बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY)

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) कोर्स प्रवेश, अवधि, पात्रता और करियर

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) कोर्स आंखों की देखभाल से संबंधित एक स्नातक कार्यक्रम है| बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) आंखों की देखभाल का विज्ञान है, जिसमें आंखों की परीक्षा, निदान, उपचार और रोगों के प्रबंधन और दृश्य प्रणाली के विकार शामिल हैं| यह एक दृष्टि देखभाल विज्ञान है, बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) एक चार साल का कोर्स है, जिसमें तीन साल की शिक्षा और नैदानिक ​​अनुभव में इंटर्नशिप का एक वर्ष शामिल है|

इस कोर्स की पेशकश करने वाले शीर्ष संस्थान हैं, जैसे

1. एम्स, नई दिल्ली

2. एसआरएम विश्वविद्यालय, कांचीपुरम

3. भारती विद्यापीठ विश्वविद्यालय, पुणे

4. एनआईएमएस यूनिवर्सिटी, जयपुर

5. मणिपाल विश्वविद्यालय, मणिपाल

इसे मानव आंखों के दृष्टिकोण में सुधार लाने के उद्देश्य से आंखों के उपकरण (लेंस और चश्मा समेत) के विज्ञान के रूप में भी परिभाषित किया जा सकता है| इसमें दृष्टि के सभी प्रकार की बाधाओं को हटाने का एक व्यक्ति शामिल हो सकता है| यह एक गतिशील और चुनौतीपूर्ण करियर है, जो किसी को लोगों की देखभाल करने, व्यक्तिगत विकास, सामुदायिक सम्मान, नौकरी लचीलापन और वित्तीय स्थिरता प्राप्त करने की अनुमति देता है|

भारत में औसत बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) कोर्स शुल्क आम तौर पर 2 से 4 लाख रुपये के बीच होता है| ऑप्टिक्स में एक करियर संभवतः क्षेत्र में अनुभव और कौशल के साथ बढ़ने के लिए 5 से 6 लाख रुपये के बीच औसत वार्षिक वेतन प्राप्त कर सकता है| कार्यक्रम को पैरामीडिकल स्तर पर बहुउद्देशीय नेत्र मानव शक्ति विकसित करने के उद्देश्य से क्यूरेट किया जाता है|

यह भी पढ़ें- बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry) कोर्स प्रवेश, सिलेबस, स्कोप और वेतन

पाठ्यक्रम में पेश किए गए मूल प्रशिक्षण और व्यावहारिक जोखिम को योग्य उम्मीदवारों को ऑप्टिशियन, ऑप्टोमेट्रिस्ट, अपवर्तनवादी और ओप्थाल्मिक सहायक जैसे क्षमताओं में सक्षम सेवाएं प्रदान करने के लिए तैयार किया गया है| इस धारा के स्नातक निजी, अर्ध सरकारी और सरकारी क्षेत्रों में शहरी, अर्ध-शहरी और ग्रामीण सेटिंग में समुदाय की सेवा कर सकते हैं|

यहां हम छात्रों की जानकारी के लिए बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) कोर्स प्रवेश, अवधि, पात्रता और करियर, पर विस्तार से चर्चा करेंगे|

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री कोर्स के हाइलाइट्स (Highlights of the Bachelor of Optometry Course)

पाठ्यक्रम की कुछ प्रमुख विशेषताएँ नीचे सूचीबद्ध हैं, जैसे की-

कोर्स स्तर स्नातक
अवधि 4 years
परीक्षा का प्रकार वार्षिक प्रणाली
पात्रता मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान के साथ एक मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से 10 + 2।
प्रवेश प्रक्रिया एक प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा लेने के बाद परामर्श
पाठ्यक्रम शुल्क 2 से 4 लाख रुपये
औसत प्रारंभिक वेतन 5 से 6 लाख रुपये
शीर्ष भर्ती क्षेत्र क्रिज़ल, बॉश एंड लॉम, टाइटन आई प्लस, रेबैन इत्यादि|

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री के बारे में (About the Bachelor of Optometry)

ऑप्टिक्स मानव आंख की संरचना, कार्य, और संचालन शामिल विज्ञान की शाखा है| ऑप्टोमेट्रिस्टर्स स्वास्थ्य पेशेवर हैं, जो आंखों की देखभाल में विशिष्ट है| वे आंखों के परीक्षण से निपटते हैं, और आंशिक दृष्टि, वंशानुगत दृष्टि दोष, स्क्विंट, आंख की मांसपेशियों को कमजोर करने वाले दृष्टि विकारों से ग्रस्त मरीजों को समाधान प्रदान करते हैं| वे वैकल्पिक दृष्टि सहायक उपकरण जैसे चश्मा या संपर्क लेंस का सुझाव देते हैं|

वे मोतियाबिंद से व्यक्तिगत पीड़ा के लिए पूर्ववर्ती और बाद में देखभाल प्रदान करते हैं| अक्सर ऑप्टोमेट्रिस्टर्स मधुमेह या उच्च रक्तचाप जैसे सिस्टमिक समस्याओं के कारण आंख की स्थितियों की खोज करते हैं, और अपने मरीजों को अन्य चिकित्सा डॉक्टरों को संदर्भित करते हैं|

यह भी पढ़ें- ऑप्टोमेट्री डिप्लोमा (Optometry Diploma) कोर्स प्रवेश, पात्रता, स्कोप और वेतन

चूंकि आंख सबसे महत्वपूर्ण मानव अंगों में से एक है, इसलिए ऑप्टिमेट्रिस्टर्स को भारत और विदेशों में आकर्षक करियर विकल्पों की एक विस्तृत श्रृंखला की पेशकश की जाती है, जो दूसरों को अंधेरे से प्रकाश तक ले जाने की ज़िम्मेदारी सौंपी जाती है|

शीर्ष संस्थान बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री कोर्से पेश करते हैं (Top institutes offer B. Optometry Courses)

नीचे सूचीबद्ध कुछ शीर्ष संस्थान देश में पाठ्यक्रम के साथ संबंधित स्थानों के साथ पाठ्यक्रम पेश करते हैं, जैसे की-

1. एसआरएम विश्वविद्यालय कांचीपुरम

2. शारदा विश्वविद्यालय नोएडा

3. मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी मणिपाल

4. गलोगियास यूनिवर्सिटी नोएडा

5. भारती विद्यापीठ डीम्ड यूनिवर्सिटी पुणे

6. एमिटी यूनिवर्सिटी गुड़गांव

7. चित्रकारा विश्वविद्यालय पटियाला

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री पात्रता (Bachelor of Optometry Eligibility)

1. मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान के साथ एक मान्यता प्राप्त बोर्ड से एक एचएससी (10 + 2) योग्यता पूर्ण हो गई होनी चाहिए है, और कुल मिलाकर कम से कम 50% अंकों के साथ उम्मीदवार के लिए पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए आवश्यक पात्रता का न्यूनतम मानदंड है|

2. कुछ संस्थान प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा में उम्मीदवार के प्रदर्शन के आधार पर प्रवेश प्रदान करते हैं| पाठ्यक्रम के लिए चयन प्रक्रिया संस्थान या विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित मानदंडों और नियमों के अनुसार भिन्न हो सकती है, जिनके लिए कॉलेज संबद्ध है|

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री प्रवेश प्रक्रिया (Bachelor of Optometry Admission Process)

आकांक्षा योग्य उम्मीदवारों को पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए एक प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा अर्हता प्राप्त करने की आवश्यकता होती है, जैसे कि ईवाईईसीईटी, जो एक केंद्रीकृत आम प्रवेश परीक्षा है, जिसे आवेदक के लिए आवेदक की योग्यता का आकलन करने के लिए डिज़ाइन किया गया है| इस तरह का एक और परीक्षण पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एम्स) ऑप्टोमैट्री परीक्षण है|

यह भी पढ़ें- डेंटल हाइजीनिस्ट (Dental Hygienist) कोर्स प्रक्रिया, योग्यता करियर और वेतन

देश में कई संस्थान हैं, जो ऑप्टोमेट्री पाठ्यक्रम, जैसे अकादमी ऑफ ऑप्टोमेट्री (कोलकाता), एम्स (नई दिल्ली), बॉश एंड लॉम स्कूल ऑफ़ ऑप्टोमेट्री (हैदराबाद), और अन्य|

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री सिलेबस और कोर्स विवरण (BO Syllabus and Course Details)

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री सिलेबस और कोर्स विवरण नीचे सारणीबद्ध है, जैसे की-

पहला साल  दूसरा साल  तीसरा साल
मनुष्य जीव विज्ञान

मूल जैव रसायन

शारीरिक प्रकाशिकी और प्रकाश का प्रैक्टिकल

ज्यामितीय ऑप्टिक्स

डिस्पेंसिंग ऑप्टिक्स, मैं

नेत्र शरीर रचना विज्ञान और फिजियोलॉजी

बेसिक ओकुलर फार्माकोलॉजी

पैथोलॉजी और माइक्रोबायोलॉजी

ओप्थाल्मिक ऑप्टिक्स पब्लिक

कंप्यूटर बुनियादी बातों

विजुअल ऑप्टिक्स

ऑप्टिक्स डिस्पेंसिंग II

ओप्थाल्मिक इंस्ट्रूमेंट्स

ओकुलर रोग

ऑप्टिक्स और अपवर्तन

ऑप्टोमेट्रिक ऑप्टिक्स एलवीए

ऑप्टोमेट्रिक ऑप्टिक्स एलवीए

अस्पताल प्रक्रियाएं और मनोविज्ञान

जनसंपर्क और कानून

संपर्क लेंस I

द्विपक्षीय दृष्टि ओकुलर गतिशीलता

प्रणालीगत रोग और आई

प्रमुख आंख रोग

पोषण और आई

सार्वजनिक स्वास्थ्य और समुदाय

संपर्क लेंस II

उन्नत ऑर्थोटिक्स

एप्लाइड क्लीनिकल ऑप्टोमेट्री

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री: कौन चुने

मैन्युअल निपुणता, धैर्य और आत्मविश्वास, अच्छी दृष्टि, यांत्रिक योग्यता, समन्वय, एक उत्कृष्ट निर्णय, और विस्तार पर ध्यान देने योग्य योग्य उम्मीदवार पाठ्यक्रम के लिए सबसे उपयुक्त हैं|

बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री कैरियर प्रॉस्पेक्ट्स (B. Optometry Career Prospectus)

सरकारी अस्पतालों और निजी क्लीनिकों में नेत्र चिकित्सकों की सहायता करने जैसे कैरियर विकल्पों के अलावा, एक ऑप्टिमेट्रिस्ट भी एक निजी अभ्यास करने के लिए जा सकता है|

अनुशासन में उच्च अध्ययन में रुचि रखने वाले पाठ्यक्रम के सफल स्नातक विषय में पीएचडी या एमएससी के लिए जा सकते हैं|

ऐसे स्नातक यहां सूचीबद्ध कैरियर विकल्प ढूंढ सकते हैं, जैसे-

1. अस्पतालों / क्लीनिकों में नेत्र रोग विशेषज्ञों की सहायता करना|

2. ऑप्टिकल प्रतिष्ठानों में अभ्यास करें|

यह भी पढ़ें- एमबीबीएस कोर्स (MBBS Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम, वेतन, करियर

3. ऑप्टिकल दुकानों को चलाएं|

4. नेत्रहीन लेंस, संपर्क लेंस और नेत्र उपकरणों के निर्माण और वितरण से निपटने वाले बहुराष्ट्रीय कंपनियों को नैदानिक सेवाएं प्रदान करें|

ऐसे स्नातकों के लिए खुले कुछ लोकप्रिय मार्ग संबंधित पदों के लिए प्रस्तावित संबंधित वेतन के साथ नीचे सूचीबद्ध हैं-

नौकरी की स्थिति नौकरी का विवरण औसत वार्षिक वेतन रुपये में
ऑप्टोमेट्रिस्ट दृष्टि विशेषज्ञ स्वतंत्र प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता हैं जो आंखों की देखभाल और दृश्य स्वास्थ्य में विशेषज्ञ हैं| दृष्टि विशेषज्ञ चिकित्सा पेशेवर हैं, लेकिन चिकित्सकों नहीं। वे नियमित दृष्टि देखभाल पर ध्यान केंद्रित करते हैं और चश्मे और संपर्कों को निर्धारित करते हैं| दृष्टि विशेषज्ञ आंखों की आंतरिक और बाहरी संरचना की जांच| 6 से 9 लाख
नेत्र-विशेषज्ञ एक नेत्र रोग विशेषज्ञ एक चिकित्सक है, जो आंख और दृष्टि प्रणाली की शल्य चिकित्सा और चिकित्सा देखभाल में माहिर हैं| ओप्थाल्मोलॉजिस्ट पूरी आंखों की देखभाल सेवाएं प्रदान करते हैं| इनमें दृष्टि सेवाएं, चिकित्सा आंखों की देखभाल, सर्जिकल आंखों की देखभाल, निदान और आंखों के उपचार शामिल हैं| 3 से 4 लाख
प्रकाशविज्ञानशास्री एक ऑप्टिशियन आंखों की देखभाल टीम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, लेकिन एक आंख डॉक्टर नहीं है| एक ऑप्टिशियन एक ऑप्टोमेट्रिस्ट या नेत्र रोग विशेषज्ञ द्वारा लिखे गए एक पर्चे का उपयोग करता है| एक ऑप्टिशशियन एक तकनीशियन है, जिसे दृष्टि को सही करने के लिए चश्मा लेंस और फ्रेम, संपर्क लेंस, और अन्य उपकरणों को डिजाइन, सत्यापित और फिट करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है| 9 से 12 लाख
ऑप्टिक्स प्रोफेसर ऑप्टिक्स प्रोफेसर कुछ डिग्री नैदानिक अभ्यास / या निर्देश के साथ अकादमिक और व्याख्यान में लगे हुए हैं| ऑप्टोमेट्रिस्टर्स के लिए कई शिक्षण अवसर ऑप्टिमेट्री स्कूलों तक ही सीमित हैं, हालांकि, कुछ संस्थान (विश्वविद्यालय, चिकित्सा केंद्र, और मेडिकल स्कूल) हैं, जो मुख्य रूप से संपर्क लेंस और कम दृष्टि के विषयों में छात्रों, निवासियों और कर्मचारियों को शिक्षित करने के लिए ऑप्टोमेट्रिस्टर्स की तलाश करते हैं| 4 से 6 लाख

इस प्रकार आप बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) कोर्स प्रवेश, अवधि, पात्रता और करियर, की प्रक्रिया के तहत दृष्टि विशेषज्ञता के क्षेत्र में अपना भविष्य उज्ज्वल बना सकते है|

यह भी पढ़ें- बीडीएस कोर्स (BDS Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम, वेतन और करियर

प्रिय पाठ्कों से अनुरोध है, की यदि वे उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी आपके पास है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

शुभकामनाएं

5 thoughts on “बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री (OPTOMETRY) कोर्स प्रवेश, अवधि, पात्रता और करियर”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *