PCB Students के लिए पाठ्यक्रम

PCB Students के लिए पाठ्यक्रम जो 12 वीं के बाद करियर की गारंटी है

12 वीं पास PCB Students इस बात को लेकर काफी भ्रम की स्थिति में रहता है, की वह यानि PCB Students अब क्या करे की उसका करियर सुरक्षित हो, क्योंकि साइंस के ज्यादातर छात्र मेडिकल और इंजीनियरिंग की दिशा में जाना चाहते है| इसमें कोई दोराय नही है| लेकिन यहां छात्रों के लिए भ्रम की स्थिति होना स्वभाविक है| की अब वह क्या करें|

यदि आप दूसरों की सेवा करना चाहते है और समान पाना चाहते है, तो निसंकोच मेडिकल के क्षेत्र में प्रवेश कीजिए| इसके लिए PCB साइंस स्ट्रीम से 12 वीं की परीक्षा अच्छे अंको से पास करनी आवश्यक है| अगर आप यह परीक्षा पास कर लेते है, तो आप के पास अनेक विकल्प मौजूद है|

यह भी पढ़ें- PCM छात्रों के लिए 12 वीं के बाद इंजीनियरिंग कोर्सेज सफल करियर के लिए

PCB Students यानि फिजिक्स, केमेस्ट्री और बायोलॉजी से 12 वीं करने के बाद मेडिकल, पैरामेडिकल, नर्सिंग और अन्य क्षेत्रों में अपना उज्ज्वल भविष्य बना सकते है| PCB Students के लिए 12 वीं के बाद कौन कौन से पाठ्यक्रम है, जिनमें प्रवेश लेकर आप अपना करियर बना सकते है| आइए जानने की कोशिस करते है|

12 वीं पीसीबी विद्यार्थियों के लिए करियर पाठ्यक्रम (Career Courses for PCB Students after 12th Standard)

एमबीबीएस (MBBS)

हर PCB Students और बायोलॉजी की पहली पसंद, बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी (MBBS) होता है| इसमें प्रवेश आल इंडिया लेवल पर आयोजित होने वाली परीक्षा के आधार पर दिया जाता है| यह परीक्षा आल इंडिया लेवल पर सीबीएससी द्वारा एंट्रेंस परीक्षा आयोजित किया जाता है| हालाँकि प्राइवेट संस्थाओ की अपनी अलग अलग  गाइडलाइन होती है| और महाराष्ट्र में यह परीक्षा राज्य स्तर पर होती है|

बीडीएस (BDS)

12 वीं PCB Students के बीडीएस यानि, बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी का कोर्स कर सकते है| इसकी अवधि चार साल की होती है| इसमें एक साल का इंटरशिप भी जुड़ा हुआ है| BDS करने के बाद आप किसी भी अस्पताल से जुड़ सकते है, या अपनी प्रेक्टिस जारी रख सकते है|

यह भी पढ़ें- 12वीं के बाद कॉमर्स (Commerce) के छात्रों के लिए कोर्स सफल कैरियर के लिए

बी फार्मा (B. Pharmacy)

PCB Students 12 वीं के बाद बैचलर ऑफ फार्मेसी का कोर्स भी कर सकते है| यह चार साल का कोर्स होता है| इस कोर्स में फार्मेसी से जुड़ी हर जानकारी जैसे दवाइयां बनाना, रिसर्च करना के बारें में सिखाया जाता है| इस कोर्स के बाद आप नौकरी, रिसर्च, मेडिकल स्टोर और मेडिकल दवा कम्पनी आदि के तौर पर करियर बना सकते है|

बीएएमएस (BAMS)

फिजिक्स, केमेस्ट्री और बायोलॉजी से 12 वीं करने के बाद छात्र BAMS यानि बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक मेडिसिन एंड सर्जरी का कोर्स कर सकते है| यह कोर्स साढ़े पांच साल का होता है| इसमें एक साल का इंटरशिप होता है|

फार्मा डी (Pharma D)

PCB Students 12 वीं के बाद Pharma D. यानी डिप्लोमा ऑफ फार्मेसी भी कर सकते है| यह कोर्स 2 साल का होता है| यह कोर्स करने के बाद आप दवा कम्पनी, या अपना मेडिकल और दवा का वितरण कर सकते है|

यह भी पढ़ें- बीएचएमएस कोर्स (BHMS Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, वेतन और करियर

बीएससी नर्सिंग (B. Sc Nursing)

PCB Students खासकर छात्राओं के लिए यह कोर्स काफी बेहतरीन माना जाता है| बीएससी करने के बाद आप सरकारी या प्राइवेट दोनों सेक्टरों में अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते है| प्रवेश परीक्षा के आधार पर मिलता है| इस सेक्टर में नौकरी की काफी सम्भावनाएं है| और आज के समय में महिलाएं इस कोर्स को काफी तादाद में कर रही है| 

बीएचएमएस (BHMS) 

PCB छात्र BHMS यानि बैचलर ऑफ होम्योपेथिक मेडिसिन एंड सर्जरी कोर्स भी कर सकते है| यह कोर्स साढ़े पांच साल का होता है, जिसमें एक साल की इंटरशिप शामिल है| इस कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा के द्वारा प्रवेश मिलता है| कोर्स पूरा होने के बाद आप होम्योपेथिक के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है|

बैचलर ऑफ फिजियोथ्रेपी (Bachelor of Physiotherapist)

PCB Students 12 वीं के बाद बैचलर ऑफ फ़िज़ियोथेरेपिस्ट कोर्स भी कर सकते है| यह कोर्स साढ़े चार साल का होता है, जिसमें एक साल इंटरशिप भी शामिल है| फिजियोथेरेपि आज मेडिकल ट्रीटमेंट का एक अहम पार्ट बन गई है, चाहिए वह इन्फेक्शन से बचाव की बात हो या फिर सर्जरी के बाद जल्द रिकवर की बात हो| इसलिए इस कोर्स के बाद भी आप का भविष्य उज्ज्वल हो सकता है|

यह भी पढ़ें- एमबीबीएस कोर्स (MBBS Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम, वेतन, करियर

बीयूएमएस (BUMS) 

फिजिक्स, केमेस्ट्री और बायोलॉजी 12 वीं पास छात्र BUMS यानि, बैचलर ऑफ यूनानी मेडिसिन एंड सर्जरी कोर्स भी कर सकते है| यह कोर्स साढ़े पांच साल का होता है| इसके बाद आप के पास इस क्षेत्र में करियर की काफी सम्भावनाएं होती है|

बीएएसएलपी (BASLP)

PCB Students 12 वीं के बाद BASLP यानि बैचलर ऑफ ऑडियोलॉजी स्पीच लैंग्वेज पैथोलॉजी कोर्स भी कर सकते है| यह कोर्स चार साल का होता है| इस कोर्स को पूरा करने के बाद भी आप के पास सफल करियर की अपार सम्भावनाएं मौजूद है|

तो इस तरह PCB छात्र 12 वीं के बाद मेडिकल सेक्टर में अपना उज्ज्वल भविष्य बना सकते है| बशर्ते की उनको भ्रम की स्थिति में न रहते हुए अपने पिछले मजबूत विषय पर आधारित कोर्स चुनना चाहिए|

यह भी पढ़ें- बीडीएस कोर्स (BDS Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम, वेतन और करियर

प्रिय पाठ्कों से अनुरोध है, की यदि वे उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी आपके पास है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

महत्वपूर्ण लिंक- NATIONAL ELIGIBILITY CUM ENTRANCE TEST (UG)

3 thoughts on “PCB Students के लिए पाठ्यक्रम जो 12 वीं के बाद करियर की गारंटी है”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *