बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS)

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, स्कोप और वेतन

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) एक स्नातक उपाधि है, जो साढ़े चार साल के कार्यक्रम के सफल समापन के बाद प्रदान की जाती है, जिसमें आधुनिक चिकित्सा और पारंपरिक आयुर्वेद की एकीकृत प्रणाली के अध्ययन को शामिल किया गया है| हम यहां, बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, स्कोप और वेतन, आदि पर विस्तार से प्रकाश डालेंगे|

पाठ्यक्रम अवधि में इंटर्नशिप का एक वर्ष भी शामिल है, और वर्तमान जीवन संरचनाओं, शरीर विज्ञान, समाधान के मानकों, सामाजिक और निवारक फार्मास्यूटिकल्स, फार्माकोलॉजी, विषाक्त विज्ञान, कानूनी दवा, हर्बल विज्ञान, ईएनटी, सर्जरी के मानकों और इस तरह की विस्तृत जांच शामिल है|

आयुर्वेदचार्य डिग्री के लाभार्थी को दिया गया प्रमाण पत्र है, और डिग्री धारक वैदियर शीर्षक को उनके नाम से पहले उपसर्ग कर सकते हैं (संक्षेप में वीआर.)|

यह भी पढ़ें- जीएनएम कोर्स (GNM Course) प्रवेश प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन

भारत में पाठ्यक्रम के सफल स्नातकों को औसत मासिक वेतन 40,000 से 50,000 के बीच दिया जाता है| आइए अब हम बात, बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, स्कोप और वेतन, आदि के बारे में|

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी कोर्स के कुछ महत्वपूर्ण (Some important of the BAMS course)

यहां दिए गए पाठ्यक्रम की बुनियादी विशेस्ताएं दी गई हैं, जैसे की-

पाठ्यक्रम का नाम- आयुर्वेदिक चिकित्सा विज्ञान में बीएएमएस

पाठ्यक्रम स्तर- स्नातक

अवधि- 3 साल, पूर्णकालिक / दूरस्थ शिक्षा

स्ट्रीम- आयुर्वेदिक चिकित्सा विज्ञान

परीक्षा का प्रकार- वार्षिक / सेमेस्टर

योग्यता- भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान के साथ मुख्य विषयों के रूप में 10 + 2 या समकक्ष योग्यता|

प्रवेश प्रक्रिया- प्रवेश परीक्षा + समूह चर्चा / व्यक्तिगत साक्षात्कार

औसत पाठ्यक्रम शुल्क- 3 के से 15 लाख रुपये

औसत प्रारंभिक वेतन- 2.5 से 12 लाख रुपये

शीर्ष भर्ती कंपनियों- स्वास्थ्य देखभाल। डाबर, बैद्यनाथ और हिमालय फर्म, मद्रास विश्वविद्यालय, कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाल, आयुर्वेद इत्यादि|

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी कोर्स की पेशकश करने वाले शीर्ष संस्थान (Top institutions offering BAMS Course)

पाठ्यक्रम के लिए भारत में लगाए गए औसत शिक्षण शुल्क में 3,000 (सरकारी संस्थान) से 12 लाख (निजी संस्थान) के बीच है|

भारत में कुछ शीर्ष संस्थान नीचे सूचीबद्ध हैं, जो पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं, जैसे की-

1. बाबा फरीद विश्वविद्यालय स्वास्थ्य विज्ञान फरीदकोट, पंजाब

2. स्वास्थ्य विज्ञान के महाराष्ट्र विश्वविद्यालय नासिक, महाराष्ट्र

3. मेडिकल साइंस नागपुर, महाराष्ट्र, दत्ता मेघ इंस्टीट्यूट

4. ज्यूपिटर आयुर्वेद मेडिकल कॉलेज नागपुर, महाराष्ट्र

5. भारती विद्यापिठ विश्वविद्यालय पुणे, महाराष्ट्र

यह भी पढ़ें- एमबीबीएस कोर्स (MBBS Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम, वेतन, करियर

6. बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी वाराणसी, उतार प्रसाद

7. आयुष और स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय रायपुर, छत्तीसगढ़

8. राष्ट्रीय इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी दीमापुर, नागलाण्ड

9. देश भगत विश्वविद्यालय गोबिंदगढ़, पंजाब

10. गुजरात आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय जामनगर, गुजरात

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी के लिए योग्यता (Eligibility for BAMS)

योग्यता के न्यूनतम मानदंड के रूप में, इच्छुक उम्मीदवारों को भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान और आदर्श रूप से संस्कृत के साथ मुख्य विषयों के रूप में 10+2 या समकक्ष योग्यता पूर्ण करने की आवश्यकता है|

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी के लिए प्रवेश प्रक्रिया (Admission Process for BAMS)

पाठ्यक्रम में प्रवेश की प्रक्रिया संस्थानों में भिन्न हो सकती है| कुछ संस्थान उम्मीदवारों को चुनने और स्वीकार करने के लिए अपनी प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं, जबकि कुछ चुनिंदा छात्रों को अकेले 10+2 स्तर पर उनके स्कोर के आधार पर, मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान के साथ अनिवार्य रूप से पूरा किया जाता है|

पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए देश में आयोजित ऐसी कुछ प्रमुख प्रवेश परीक्षाएं यहां सूचीबद्ध हैं, जैसे की-

1. केएलईयू एआईईटी- केएलई विश्वविद्यालय

2. एपी ईएएमसीईटी- आंध्र प्रदेश इंजीनियरिंग, कृषि और चिकित्सा आम प्रवेश परीक्षा

3. असम सीईई- असम संयुक्त प्रवेश परीक्षा

4. टीएस ईएएमसीईटी- तेलंगाना इंजीनियरिंग, कृषि और चिकित्सा आम प्रवेश परीक्षा|

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी: सिलेबस एंड कोर्स स्ट्रक्चर (BAMS Syllabus and Course Structure)

यहां अनुभाग-वार सूचीबद्ध, प्रमुख घटक हैं, जो कोर्स पाठ्यक्रम का हिस्सा बनते हैं, जैसे की-

सेक्शन- 1 (1.5 वर्ष)

1. आयुर्वेद का इतिहास

2. संस्कृत और संहिता

3. पदर्थ विज्ञान (आयुर्वेदिक दर्शन)

4. रचना शारिरा (शरीर रचना)

5. क्रिया शिरिरा (शरीर विज्ञान)

यह भी पढ़ें- एएनएम नर्सिंग (ANM Nursing) कोर्स, प्रवेश प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन

सेक्शन- 2 (1.5 वर्ष)

1. रस शास्त्री अवम भिसज्य कल्पना (आयुर्वेद के फार्मास्यूटिकल्स)

2. द्रविगुन (आयुर्वेद के मटेरिया मेडिका)

3. व्यावरा आयुर्वेद, आगादंत्र, और विधान वैद्यका (न्यायशास्र और विष विज्ञान)

4. निदान / विकृति विज्ञान (पैथोलॉजी) / नदी पार्किसा (पल्स निदान)

5. स्वस्थव्रित्ता योग (आहार और आहार सहित व्यक्तिगत और सामाजिक स्वच्छता)

6. चरका संहिता (आयुर्वेद का शास्त्रीय पाठ)

सेक्शन- 3 (1.5 वर्ष)

1. काया चिकित्ता (रसयान और वैजीकराना, आयुर्वेदिक चिकित्सा विज्ञान पंचकर्मा सहित)

2. शाल तंत्र (सामान्य सर्जरी और परजीवी तकनीकें)

3. शालक्य तंत्र (ईएनटी, आई और दंत चिकित्सा)

4. प्रसूति तंत्र अवम स्ट्री रोगा (स्त्री रोग और प्रसूति-विज्ञान)

5. कौमारा भृति (पेडियाट्रिक्स)

6. चिकित्सा नैतिकता

7. स्वास्थ्य विनियम

8. योग

9. निबंध|

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी के बाद करियर प्रॉस्पेक्ट्स (Career Prospects After BAMS)

पाठ्यक्रम के सफल स्नातक दोनों सरकारी और निजी आयुर्वेद क्लीनिकों में आयुर्वेदिक दवा विशेषज्ञ के रूप में कार्यरत हैं, या निजी अभ्यास का पीछा कर सकते हैं| ऐसे पेशेवरों के लिए रोजगार के क्षेत्र में हेल्थकेयर समुदाय, बीमा, जीवन विज्ञान उद्योग, और फार्मा उद्योग आदि शामिल हैं|

ऐसे स्नातकों को श्रेणी प्रबंधक, चिकित्सा प्रतिनिधि, व्यापार विकास अधिकारी, आयुर्वेदिक डॉक्टर, बिक्री प्रतिनिधि, क्षेत्रीय बिक्री कार्यकारी / प्रबंधक, उत्पाद प्रबंधक, सहायक दावा प्रबंधक, फार्मासिस्ट, जूनियर क्लिनिकल ट्रायल समन्वयक इत्यादि जैसी क्षमताओं में रखा जाता है|

यह भी पढ़ें- बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) कोर्स प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम और करियर

ऐसे पेशेवरों के लिए रोजगार के क्षेत्र में हेल्थकेयर समुदाय, बीमा, जीवन विज्ञान उद्योग, और फार्मा उद्योग आदि शामिल हैं|

बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी के बाद नौकरी विवरण और संभावित वेतन (Job Description and Possible Salary after BAMS)

ऐसे स्नातकों के लिए खुले कुछ लोकप्रिय व्यावसायिक मार्ग नीचे दिए गए वेतन और नौकरी की जिम्मेदारियों के साथ नीचे सारणीबद्ध हैं|

1. नौकरी का नाम- श्रेणी प्रबंधक

नौकरी का विवरण- एक खुदरा श्रेणी प्रबंधक एक विशिष्ट प्रकार के उपचार को बढ़ावा देने, मूल्यांकन करने, प्रशासन करने और पेशकश करने का एक इन-स्टोर प्रभारी है| खुदरा श्रेणी प्रबंधक इन-स्टोर मर्चेंडाइज का प्रबंधन करते हैं|

औसत वार्षिक वेतन- 3 से 10 लाख रुपये

2. नौकरी का नाम- चिकित्सा प्रतिनिधि

नौकरी का विवरण- चिकित्सा प्रतिनिधि फार्मास्युटिकल और पुनर्स्थापना संगठनों और सामाजिक बीमा विशेषज्ञों के बीच संपर्क का मुख्य धागा हैं|

औसत वार्षिक वेतन- 3 से 9 लाख रुपये

यह भी पढ़ें- आईबीपीएस एसओ (IBPS SO) परीक्षा योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

3. नौकरी का नाम- आयुर्वेदिक डॉक्टर

नौकरी का विवरण- एक आयुर्वेदिक चिकित्सक प्राकृतिक उपचार का उपयोग करता है, ताकि रोगियों को शांत जीवन जीने, प्रदूषणकारी प्रभावों को दूर करने, तनाव कम करने और युद्ध की बीमारियों को दूर करने में मदद मिल सके| शरीर, मस्तिष्क और आत्मा के बीच परस्पर संपर्क पर जोर दिया जाता है| आयुर्वेदिक पेशेवर आहार आहार, जीवन शैली विकल्प, और दिमाग के परिणामस्वरूप राज्यों का सर्वेक्षण करते हैं|
औसत वार्षिक वेतन- 4 से 12 लाख रुपये

तो आप बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, स्कोप और वेतन, आदि के बारे में जान गये होंगे और आप भी प्रक्रिया तहत डॉक्टर बन सकते है|

प्रिय पाठ्कों से अनुरोध है, की यदि वे उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी आपके पास है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

शुभकामनाएं

6 thoughts on “बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, स्कोप और वेतन”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *