मैट परीक्षा (MAT Exam)

मैट परीक्षा (MAT Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

मैट परीक्षा (MAT Exam) यानि प्रबंधन योग्यता परीक्षा एमबीए / पीजीडीएम कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है| चूंकि मैट परीक्षा (MAT Exam) साल में चार बार आयोजित की जाती है, ऑफ़लाइन पेपर पूर्वाह्न में आयोजित किया जाता है, और ऑनलाइन पेपर अलग-अलग समय-स्लॉट में आयोजित किया जाएगा|

स्नातक की डिग्री वाले अभ्यर्थियों को आईआईआर 1550 के आवेदन शुल्क का भुगतान करके, aima.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं| उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट पर अपना परिणाम देख सकते हैं| शीर्ष कॉलेजों के लिए, मैट कटऑफ 95+ प्रतिशत तक पहुंचने की उम्मीद रहती है| योग्य उम्मीदवारों को लिखित क्षमता परीक्षण के लिए बुलाया जाएगा, इसके बाद समूह चर्चा / व्यक्तिगत साक्षात्कार दौर होता है|

इस लेख में हम, मैट परीक्षा (MAT Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम आदि, पर विस्तृत जानकारी से अवगत करवाने का प्रयास करेंगे| जिससे इस परीक्षा के अभ्यार्थियों की मदद हो सके|

एमएटी परीक्षा की मुख्य विशेषताएं (Highlights of MAT Exam)

परीक्षा का नाम [Examination Name] मैट (प्रबंधन योग्यता परीक्षा) [MAT (Management Aptitude Test)]
प्राधिकरण का संचालन [Conducting Body] एआईएमए (अखिल भारतीय प्रबंधन संघ) [AIMA (All India Management Association)]
परीक्षा स्तर [Exam Level] राष्ट्रीय [National]
आवधिकता [Periodicity] एक वर्ष में चार बार [Four times a year]
आधिकारिक वेबसाइट [Official Website] www.aima.in
आवेदन का तरीका [Mode of Application] ऑनलाइन [Online]
परीक्षा का तरीका [Mode of Exam] ऑफ़लाइन और ऑनलाइन [Offline and Online]
प्रकार और प्रश्नों की संख्या [Type and Number of Questions] 200 उद्देश्य प्रकार प्रश्न [200 Objective Type Questions]
एमएटी स्कोर की वैधता [Validity of MAT Score] 1 वर्ष [1 year]
पाठ्यक्रम की पेशकश [Courses Offered] एमबीए / पीजीडीएम [MBA/PGDM]
मैट हेल्पडेस्क [MAT Helpdesk] 011-47673020 or [email protected]

ध्यान दें- अभ्यर्थी किसी एक मोड यानी पेपर आधारित टेस्ट (पीबीटी) या कंप्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी) या दोनों का चयन कर सकते हैं|

पीबीटी और सीबीटी दोनों के लिए चुनने वाले अभ्यर्थियों को 5 प्रबंधन संस्थानों का चयन करने के मौजूदा विकल्प के अलावा, अपने स्कोर भेजने के लिए अतिरिक्त 2 प्रबंधन संस्थानों का चयन करने का लाभ है, यानी वे कुल 7 प्रबंधन संस्थानों का चयन कर सकते हैं|

यह भी पढ़ें- फार्मेसी में डिप्लोमा (D.Pharma) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन

मैट परीक्षा के लिए योग्यता मानदंड (Eligibility Criteria for MAT Exam)

1. मैट परीक्षा में शामिल होने की मूल योग्यता यह है कि एक उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक होना चाहिए|

2. स्नातक के अपने अंतिम वर्ष में उम्मीदवार भी मैट परीक्षा (MAT Exam) के लिए आवेदन कर सकते हैं|

3. पहले काम का अनुभव जरूरी नहीं है, हालांकि, आवेदन के दौरान कार्य अनुभव के बारे में जानकारी मांगी जा सकती है|

4. न्यूनतम पास अंक एक संस्थान से दूसरे में भिन्न होते हैं|

नीचे दी गई तालिका मैट परीक्षा (MAT Exam) को क्रैक करने के लिए उम्मीदवार द्वारा आवश्यक न्यूनतम अंक दर्शाती है-

श्रेणी [Category] न्यूनतम प्रतिशत [Minimum Percentage]
अनुसूचित जाती [Scheduled Caste] 15%
अनुसूचित जनजाति [Scheduled Tribe] 7.5%
अन्य पिछड़ा वर्ग [OBC] 27%
पीएच उम्मीदवारों [PH Candidates] 3%

स्कोर गणना के लिए नियम

1. ग्रेड / सीजीपीए के मामले में, इसे लेवल पार्ट कंट्रोल इंस्टीट्यूट के योग्यता मानकों के अनुसार विभिन्न विश्वविद्यालय / प्रतिष्ठान के बाद प्रक्रिया के आधार पर बराबर प्रतिशत में परिवर्तित किया जाएगा|

2. न्यूनतम मैट पात्रता मानदंडों की पूर्ति कम करने के लिए उम्मीदवार की पात्रता को आश्वस्त नहीं करेगी|

आयु मानदंड

उम्मीदवार के लिए मैट परीक्षा (MAT Exam) के लिए उपस्थित होने की कोई आयु सीमा नहीं है|

प्रयासों की संख्या

1. अभ्यर्थी कई बार मैट परीक्षा (MAT Exam) में प्रकट हो सकते हैं, प्रयासों की संख्या पर कोई प्रतिबंध नहीं है|

2. मैट परीक्षा (MAT Exam) के लिए ऑनलाइन और ऑफ़लाइन परीक्षण साल में चार बार निर्धारित किए जाते हैं, स्कोर से संतुष्ट नहीं होने पर आप सभी चार परीक्षाओं में भाग ले सकते हैं|

यह भी पढ़ें- बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, स्कोप और वेतन

मैट परीक्षा के लिए आवेदन (Application for MAT Exam)

ऑनलाइन पंजीकरण

एमएटी पंजीकरण को पूरा करने में मुख्य रूप से 3 कदम शामिल हैं- आवेदन पत्र भरना, फोटोग्राफ और हस्ताक्षर अपलोड करना और मैट परीक्षा शुल्क का भुगतान करना| यहां बताया गया है कि आप ऑनलाइन मोड में मैट परीक्षा (MAT Exam) के लिए कैसे पंजीकरण कर सकते हैं-

1. मैट परीक्षा आधिकारिक वेबसाइट aima.in पर जाएं|

2. मैट परीक्षा (MAT Exam) के पंजीकरण पृष्ठ पर नेविगेट करने के लिए “मैट परीक्षा वर्तमान सत्र” के लिए आवेदन करें” बटन पर क्लिक करें|

3. पंजीकरण करने के लिए अपना नाम, मोबाइल नंबर, जन्मतिथि और ईमेल आईडी दर्ज करें|

4. अपने व्यक्तिगत और अकादमिक विवरण का उपयोग करके मैट परीक्षा (MAT Exam) आवेदन फ़ॉर्म भरें|

5. स्कैन की गई छवियों को अपलोड करें यानी, रंगीन पासपोर्ट आकार हालिया तस्वीर और निर्धारित प्रारूप में हस्ताक्षर हस्ताक्षर मैट फोटो आकार, आयाम, प्रारूप और अन्य विवरण देखें|

6. डेबिट कार्ड / क्रेडिट कार्ड / नेट बैंकिंग या डिमांड ड्राफ्ट का उपयोग करके निर्धारित एमएटी परीक्षा शुल्क का भुगतान करें|

7. सभी जानकारी दोबारा जांचें और फॉर्म जमा करें|

आवेदन शुल्क

1. मैट परीक्षा के लिए शुल्क क्रेडिट कार्ड / डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग, डिमांड ड्राफ्ट या नकद भुगतान के माध्यम से भुगतान किया जा सकता है|

2. अभ्यर्थी 1550 /- रुपये के अतिरिक्त 1100 /- रुपये की अतिरिक्त शुल्क का भुगतान करके पीबीटी और सीबीटी दोनों परीक्षणों का चयन कर सकते हैं| हालाँकि अलग अलग स्तर में शुल्क अलग हो सकता है|

3. आरक्षित श्रेणी के लिए कोई शुल्क रियायत नहीं है|

4. यदि किसी उम्मीदवार ने डिमांड ड्राफ्ट चुना है, तो उसे दिल्ली में देय “ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन” के पक्ष में डीडी बनाना होगा| डीडी को आवेदन पत्र जमा करने के अंतिम दिन या उससे पहले निम्नलिखित पते तक पहुंच जाना चाहिए-

प्रबंधक – मैट

अखिल भारतीय प्रबंधन संघ

प्रबंधन सभा, 14, संस्थागत क्षेत्र,

लोढ़ी रोड, नई दिल्ली – 110003

मैट आवेदन फार्म सुधार

1. यह संभव है कि कुछ उम्मीदवारों ने उचित जानकारी या दस्तावेजों की कमी के कारण गलत विवरण दर्ज कर सकते है|

2. एआईएमए मैट परीक्षा (MAT Exam) आवेदन पत्र में सुधार की अनुमति नहीं देता है|

3. हालांकि, किसी भी और प्रश्न के लिए, आप 011-47673020 या [email protected] पर संपर्क करें|

मैट परीक्षा प्रवेश पत्र (MAT Exam Admit Card)

1. ऑनलाइन और ऑफ़लाइन परीक्षाओं के लिए अलग-अलग प्रवेश पत्र जारी किए जाते हैं|

2. इसमें पेपर, परीक्षा केंद्र, परीक्षा की तिथि और समय स्लॉट, रोल नंबर और उम्मीदवार की तस्वीर जैसी जानकारी शामिल होती है|

3. मैट परीक्षा (MAT Exam) प्रवेश पत्र में देखी गई किसी भी विसंगति के मामले में, उम्मीदवारों को तुरंत आधिकारिक प्राधिकरण से संपर्क करना चाहिए|

यह भी पढ़ें- बीएससी मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी (B.Sc MLT) कोर्स प्रवेश, करियर और वेतन

प्रवेश पत्र कैसे डाउनलोड करें

छात्र प्रवेश पत्र डाउनलोड करने के लिए इन सरल चरणों का पालन कर सकते हैं-

1. एआईएमए की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं

2. स्क्रीन पर एक नया पेज खोला जाएगा

3. कोई भी दो विवरण दर्ज करें- आवेदन संख्या, जन्म तिथि और नाम

4. “सबमिट करें” बटन पर क्लिक करें

5. प्रवेश पत्र स्क्रीन पर प्रदर्शित किया जाएगा

6. अभ्यर्थियों को आगे के उपयोग के लिए प्रवेश पत्र का प्रिंटआउट लेने का सुझाव दिया जाता है|

परीक्षा केंद्र

1. एआईएमए ने मैट परीक्षा (MAT Exam) केंद्रों की सूची जारी की जाती है| केंद्र उन शहरों के नामों को सूचीबद्ध करते हैं, जहां परीक्षा कई केंद्रों में आयोजित की जाएगी| लेकिन अलग अलग सत्रों के लिए यह अलग हो सकती है|

2. ऑफ़लाइन मोड में मैट परीक्षा (MAT Exam) 51 शहरों में आयोजित की जाती है, देश भर के 12 शहरों में आयोजित कंप्यूटर आधारित परीक्षण की तुलना में|

3. दुबई और सिंगापुर में मैट परीक्षा भी आयोजित की जाती है|

4. मैट आवेदन पत्र भरते समय, उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे अपनी प्राथमिकता के अनुसार परीक्षा केंद्र का चयन करें|

5. एआईएमए आवेदन पत्र में उम्मीदवारों द्वारा भरे गए चुने गए मैट परीक्षा केंद्रों को आवंटित करने का प्रयास करेगा| परीक्षा केंद्र और निर्देशों का स्थान प्रवेश पत्र पर उल्लेख किया जाएगा|

मैट परीक्षा के लिए पैटर्न (Pattern for MAT Exam)

1. एआईएमए ने मैट के परीक्षा पैटर्न में कोई बदलाव नहीं किया है, हालाँकि यह हो सकता है, इसके लिए आप अधिकारिक वेबसाईट पर जा सकते है|

2. मैट ऑनलाइन और ऑफ़लाइन मोड दोनों में आयोजित किया जाएगा, हालांकि, मैट परीक्षा पैटर्न वही रहेगा|

3. एमएटी परीक्षा का पेपर पैटर्न प्रश्न, अंक, अवधि इत्यादि के अनुभागवार वितरण का वर्णन करता है| यह आपको प्रश्नों की प्रकृति के बारे में एक उचित विचार देगा|

पैटर्न की मुख्य हाइलाइट्स यहां दी गई हैं-

परीक्षा का तरीका [Mode of exam] ऑनलाइन और ऑफ़लाइन [Online and offline]
प्रश्नों की प्रकृति [Nature of questions] उद्देश्य [Objective]
प्रश्नों की कुल संख्या [Total number of questions] 200
खंडों की संख्या [Number of sections] 5 (डेटा विश्लेषण और क्षमता, भाषा समझ, खुफिया और गंभीर तर्क, गणितीय कौशल और भारतीय और वैश्विक पर्यावरण) [5 (Data Analysis & Sufficiency, Language Comprehension, Intelligence & Critical Reasoning, Mathematical Skills and Indian & Global Environment)]
परीक्षा अवधि [Exam duration] 2 घंटे 30 मिनट [2 hours 30 minutes]
अंकन योजना [Marking scheme] प्रत्येक सही उत्तर के लिए- +1 अंक [For each correct answer- +1 marks]

प्रत्येक गलत उत्तर के लिए- -¼ अंक [For each incorrect answer- -¼ marks]

मैट परीक्षा (MAT Exam) में अनुभागवार परीक्षा पैटर्न यहां दिया गया है-

अनुभाग [Section] प्रश्नों की संख्या [Number of Questions] समय सुझाए गए (मिनटों में) [Time Suggested (In Minutes)] आवंटित अंक [Marks Allotted]
भाषा समझ [Language Comprehension] 40 30 40
गणितीय कौशल [Mathematical Skills] 40 40 40
डेटा विश्लेषण और दक्षता [Data Analysis & Sufficiency] 40 35 40
खुफिया और गंभीर तर्क [Intelligence and Critical Reasoning] 40 30 40
भारतीय और वैश्विक पर्यावरण [Indian and Global Environment] 40 15 40
कुल [Total] 200 150 200

नोट: कोई सेक्शन-टाइम सीमा नहीं है और इस प्रकार, आप अनुभागों के बीच आगे और पीछे बढ़ सकते हैं|

यह भी पढ़ें- बैचलर ऑफ़ मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी (BMLT) कोर्स प्रक्रिया, स्कोप और वेतन

महत्वपूर्ण विषय

1. मैट के लिए पाठ्यक्रम स्नातक स्तर के प्रश्नों के प्रश्नों को शामिल करता है| यह उम्मीदवार की सामान्य योग्यता का परीक्षण करने के लिए डिज़ाइन किया गया है|

2. मैट सिलेबस को 5 वर्गों में बांटा गया है- भाषा समझ, गणितीय कौशल, खुफिया और गंभीर तर्क, डेटा विश्लेषण और दक्षता और भारतीय और वैश्विक पर्यावरण|

परीक्षा में कुछ सबसे महत्वपूर्ण विषय यहां दिए गए हैं-

गणितीय कौशल [Mathematical Skills] ज्यामिति, अंकगणितीय प्रगति, किश्त भुगतान, अनुपात और अनुपात, अंकगणितीय माध्य, लघुगणक, कार्य और समय
डेटा विश्लेषण और दक्षता [Data Analysis & Sufficiency] ग्राफ, कॉलम ग्राफ, बार ग्राफ, लाइन चार्ट, पाई चार्ट, क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले ग्राफ, वेन आरेख
खुफिया और गंभीर तर्क [Intelligence & Critical Reasoning] गंभीर तर्क, दृश्य तर्क, धारणा-प्रसार-निष्कर्ष, सम्मिलन और कारण, विवरण और धारणाएं, मैट्रिक्स व्यवस्था, कोडिंग और डिकोडिंग
भाषा समझ [Language Comprehension] मौखिक तर्क, शब्दावली, प्रासंगिक उपयोग, एनालॉजी, वाक्य पूर्णता, मुहावरे, वाक्य सुधार
भारतीय और वैश्विक पर्यावरण [Indian & Global Environment] भूगोल, वर्तमान मामलों, व्यापार, प्रमुख कॉर्पोरेट घटनाओं, विज्ञान, सामाजिक मुद्दों, अंतर्राष्ट्रीय संगठनों

मैट परीक्षा परिणाम और स्कोरकार्ड (MAT Exam Results and Scorecard)

एमआईटी स्कोरकार्ड एआईएमए की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध होंगे| उन्हें एसएमएस के माध्यम से पोस्ट / चेक के माध्यम से नहीं भेजा जाएगा|

मैट स्कोर केवल 1 वर्ष के लिए मान्य है|

उपरोक्त संस्थानों के अलावा, स्नातकोत्तर डिग्री / डिप्लोमा कार्यक्रमों के लिए उम्मीदवारों के प्रवेश पर विचार करने के लिए कुछ अन्य संस्थानों को भी मैट स्कोर स्वीकार्य है, विशिष्ट कट ऑफ अंक और अन्य प्रवेश मानकों के अधीन|

भारत में लगभग 600 बी-स्कूल मैट के परिणाम स्वीकार करते हैं|

परिणाम कैसे जांचें

एआईएमए की आधिकारिक वेबसाइट पर परिणाम के लिए मैट परिणाम घोषित किया जाएगा| इसे जांचने के लिए अपना रोल नंबर, एप्लिकेशन फॉर्म नंबर और पासवर्ड का प्रयोग का करें| मैट परिणाम देखने के लिए चरण निम्नानुसार हैं-

1. Www.aima.in पर एआईएमए की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं

2. त्वरित लिंक टैब के तहत, MAT परिणाम का चयन करें

3. एक लॉग-इन स्क्रीन खुल जाएगी

4. अपना रोल नंबर, फॉर्म नंबर और परीक्षण का महीना दर्ज करें

5. अपना MAT स्कोरकार्ड देखने के लिए सबमिट पर क्लिक करें

6. भविष्य के संदर्भ के लिए परिणाम डाउनलोड करें

एसएमएस पर मैट परिणाम

1. मैट परिणाम एसएमएस के माध्यम से भी चेक किया जा सकता है| MATS FORMNO DOB (ddmmyy) को 54242 पर लिखें|

2. उदाहरण के लिए: MATS 222193 039995 से 54242

यह भी पढ़ें- डिप्लोमा ऑफ मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी (DMLT) कोर्स प्रक्रिया, करियर और वेतन

मैट में भाग लेने वाले कॉलेजों में आवेदन करना (Applying in colleges participating in MAT)

अभ्यर्थियों को परीक्षा के पहले या बाद में मैट कॉलेजों में आवेदन करना होगा जिसके लिए वे प्रवेश लेना चाहते हैं| वे 5 कॉलेजों के लिए आवेदन कर सकते हैं| कॉलेजों में आवेदन करने के लिए, नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करें-

1. मैट आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं

2. कॉलेजों में आवेदन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें

3. पंजीकरण संख्या और डीओबी दर्ज करें

4. सबमिट बटन पर क्लिक करें

5. कॉलेजों के लिए आवेदन करें

6. फॉर्म को सहेजें

नोट: पीबीटी और सीबीटी दोनों के लिए चुनने वाले अभ्यर्थियों को 5 प्रबंधन संस्थानों का चयन करने के मौजूदा विकल्प के अलावा, अपने स्कोर भेजने के लिए अतिरिक्त 2 प्रबंधन संस्थानों का चयन करने का लाभ है, यानी वे कुल 7 प्रबंधन संस्थानों का चयन कर सकते हैं|

मैट परामर्श (MAT Consulting)

1. नतीजे घोषित करने के बाद, भाग लेने वाले कॉलेजों में एमबीए और पीजीडीएम कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए एमएटी परामर्श दौर आयोजित किए जाते हैं|

2. उम्मीदवार एआईएमए की आधिकारिक वेबसाइट पर aima.in पर और कॉलेज की संबंधित वेबसाइट पर परामर्श अधिसूचना पा सकते हैं|

3. उन्हें एमएटी परीक्षा में अपने स्कोर के आधार पर कॉलेजों में सीटें आवंटित की जाती हैं|

4. प्रदान की गई तारीख पर इसमें भाग लेने के लिए ऑनलाइन परामर्श के लिए पंजीकरण महत्वपूर्ण है|

5. परामर्श शुल्क जमा करना ऑनलाइन होता है|

6. उम्मीदवार ऑफलाइन परामर्श के लिए भी आवेदन कर सकते हैं| इसमें, उम्मीदवारों को आवंटित रिपोर्टिंग सेंटर पर रिपोर्ट करने की आवश्यकता है|

7. मैट परामर्श के समय, आपके सभी दस्तावेज जैसे प्रवेश पत्र, रैंक कार्ड, मूल प्रमाणपत्र, जाति प्रमाण पत्र यदि कोई हो और कम से कम 6 पासपोर्ट आकार काले और सफेद और रंगीन तस्वीरों को लाने के लिए आवश्यक है|

कैट और मैट परीक्षा के बीच अंतर क्या हैं?

कुछ प्रमुख अंतर नीचे दिए गए हैं-

मूल पात्रता- उम्मीदवार को कैट के लिए आवेदन करने के लिए स्नातक स्तर में 50% अंक सुरक्षित करना होगा, मैट के लिए आवेदन करने के लिए आवश्यक न्यूनतम प्रतिशत नहीं है|

परीक्षा का तरीका- कैट ऑनलाइन आयोजित किया जाता है, जबकि मैट अलग-अलग तिथियों पर ऑनलाइन और ऑफ़लाइन मोड दोनों में आयोजित होता है| कठिनाई स्तर- रुझान बताते हैं कि कैट बहुत कठिन है| हालांकि पाठ्यक्रम में दोनों के लिए पाठ्यक्रम मैट में सामान्य ज्ञान के अतिरिक्त खंड के साथ समान रहता है|

संचालन- कैट का आयोजन एक आईआईएम द्वारा एक घूर्णन आधार पर किया जाता है, जबकि मैट एआईएमए द्वारा आयोजित किया जाता है|

यह भी पढ़ें- ऑप्टोमेट्री डिप्लोमा (Optometry Diploma) कोर्स प्रवेश, पात्रता, स्कोप और वेतन

परीक्षा की आवधिकता- जबकि वर्ष में एक बार कैट आयोजित की जाती है, वहीं मैट वर्ष में 4 बार आयोजित किया जाता है|
कॉलेज- कैट स्कोर आईआईएम सहित टायर I संस्थानों और बी-स्कूलों द्वारा स्वीकार किया जाता है| दूसरी तरफ, मैट द्वितीय संस्थानों और बी-स्कूलों द्वारा स्वीकार किया जाता है|

यह तो थी, मैट परीक्षा (MAT Exam) योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम आदि की जानकारी, आप भी उपरोक्त प्रक्रिया का पीछा कर के इस परीक्षा का हिस्सा बन सकते है|

यदि हमारे प्रिय पाठक उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

शुभकामनाएं

महत्वपूर्ण लिंक- Management Aptitude Test

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *