राफ और आवश्यक प्रमाणपत्र अपलोड करें|

8. भुगतान करें और सबमिट करें|

9. भविष्य के संदर्भ के लिए एप्लिकेशन फॉर्म को सहेजें|

प्रवेश पत्र

बिहार पुलिस बीपीएसएससी भर्ती कर्मचारी अधिकारी विभिन्न चरणों में वन रेंजर भारती परीक्षा के लिए हॉल टिकट प्रदान करेंगे| चरण एक में, BPSSC विभाग ओएमआर लिखित प्रतियोगी परीक्षा आयोजित करेगा| जिसके लिए प्रवेश पत्र प्राप्त करने के चरण इस प्रकार है, जैसे-

1. आधिकारिक वेबसाइट “bpssc.bih.nic.in” पर जाएं|

2. “दिनांक / विषय में अंतिम अपडेट” की जाँच करें|

3. बिहार वन रेंज अधिकारी के पद के लिए एडमिट कार्ड पर क्लिक करें|

4. पंजीकरण आईडी, मोबाइल नंबर और जन्म तिथि दर्ज करें।

5. सबमिट करने के बाद, FRO का एडमिट कार्ड दिखाई देगा|

6. परीक्षा तिथि, समय, स्थान, अन्य विवरण के लिए कृपया एडमिट कार्ड देखें

नियुक्ति प्रक्रिया

बिहार में वन क्षेत्रपाल पदाधिकारी (Range Officer of Forests) के पद पर नियुक्ति एवं चयन के लिए विहित प्रक्रिया निम्नांकित है, जैसे-

1. लिखित परीक्षा

2. साक्षात्कार

3. शारीरिक सामर्थ्य परीक्षण

लिखित प्रतियोगिता परीक्षा-

आयोग द्वारा सभी अभ्यर्थियों के लिए लिखित प्रतियोगिता परीक्षा आयोजित की जायेगी जिसमें दो पत्र होंगे| लिखित परीक्षा के सभी पत्र बहुविकल्पीय प्रश्नों पर आधारित होंगे| प्रथम पत्र 100 अंकों का सामान्य हिन्दी का एक घंटे का होगा जिसमें 50 प्रश्न होंगे एवं न्यूनतम अहर्ताक 30 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा अन्यथा उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया जायेगा| प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.2 अंक काटा जायेगा| सामान्य हिन्दी पत्र का प्राप्तांक मेधा निर्धारण में नहीं जोड़ा जायेगा|

द्वितीय पत्र सामान्य अध्ययन का होगा जो सामान्य ज्ञान, समसामयिक मुद्दों, सामान्य विज्ञान, नागरिक शास्त्र, भारतीय इतिहास, भारतीय भूगोल, गणित एवं मानसिक योग्यता जाँच से सम्बन्धित होगा| द्वितीय पत्र का पूर्णाक 300 होगा जिसमें प्रश्नों की कुल संख्या-100 होगी एवं परीक्षा की अवधि दो घंटे की होगी| प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.3 अंक काटा जायेगा| परीक्षा अंकन योजना, पैटर्न और पाठ्यक्रम की पूरी जानकारी के लिए यहाँ पढ़ें- बिहार वन रेंज अधिकारी अंकन योजना, पैटर्न और पाठ्यक्रम

नोट- उपरोक्त दोनों पत्रों की उत्तर-पुस्तिका दो प्रतियों में होगी, जिसकी एक प्रति आयोग के पास सुरक्षित रखी जायेगी|

साक्षात्कार-

लिखित परीक्षा के आधार पर रिक्ति के 06 गुणा अभ्यर्थियों का चयन कोटिवार मेधानुसार किया जायेगा तथा उन्हें साक्षात्कार के लिए आमंत्रित किया जायेगा| साक्षात्कार हेतु अर्हता प्राप्त अभ्यर्थियों की पर्याप्त संख्या में अनुपलब्धता की दशा में उक्त अनुपात उपयुक्त रूप से कम किया जा सकेगा|

साक्षात्कार में अभ्यर्थियों के सम्पूर्ण व्यक्तित्व, विषयों के ज्ञान, सामयिक घटनाओं की जानकारी, रचनात्मक एवं सकारात्मक गुणों की परीक्षा और पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग में कार्य करने की उनकी उपयुक्तता का मूल्यांकन किया जायेगा|

साक्षात्कार के कुल अंक-50 होंगे| साक्षात्कार में प्राप्त अंक को लिखित परीक्षा के प्राप्तांक में जोड़ा जायेगा तथा दोनों के योग के आधार पर अन्तिम मेधा सूची तैयार की जायेगी|

शारीरिक समर्थता परीक्षण-

साक्षात्कार के लिए आमंत्रित अभ्यर्थियों के लिए शारीरिक समर्थता परीक्षण आयोग द्वारा आयोजित किया जायेगा| अभ्यर्थी का शारीरिक समर्थता परीक्षण में सफल होना अनिवार्य है| यदि कोई अभ्यर्थी शारीरिक समर्थता परीक्षण में असफल होता है तो उसे केवल लिखित परीक्षा एवं साक्षात्कार में प्राप्त अंकों के आधार पर नियुक्ति हेतु अनुशंसित नहीं किया जायेगा| शारीरिक समर्थता परीक्षण के मानदण्ड इस प्रकार है, जैसे-

ऊँचाई –

पुरुषों के लिए- न्यूनतम ऊँचाई 152.5 सेन्टीमीटर (अनुसूचित जनजाति) और 163 सेन्टीमीटर (अन्य) के लिए|

महिलाओं के लिए- न्यूनतम ऊँचाई 145 सेन्टीमीटर (अनुसूचित जनजाति) और 150 सेन्टीमीटर (अन्य) के लिए|

सीना मापन (सिर्फ पुरूषों के लिए)-

बिना फुलाए- 79 सेन्टीमीटर (न्यूनतम) फुलाकर- 84 सेन्टीमीटर (न्यूनतम) (फुलाने के बाद सीना में कम से कम 5 सेन्टीमीटर का अन्तर होना अनिवार्य होगा)|

शारीरिक परीक्षण-

पुरुषों के लिए- 4 (चार) घंटे में 25 (पच्चीस) किलोमीटर पैदल चलना|

महिलाओं के लिए- 4 (चार) घंटे में 14 (चौदह) किलोमीटर पैदल चलना|

चिकित्सीय परीक्षण-

शारीरिक समर्थता परीक्षण में सफल अभ्यर्थियों का चिकित्सीय परीक्षण आयोग द्वारा गठित चिकित्सीय टीम द्वारा कराया जायेगा| किसी कारण यदि कोई अभ्यर्थी चिकित्सीय परीक्षण में अनुत्तीर्ण होते हैं तो उन्हें चिकित्सीय पर्षद (Medical Board) के समक्ष अपील दायर करने का अवसर दिया जायेगा| चिकित्सीय पर्षद का निर्णय अंतिम एवं मान्य होगा|

मेधा सूची

शारीरिक समर्थता परीक्षण एवं चिकित्सीय परीक्षण में सफल अभ्यर्थियों की एक अन्तिम मेधा सूची रिक्तियों के अनुसार आरक्षण कोटिवार तैयार की जायेगी|

मेधा सूची में टाई होने पर दिशा निर्देश- मेधा सूची में दो या दो से अधिक अभ्यर्थियों के समान अंक प्राप्त करने की दशा में मेधा सूची में उनके स्थान का निर्धारण उनकी जन्म तिथि के आधार पर किया जायेगा अर्थात उम्र में वरीय अभ्यर्थी मेधा क्रम में ऊपर रहेंगे| समान अंक प्राप्त करने एवं समान जन्म तिथि वाले दो या दो से अधिक अभ्यर्थियों की दशा में मेधा सूची में उनके स्थान का निर्धारण उनकी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर किया जायेगा अर्थात अधिक शैक्षणिक योग्यता वाले अभ्यर्थी मेधा क्रम में ऊपर रहेंगे| इसके बावजूद भी यदि एक से अधिक अभ्यर्थी समान हों तो ऐसे अभ्यर्थियों की वरीयता उनके 10वीं बोर्ड के प्रमाण-पत्र में यथा उल्लिखित नाम के अंग्रेज़ी वर्णमाला के क्रम के अनुसार निर्धारित की जाएगी|

अन्तिम मेथा सूची के लिए न्यूनतम अहर्ताक- अन्तिम मेधा सूची हेतु अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं महिला वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम अहर्ताक 32 प्रतिशत, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम अहर्ताक 34 प्रतिशत, पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 36.5 प्रतिशत एवं सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम अहर्ताक 40 प्रतिशत होगा|

भर्ती परिणाम

बिहार में वन क्षेत्रपाल अधिकारी भर्ती प्रक्रिया के बाद परिणाम आधिकारिक वेबसाइट पर जारी होगा| उम्मीदवार अपना परिणाम बीपीएसएससी की आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं| परिणाम प्राप्त करने के चरण इस प्रकार है, जैसे-

1. उम्मीदवार बीपीएसएससी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं|

2. स्क्रीन पर प्रदर्शित संबंधित पोस्ट के लिए अधिसूचना खोलें|

3. अब “डाउनलोड रिजल्ट” विकल्प खोजें|

4. अब यहां आपको डाउनलोड रिजल्ट का ऑप्शन मिलेगा|

5. अनंतिम आईडी और पासवर्ड के साथ लॉगिन करें|

6. डाउनलोड रिजल्ट ऑप्शन सबमिट पर क्लिक करें|

7. भविष्य के संदर्भों के लिए परिणाम डाउनलोड और प्रिंट करें|

यह भी पढ़ें- 

बिहार पुलिस में कांस्टेबल कैसे बने

बीटीईटी परीक्षा (BTET Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

बिहार एसटीईटी पात्रता मानदंड, आवेदन, प्रवेश पत्र, पैटर्न, सिलेबस और परिणाम

बिहार पीजीएमएसी पात्रता, आवेदन पत्र, आरक्षण और काउंसलिंग

BCECE पात्रता मानदंड, आवेदन, प्रवेश पत्र, सिलेबस और परिणाम

बीसीईसीई एलई पात्रता मानदंड, आवेदन, प्रवेश पत्र, सिलेबस और परिणाम

महत्वपूर्ण लिंक- BPSSC

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *