मोटापा (Obesity)

मोटापा (Obesity) के कारण, लक्षण, निवारण, उपचार और निदान

मोटापा एक जटिल विकार है, जिसमें अत्यधिक मात्रा में शरीर में वसा शामिल है| मोटापा सिर्फ एक सौन्दर्य चिंता नही है, यह रोगों और स्वास्थ्य समस्याओं जैसे की ह्रदय रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप का खतरा भी बढाता है| अत्यधिक मोटापे का मतलब होने के नाते आपको विशेष रूप से आपके वजन से संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं होने की संभावना है|

अच्छी खबर यह हो सकती है, की मोटापा से जुड़ी स्वास्थ्य समस्याओं में भी मामूली वजन घटाने में सुधार या उनको रोका जा सकता है| आहार में परिवर्तन, शारीरिक गतिविधि में वृद्धि और व्यवहार में बदलाव आपका वजन कम करने में मदद कर सकते है| दवाएं और सर्जरी मोटापा या वजन घटाने के अतिरिक्त विकल्प हो सकते है|

शरीर की वसा को सीधे मापना मुश्किल है, बॉडी मॉस इंडेक्स (बीएमआई) स्वस्थ वजन को परिभाषित करने का एक अच्छा तरीका है| शरीर के वसा की मात्रा का अनुमान लगाने में बीएमआई को कमर के आकर के साथ एक मार्गदर्शक के रूप में इस्तेमाल किया जाना चाहिए|

बीएमआई आपकी उचाई के आधार पर स्वस्थ वजन का अनुमान लगता है, क्योंकि यह उचाई और वजन को साथ ही मापता है| यह अकेले शरीर के वजन की तुलना में अधिक सटीक मार्गदर्शन है|

यह भी पढ़ें- श्वास नली की सूजन के कारण, लक्षण, निवारण और उपचार

मोटापा के कारण 

इसके अनेक कारण हो सकते है, लेकिन कुछ प्रमुख कारण इस प्रकार है, जैसे-

भोजन का सेवन- यदि आप बहुत खाते है, विशेषकर खाद्य पदार्थ जो वसा और कैलोरी में उच्च होते है| तो आप मोटे हो सकते है, मोटापा भी विकारों को खाने से परिणाम कर सकते है, जैसे द्वि धातुमान की प्रवृति|

जीवन शैली- यदि आप एक गतिहिन जीवन शैली का नेतृत्व करते है, तो आप मोटापे से ग्रस्त होने के उच्च जोखिम में है|

आपका वजन इतिहास- यदि आप एक बच्चे या किशोर के रूप में अधिक वजन वाले थे, तो आप व्यस्क के रूप में मोटे होने की अधिक संभावना रखते है|

गर्भावस्था- गर्भावस्था मोटापे में योगदान कर सकती है, गर्भावस्था के बाद बहुत सी महिलाओं का वजन बढ़ जाता है|

दवाएं- कुछ दवाएं मोटापे का कारण बन सकती है, इनमें स्टेराइड हार्मोन और मनौवैज्ञानिक स्थितियों का इलाज करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली कई दवाएं शामिल है|

मोटापा के लक्षण

यदि आप मोटापे के शिकार है, तो आप निम्न लक्षण अनुभव कर सकते है, जैसे-

1. नींद न आना|

2. स्लीप एप्निया, जिसमें सांस अनियमित है, और समय समय पर नींद के दौरान बंद हो जाता है|

3. सांस की कमी महसूस होना|

4. वैरिकाज वेस|

5. आपकी त्वचा की परतों में जमा होने वाली नमी के कारण त्वचा की समस्याएं|

6. पित्ताशय पथरी|

7. वजन के असर से जोड़ों में गठिया रोग खासकर घुटनों में|

8. मोटापा आपके जोखिम को बढाता है|

9. उच्च रक्तचाप|

10. मधुमेह का उच्च स्तर|

11. उच्च कोलेस्ट्राल|

12. उच्च ट्राईग्लिसराइड्स का स्तर|

यह भी पढ़ें- पागल कुत्ते का काटना के लक्षण, कारण, उपचार और रोकथाम

निदान (Diagnosis)

आपकी बीएमआई के द्वारा गणना करके मोटापे का निदान किया जा सकता है| बीएमआई आपकी उचाई और वजन पर आधारित है, 30 या अधिक की एक बीएमआई मोटापे को परिभाषित करती है, सामान्य तौर पर इसका मतलब है, की आपके शरीर का वजन आपके आदर्श शरीर के वजन से 30 या 40 प्रतिशत अधिक है|

आपके शरीर की वसा को कैलीपर का उपयोग कर के भी गणना की जा सकती है, कैलीपर एक उपकरण है, जो आपकी त्वचा की मोटाई को मापता है|

शारीरक आकार भी महत्वपूर्ण है, जो लोग कमर के चारों और अपने वजन को अधिकांश लेते है| वो बड़े कूल्हों और जांघों वाले लोगों की तुलना में ह्रदय रोग और मधुमेह का अधिक खतरा होता है|

कमर की परिधि पेट की मोटाई का एक अच्छा उपाय है, 35 इंच से अधिक कमर वाली महिलाएं या 40 इंच से अधिक कमर वाले पुरुष बढ़ते जोखिम का खतरा है|

प्रत्याशित अवधि

मोटापा अक्सर आजीवन समस्या है, एक बार जब अतिरिक्त वजन प्राप्त हो जाता है| इसको कम करना आसान नही होता है, इसके लिए आपको वजन कम करने पर काम करना होता है|

आपके वजन के लक्ष्य तक पहुचने में लगने वाला समय इसपर निर्भर करता है|

1. आपको कितना कम करना होगा|

2. आपकी गतिविधि का स्तर|

3. आप किस प्रकार के उपचार या वजन हानी कार्यक्रम चुनते है|

4. मोटापे की वजह से रोग और शर्तों में अक्सर सुधार होता है, क्योंकि आप वजन कम करते है|

यह भी पढ़ें- काली खांसी के कारण, लक्षण, उपचार और रोकथाम

निवारण (Prevention)

मोटापे को रोकने और स्वस्थ शरीर के वजन को बनाएं रखने के लिए, एक अच्छी तरह से संतुलित भोजन खाएं और नियमित रूप से व्यायाम करें|

मोटापे को रोकना महत्वपूर्ण है, एक बार जब वसा कोशिकाएं बन जाती है| वे आपके शरीर में हमेशा के लिए रहती है| हालाँकि आप वसा कोशिकाओं के आकार को कम कर सकते है| आप उनसे छुटकारा नही प् सकते है|

इलाज (Treatment)

1. कम कैलोरी का उपयोग करना|

2. बढ़ती गतिविधि और नियमित रूप से व्यायाम|

वजन कम करने के लिए संरचित दृष्टिकोण और चिकित्सा में शामिल है, जैसे-

एक संशोधित आहार एक उचित वजन घटाने का लक्ष्य प्रति सप्ताह 1 से 2 पाउंड है, यह आमतौर पर प्रतिदिन 500 से 1000 कम कैलोरी खाने से प्राप्त किया जा सकता है| चाहे आप कम वसा या कम कार्ब्रोहाइड्रेट खाने पर ध्यान केन्द्रित करें, यह आप पर निर्भर है, कार्बोहाइड्रेट या प्रोटीन की तुलना में वसा के मुकाबले प्रति औंस के मुकाबले ज्यादा से ज्यादा कैलोरी होती है| यदि आप कार्ब्रोहाइड्रेट खाते है, तो आपको अभी भी वसा का सेवन कम करने की आवश्यकता होती है| स्वस्थ वसा चुने जैसे मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड तेल|

नियमित व्यायाम- प्रभावी रूप से वजन कम करने के लिए, ज्यादातर लोगों को 60 मिनट के लिए मध्यम तीव्र व्यायाम करना चाहिए, सप्ताह के अधिकांश दिन| दिन के दौरान अधिक गतिविधि जोड़े|

गैर पर्ची या सूची (एली)- ओर्लिस्टाट (Orlistat) में वसा अवशोष्ण को रोकता है| अभी तक यह दवा नुस्खा के द्वारा उपलब्ध थी| क्सेनिकल (Xenical) ये ऑवर द काउंटर दवा से कम खुराक के लिए सिफारिस की जाती है| लेकिन सक्रिय संघटक एक ही है|

यह भी पढ़ें- डेंगू बुखार (अस्थि मंजा ज्वर) के लक्षण, उपचार, कारण और उपचार

अन्य गैर पर्ची वाली आहार की गोलियां ऑवर द काउंटर आहार की गोलियां में अक्सर अवयव होते है| जो दिल की दर और रक्तचाप को बढ़ा सकते है| यह स्पस्ट नही है की समय के साथ बनाएं जाने वाले वजन घटाने में वे कितने प्रभावी है| सामान्य साइड इफेक्ट में चिडचिडाना और घबराहट महसूस होती है| कुछ विशेषज्ञों का कहना है, की ये लक्षण आघात के जोखिम को बढ़ा सकता है|

पर्ची आहार की गोलियां आपका वजन कम करने में मदद करने के लिए, आपका चिकित्सक कैलोरी प्रतिबंधित आहार के साथ दवाएं लिख सकते है| लगभग सभी लोग तब वजन हासिल करते है, जब वे इन दवाओं का इस्तेमाल बंद कर देते है| इन दवाओं के दीर्घकालीनउपयोग के प्रभाव को निर्धारित नही किया गया है|

सर्जरी- सामान्य तौर पर वजन घटाने की सर्जरी (जिससे वैरीएट्रिक सर्जरी कहते है) पर विचार किया जा सकता है| यदि आपकी बीएमआई 30-35 या अधिक है|

सर्जिकल प्रक्रियाओं के अधिक सामान्य प्रकार में शामिल है, जैसे-

गैस्ट्रोप्लास्टी- पेट के स्टेप्लिंग के रूप में भी जाना जाता है| एक सर्जन पेट में एक छोटा थैली बनाता है| जो केवल एक ही समय में भिजन की मात्रा सिमित करता है|

लेप्रोस्कोपिक समायोज्य गैस्ट्रिक बैडिंग एक सर्जन न्यूनतम एड्वेसिस सर्जरी के साथ पेट के चारों और एक समायोज्य बैंड रखता है|

उदर संबंधी बाह्य पथ- यह सबसे प्रभावी वजन घटाने की सर्जरी है| हालाँकि इसमें जटिलताओं का अधिक जोखिम होता है, अल्पकालीन और दीर्घकालीन दोनों| एक सर्जन पेट के उपरी हिस्से में छोटा थैली बनाता है, सामान्य पेट में लगाव से परे छोटी आंत में एक छेद बनाया जाता है| पाउच छेद से जुड़ा हुआ होता है, शेष पेट को छोड़कर और छोटी आंत के शीर्ष भाग को छोड़कर|

नोट- कोई भी दवा चिकित्सक की सलाह से ही ले, अन्यथा हानिकारक हो सकती है|

यह भी पढ़ें- हैजा होने के कारण, लक्षण, निदान, उपचार, और रोकथाम

प्रिय पाठ्कों से अनुरोध है, की यदि वे उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

1 thought on “मोटापा (Obesity) के कारण, लक्षण, निवारण, उपचार और निदान”

  1. हेलो भूपेंदर जी ,
    पहले तो आप को इस पोस्ट के लिए बहुत बहुत बधाई हो । आप का आर्टिकल मुझे बेहद पसंद आया ।आप ने मोटापे का करण और उनसे जुड़े खतरों को बेहत सरलता से बताया है और इस आर्टिकल को पड़ने के बात मेरे सभी डाउट क्लियर हो गए है। हालांकि मुझे नहीं पता था की मोटापा जेनेटिक कारणों से भी हो सकता है मेरे नजर में एक्सरसाइज नहीं करना और हेअल्थी खाने का सेवन नहीं करना मोटापे के बहुत बड़े करण थे पर जेनेटिक भी बॉडी शेप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *