PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद इंजीनियरिंग कोर्सेज सफल करियर के लिए

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद, इस असमंजस में फस जाते है, की अब आगे सफल करियर के लिए क्या करें| इसमें कोई दोराय नही की साइंस का हर छात्र मेडिकल या इंजीनियरिंग सेक्टर में जाना चाहता है| लेकिन जब छात्र के पास फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ्स है, जिसकों PCM कहते है| तो उसके लिए इंजीनियरिंग एक अच्छा विकल्प है|

हालाँकि इसके आलावा भी PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद के अनेक विकल्प है| तो आइए जानते है, PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद कौन कौन से अच्छे करियर के लिए इंजीनियरिंग के विकल्प होते है|

यह भी पढ़ें- Arts से 12वीं करने के बाद चुनें ये कोर्सेस, करियर के लिए हैं बेहतर विकल्प

इंजीनियरिंग कोर्सेज PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद (Engineering Courses for PCM Students)

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद साइंस स्ट्रीम शिक्षा समाप्त करने के बाद छात्र बीई या बीटेक का कोर्स कर सकते है| जिनकी अवधि चार साल की होती है| इसके बाद कोई भी छात्र एमई या एमटेक के लिए जा सकता है, जो की इंजीनियरिंग में मास्टर कोर्स है| इनकी अवधि 2 साल की होती है| PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद कुछ कोर्सेज इस प्रकार है, जैसे- 

क्रमांक
हिंदी में कोर्स का नाम
अंग्रेजी में कोर्स का नाम
1 मैकेनिकल इंजीनियरिंग Mechanical Engineering
2 इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग Electrical Engineering
3. सिविल अभियनतरण Civil Engineering
4 रासायनिक अभियांत्रिकी Chemical Engineering
5 कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग Computer Science and Engineering
6 आईटी इंजीनियरिंग IT Engineering
7. ईसी इंजीनियरिंग EC Engineering
8 इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग Electronics Engineering
9 इलेक्ट्रॉनिक्स और दूरसंचार इंजीनियरिंग Electronics and Telecommunication Engineering
10 पेट्रोलियम इंजीनियरिंग Petroleum Engineering
11 एरोनोतिक्ल इंजीनियरिंग  Aeronautical Engineering
12 अंतरिक्ष इंजीनियरिंग  Aerospace Engineering
13 ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग  Automobile Engineering
14 खनन अभियन्त्रिकी  Mining Engineering
15 जैव प्रौद्योगिकी इंजीनियरिंग  Biotechnology Engineering
16 जनन विज्ञान अभियन्त्रिकी  Genetic Engineering
17 प्लास्टिक इंजीनियरिंग  Plastic Engineering
18 खाद्य प्रसंस्करण और प्रौद्योगिकी  Food Processing and Technology
19 कृषि इंजीनियरिंग  Agriculture Engineering
20 डेयरी प्रौद्योगिकी और इंजीनियरिंग  Dairy Technology and Engineering
21 कृषि सुचना प्रौद्योगिकी  Agriculture Information Technology
22 पॉवर इंजीनियरिंग  Power Engineering
23 उत्पादन अभियन्त्रिकी  Production Engineering
24 इन्फ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग  Infrastructure Engineering
25 मोटरस्पोर्ट इंजीनियरिंग  Motorsport Engineering
26 धातु विज्ञान इंजीनियरिंग  Metallurgy Engineering
27 वस्त्र इंजीनियरिंग  Textile Engineering
28 पर्यावरण इंजीनियरिंग  Environmental Engineering
29 मरीन इंजीनियरिंग  Marine Engineering
30 नौसेना वास्तुकला  Navel Architecture

ये कुछ विशेष कोर्सेज है, जिनको आप PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद आप कर सकते है| इनमें जैव प्रौद्योगिकी इंजीनियरिंग कोर्स ऐसा है जिसकों गणित और जीवविज्ञान दोनों समूह के छात्र कर सकते है|

यह भी पढ़ें- 12वीं के बाद कॉमर्स (Commerce) के छात्रों के लिए कोर्स सफल कैरियर के लिए

इंजीनियरिंग के बाद आप के लिए सरकारी और निजी क्षेत्र दोनों के दरवाजे खुले होते है| यदि आप के पास बीई और बीटेक के साथ एमई और एमटेक की डिग्री है तो आप के लिए शिक्षण के क्षेत्र में लेक्चरर के लिए भी दरवाजे खुले होते है|

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद बीएससी कोर्सेज (B. Sc Courses)

इंजीनियरिंग के बाद, बीएससी विज्ञान के खासकर PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद छात्र अक्सर चुनते है| जब बीएससी कार्यक्रम के कोर्स की अवधि 3 साल होती है| स्नातक स्तर तक की पढाई के बाद आप एमएससी पाठ्यक्रम भी कर सकते है| इसकी अवधि 2 साल की होती है| तो आइए जानते है कुछ अच्छे बीएससी कोर्सेज, जैसे- 

क्रमांक  कोर्सेज का हिंदी में नाम  कोर्सेज का अंग्रेजी में नाम 
1 बीएससी कृषि B. Sc. Agriculture
2 बीएससी बागवानी B. Sc. Horticulture
3 बीएससी वानिकी B. Sc. Forestry
4 बीएससी आईटी B. Sc. IT
5 बीएससी कंप्यूटर विज्ञान B. Sc. Computer Science
6 बीएससी रसायन विज्ञान B. Sc. Chemistry
7 बीएससी अंक शास्त्र B. Sc. Mathematics
8 बीएससी भौतिक विज्ञान B. Sc. Physics
9 बीएससी होटल प्रबंधन B. Sc. Hotel Management
10 बीएससी समुंद्री विज्ञान B. Sc. Nautical Sciences
11 बीएससी खेल प्रबंधन B. Sc. Sports Management
12 बीएससी इलेक्ट्रॉनिक्स B. Sc. Electronics
13 बीएससी इलेक्ट्रॉनिक्स एंड संचार B. Sc. Electronics and Communication
14 बीएससी जैव प्रौद्योगिकी B. Sc. Biotechnology
15 बीएससी विमानन B. Sc. Aviation
16 बीएससी एनिमेसन और मल्टीमीडिया B. Sc. Animation and Multimedia

साइंस PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद इन बेहतरीन कोर्सज के लिए कई शीर्ष विश्विद्यालय योग्य छात्रों के लिए आकर्षक छात्रवृत्ति देते है| इसके आलावा जब बीएससी के बाद एमएससी करते है. तो अनुसंधान और विकास के क्षेत्र में एक अच्छा करियर बना सकते है|

यह भी पढ़ें- PCB Students के लिए पाठ्यक्रम जो 12 वीं के बाद करियर की गारंटी है

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद बीसीए (BCA)

बी. सी ए. यानि बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स कर सकते है| यह कोर्स भी बीएससी की तरह 3 वर्षीय है| यह कोर्स कंप्यूटर, सोफ्टवेर और अनुप्रयोगों, प्रोग्रामिंग भाषाओँ आदि पर आधारित है|

साइंस या PCM के बाद बीसीए करने के बाद कोई भी किसी स्नातकोत्तर कोर्स एमसीए कर सकता है| यह एक मास्टर डिग्री होती है| और यह कोर्स 2 साल का होता है| जहां तक बात रोजगार की है| यहाँ एमसीए कोर्स के बाद निजी और सरकारी दोनों क्षेत्रों में अवसरों की भरमार है| आप को पता होगा को बहुराष्ट्रीय कम्पनियों में बीसीए और एमसीए की कितनी डिमांड है|

कोर्स पूरा करने के बाद इस नौकरी के पद इस प्रकार है, जैसे-

1. सॉफ्टवेयर डेवलपर

2. कंप्यूटर इंजिनियर

3. प्रोजेक्ट मैनेजर

4. सॉफ्टवेयर निरीक्षक

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद बी आर्क (B. ARCH)

बी आर्क यह कोर्स वास्तुकला से जुड़ा हुआ है| सरल शब्दों में जाने तो यह कोर्स जो घरों, इमारतों, वाणिज्यिक सरंचनाओ आदि के नियोजन और निर्माण से संबंधित है|

साइंस या PCM के छात्र यह कोर्स 5 साल में कर सकते है| रोजगार के बात करें, तो बहुत सी बहुराष्ट्रीय कम्पनियों में बी आर्क की डिमांड रहती है| यदि आप रचनात्मक और भावुक है तो आप खुद अपना करियर इस क्षेत्र में बना सकते है|

यह कोर्स पूरा करने के बाद आप के लिए उपलब्ध नौकरी इस प्रकार है, जैसे- 

1. मुख्य वास्तुकार

2. सहायक आर्किटेकट

3. संसाधन प्रबंधक

यह भी पढ़ें- सीईटी दिल्ली पॉलिटेक्निक (CET DP) परीक्षा योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

4. योजना और डिजाइन पेशेवर

5. वास्तुकला डिजाइन सलाहकार

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद बी फार्मा (B. Pharmacy)

बी फार्मा PCM के छात्र भी कर सकते है| इस कोर्स में आप को दवाइयां बनाने और उसमें शामिल रसायनों और उनका उपयोग आदि के बारे में सिखाया जाता है| यह कोर्स 4 साल का होता है|

बी फार्मा करने के बाद आप एम फार्मा भी कर सकते है, जो एक मास्टर डिग्री है| नौकरी के बात करें तो इस क्षेत्र में फार्मास्युटिकल कम्पनियां प्रमुख नौकरी दाता है| केमिस्टो के लिए अस्पतालों में भी नौकरी उपलब्ध होती है| सरकारी क्षेत्र में आप ड्रग्स विभाग अधिकारी बन सकते है|

कोर्स के बाद नौकरी प्रोफाइल इस प्रकार है, जैसे- 

1. फार्मेसिस्ट

2. चिकित्सक प्रतिनिधि

3. अनुसंधान पेशेवर

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद बीबीए (BBA)

बीबीए यानि बैचलर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्से होता है| इस कोर्स का PCM या साइंस स्ट्रीम छात्रों का कुछ लेना देना नही है| फिर भी साइंस या PCM के छात्र इसके पात्र होते है|

इस कोर्स की अवधि 3 साल होती है| बीबीए के बाद आप एमबीए मास्टर डिग्री कोर्स कर सकते है| जिसकी कोर्स अवधि 2 साल तक की होती है|

इस कोर्स की ज्यादातर नौकरियां निजी क्षेत्र में होती है| इसकी नौकरी प्रोफाइल इस प्रकार है, जैसे- 

1. एचआर प्रबंधन

2. सामग्री प्रबंधन

3. प्रशासनिक भूमिकाएं

यह भी पढ़ें- डीयू बीएड (DU B.Ed) प्रवेश परीक्षा योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

व्यावसायिक पायलट ट्रेनिंग (Commercial Pilot Training)

PCM साइंस समूह के छात्र 12 वीं के बाद यह कोर्स कर सकते है, और एक वाणिज्यिक पायलट बन सकते है| इसके लिए आप को एक फ्लाईट ट्रेनिंग स्कुल में ट्रेनिंग लेनी पड़ती है|

कोर्स के अवधि एक संस्थान से दुसरे में बदलती रहती है| सामान्य तौर पर यह कोर्स 2 से 3 साल का रहता है| परिक्षण पूरा करने के बाद आप कोई निजी या राष्ट्रीय कम्पनी में फैरी पायलट या वाणिज्यिक पायलट की नौकरी प्राप्त कर सकते है| सेवानिवर्ती के बाद आप ट्रेनर बन सकते है|

अग्नि सुरक्षा और प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा कोर्स (Diploma Courses in Fire Safety and Technology) 

यह उन्मुख अग्नि एवं सुरक्षा कोर्स है| जो की 12 वीं साइंस PCM समूह के छात्र यह कोर्स कर सकते है| इस कोर्स के लिए बहुत से अकादमी डिप्लोमा और सर्टिफिकेट प्रदान करते है| कोर्से की अवधि एक संस्थान से दुसरे संस्थान की अलग अलग हो सकती है| लेकिन यह आमतौर पर 1 से 3 साल तक हो सकती है| इसकी नौकरी प्रोफाइल में शामिल है, जैसे- 

1. सुरक्षा यंत्री

2. अग्नि सुरक्षा अधिकारी

3. सुरक्षा प्रबंधन पेशेवर

4. प्रशिक्षक

5. सुरक्षा प्रौद्योगिकी सलाहकार

मर्चेंट नेवी संबंधित कोर्सेज (Merchant Navy Related Courses)

करियर की सम्भावनाओं की दृष्टि से देखे तो मर्चेंट नेवी एक अच्छा क्षेत्र है| यहां मेहनत बहुत करनी होती है| इसीलिए इसमें शामिल होने के लिए कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प की आवश्यकता होती है|

मर्चेंट नेवी में नौकरी के लिए विभिन्न पद उपलब्ध है| जैसे समुद्री अभियंता, नाविक और इंजिनियर आदि| नौकरी पद के आधार पर बहुत से कोर्सेज भी उपलब्ध होते है| कुछ कोर्स टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग और डिप्लोमा कोर्स है, जो नाविक बनने के लिए होते है|

PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद कुछ कोर्स इस प्रकार है, जैसे- 

1. बीई या बीटेक मरीन इंजीनियरिंग 

यह भी पढ़ें- दिल्ली मेट्रो भर्ती (Delhi Metro Recruitment) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

2. बीई या बीटेक नौसेना वास्तुकला 

3. बीएससी समुद्री विज्ञान 

4. नॉटिकल साइंस में डिप्लोमा 

महत्वपूर्ण लिंक- Mercantile Marine Department

आर्मड फ़ोर्स भारतीय आर्मी (Indian Army)

साइंस PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद यह एक अच्छा विकल्प है| लेकिन यहां आयु सीमा का प्रावधान है| एनडीए की परीक्षा में शामिल होने के लिए आप की आयु 19 वर्ष या उससे कम होना चाहिए| इसके बाद यदि आप प्रवेश परीक्षा और एसएसबी साक्षात्कार पास कर लेते है| तो फिर आप का 3 साल का कोर्स होता है| इसके बाद आप को आर्मी में शामिल किया जाता है|

तो ये कुछ मुख्य कोर्स थे जिनमें 12 वीं पास PCM विद्यार्थियों का भविष्य उज्ज्वल हो सकता है| इनके आलावा और भी अनेक कोर्सेज है| जिनको आप कर सकते है| उनका उल्लेख हम अपने अगले लेख में करेंगे| छात्रों को अपने सकारात्मक बिंदु को ध्यान में रखकर विषय या कोर्स का चुनाव करना चाहिए| हमारा तो आप सब को यही सुझाव है|

यह भी पढ़े- भारत में शीर्ष वेतन इंजीनियरिंग नौकरियां

यदि हमारे प्रिय पाठक उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, यह आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

13 thoughts on “PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद इंजीनियरिंग कोर्सेज सफल करियर के लिए”

  1. Thanks Sir. Aapne bhut achi information di h. Muje phale b.Pharmacy ka pta nhai tha. Ab pta chal gya h. But aap b.teah ke sabi corse Ki alag alag information de to students ko kafi benefit h. Sir aap ye btaye ke kis corse ke future me job ke jyada sambavna h.

    1. धन्यवाद आशीष कुमार, आप अपनी योग्यता और क्षमता के अनुसार अपनी अपनी पसंद का क्षेत्र चुनिए, आपको सफलता अवश्य मिलेगी

    1. Hi Rajani,
      हां आप कर सकती है, और आप के लिए बहुत से अन्य रास्ते भी है, जिनपर हम जल्दी ही एक लेख लिख कर आप सभी को अवगत करवाएँगे

  2. सर मेरे क्षेत्र के लोगो मे यह धारणा बन गई हैं कि सभी
    आज इंजीनियरिंग करके बैठे हैं पर वे बेरोजगार है और इसलिए कोई इंजीनियरिंग नहीं करना चाहता ।और अब सभी की भीड़ बीएस सी कोर्स की तरफ जा रही है। मै confused हूँ कि मैं 12th के बाद इंजीनियरिंग करूँ या बीएस सी?मै difence क्षेत्र मे रूचि रखती थी पर मेरे knock knees है और मुझे मेरा बचपन का सपना टूटता नजर आ रहा है तो मेरे लिए और कौन से करियर option और डिग्री कोर्स ठीक रहेंगे

    1. Hi Tiksha
      ऐसा बिलकुल नही है, आप निराश न हों, कुछ दौर आते रहते है, की किसी क्षेत्र विशेष में जॉब्स कम हो जाती है, हां इंजीनियरिंग के क्षेत्र में शुरू में मेहनत करनी पडती है, एक योग्य इंजिनियर की आज भी बहुत मांग है और संस्थाएं अच्छा पैकेज भी देती है, आप मेहनत के साथ अपनी रूचि के अनुसार पढाई करें आप के लिए अभी आगे बहुत से मार्ग है, जैसे UPSC और PCB आदि|

  3. Mai 12th PCM lekr kiya Hun,aur Mera interest bad me medical ke chhetr me Jada ho gya,,,kya Mai medical ka koee course iss subject se kr skta Hun,,B farma ke bare mai janta Hun,,iske alava koee courses hai to plz hme btaye hme jldi me admission Lena hai,,plz help me sir or mam.

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *