बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) कोर्स प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम और करियर

नर्सिंग या बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) में बैचलर ऑफ साइंस एक 4 साल का स्नातक पाठ्यक्रम है, न्यूनतम पात्रता मानदंड जिसके लिए भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान में 10+2 स्तर की शिक्षा का सफल समापन है| बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) प्रवेश संबंधित बीएससी द्वारा आयोजित अप्रैल-जून के बीच आयोजित प्रवेश परीक्षाओं पर आधारित है|

यहां हम बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम, वेतन और करियर, पर विस्तार से प्रकाश डालेंगे, जो आपकी इस बेहतरीन कोर्स को जानने में मदद करेगा|

भारत में कई कॉलेज इस कोर्स को दवा की शाखा के रूप में पेश करते हैं| कुछ शीर्ष कॉलेजों का उल्लेख नीचे दिया गया है, जैसे

1. ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, नई दिल्ली

2. जवाहर लाल इंस्टिट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, पुडुचेरी

4. श्री रामचंद्र विश्वविद्यालय, चेन्नई

5. पं. भागवत दयाल शर्मा पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ मैडिकल साईंसिस, रोहतक

औसत पाठ्यक्रम शुल्क 8,000 से 30,000 रुपये प्रति वर्ष तक है|

यह भी पढ़ें- बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS) कोर्स प्रवेश प्रक्रिया, स्कोप और वेतन

बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) का उद्देश्य नर्सिंग पाठ्यक्रम अस्पताल और समुदाय में समस्या सुलझाने के दृष्टिकोण के आधार पर व्यापक नर्सिंग देखभाल प्रदान करने में ज्ञान और कौशल में सक्षमता का प्रदर्शन करना है| बीएससी नर्सिंग कैरियर विकल्पों में अस्पतालों, नर्सिंग होम, क्लीनिक और स्वास्थ्य विभाग, रेलवे और रक्षा इत्यादि जैसे क्षेत्रों में रोजगार शामिल है|

इस बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) में एक पोस्ट-बेसिक कोर्स भी शामिल है, जिसे आगे 2 श्रेणियों में बांटा गया है, जैसे नियमित और दूरी बीएससी नर्सिंग पोस्ट-बेसिक रेगुलर कोर्स 2 साल की अवधि का है, और सामान्य नर्सिंग और मिडवाइफरी (जीएनएम) के साथ 10+2 शिक्षा की आवश्यकता है, जबकि दूरस्थ पाठ्यक्रम 3 साल की अवधि है, और जीएनएम के साथ 10+2 स्तर की शिक्षा की आवश्यकता है और 2 साल का अनुभव जरूरी है|

नर्सिंग पाठ्यक्रम में डिप्लोमा

1. सहायक नर्सिंग मिडवाइफरी

2. सामान्य नर्सिंग और मिडवाइफरी

बीएससी नर्सिंग कोर्स विशेषताएं (BSc Nursing Course Features)

कोर्स स्तर स्नातक स्तर की पढ़ाई
अवधि चार वर्ष
परीक्षा का प्रकार सेमेस्टर सिस्टम
पात्रता भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान में 10+2
प्रवेश प्रवेश परीक्षा के आधार पर
कोर्स शुल्क 8000 से 30,000 रुपये
औसत प्रारंभिक वेतन 3 से 6 लाख रुपये
शीर्ष भर्ती संगठन अपोलो अस्पताल उद्यम, फोर्टिस हेल्थकेयर, मेडांता मेडिसिटी, कोलंबिया एशिया अस्पताल, वोकहार्ट अस्पताल, ग्लोबल अस्पताल, मैक्स अस्पताल, मणिपाल अस्पताल
शीर्ष भर्ती क्षेत्रों रक्षा सेवाएं, कॉलेज, नर्सिंग स्कूल, अस्पताल, स्वास्थ्य विभाग इत्यादि।
शीर्ष नौकरी प्रोफाइल केस मैनेजर, प्रमाणित नर्स मिडवाइफ, क्लिनिकल नर्स विशेषज्ञ, प्रबंधक / प्रशासक, नर्स एनेस्थेटिस्ट, नर्स शिक्षक, नर्स प्रैक्टिशनर, स्टाफ नर्स

बीएससी नर्सिंग क्या है (What is B.Sc Nursing)

बीएससी नर्सिंग कोर्स व्यापक रूप से एक शैक्षणिक ढांचे के भीतर शिक्षा पर आधारित है, विशेष रूप से राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति, 2002 में प्रस्तावित पेशेवर नर्सिंग और मिडवाइफरी के अभ्यास के लिए महत्वपूर्ण सोच कौशल, योग्यता और मानक के विकास के लिए निर्देशित किया गया है| चूंकि इसमें नर्सिंग शामिल है, घायल या बीमार लोगों के लिए, बहुत से क्षेत्रों को इन स्नातकों की आवश्यकता होती है, इसलिए इसकी मांग बढ़ रही है, जो भविष्य में भी बढ़ने की उम्मीद है| भारत में, पाठ्यक्रम पंजीकृत है, और भारतीय नर्सिंग काउंसिल द्वारा नियंत्रित है|

यह भी पढ़ें- एमबीबीएस कोर्स (MBBS Course) प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम, वेतन, करियर

एक व्यक्ति जो वास्तव में मरीजों के इलाज और देखभाल करके समाज की सेवा करने में रूचि रखता है, उसे इस कोर्स को लेने से पहले दो बार नहीं सोचना चाहिए| एक नर्स के रूप में, एक व्यक्ति लोगों के जीवन में एक बड़ा अंतर बनाता है| एक देखभाल और करुणामय नर्स रोगियों द्वारा एक अभिभावक परी के रूप में माना जाता है| यह दयालु के लिए एक बहुत ही संतोषजनक और संतुष्ट करियर हो सकता है| एक व्यक्ति नर्सिंग में एक मास्टर के लिए आगे जा सकता है, जो एक बड़ा फायदा है, क्योंकि इससे क्षेत्र में विशेषज्ञता बढ़ जाती है, और अधिक मांग और बेहतर अवसर पैदा होते हैं| यदि कोई व्यक्ति शिक्षण में जाना चाहता है, तो पीएच.डी. की उनके लिए सलाह दी जाती है|

बीएससी नर्सिंग शीर्ष संस्थान (B.Sc Nursing Top Institutes)

निम्नलिखित तालिका भारत में कुछ शीर्ष संस्थानों को दिखाती है जो पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं, जैसे की-

1. अखिल भारतीय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज – [एम्स], नई दिल्ली

2. क्रिस्टियन मेडिकल कॉलेज – [सीएमसी], वेलोर

3. आर्मेड फोर्स मेडिकल कॉलेज – [एएफएमसी], पुणे

4. जवाहरल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च – [जेआईपीएमईआर], पांडिचेरी

5. मदरस मेडिकल कॉलेज – [एमएमसी], चेन्नई

6. उच्च शिक्षा और अनुसंधान के जेएसएस अकादमी – [जेएसएस विश्वविद्यालय], मैसूर

7. गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय – [जीजीएसआईपीयू], नई दिल्ली

8. किंग जॉर्ज का मेडिकल यूनिवर्सिटी – [केजीएमयू], लखनऊ

9. एसआरआई रामचंद्र विश्वविद्यालय, चेन्नई

10. सरकार चिकित्सा कॉलेज – [जीएमसी], अमृतसर

बीएससी नर्सिंग योग्यता मानदंड (B. Sc Nursing Eligibility Criteria)

उम्मीदवार जो बीएससी नर्सिंग कोर्स का पीछा करना चाहते हैं, उन्हें नीचे उल्लिखित योग्यता मानदंडों को पूरा करने की आवश्यकता है|

बीएससी (बेसिक)- अभ्यर्थियों को भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान में 10+2 पास करना चाहिए, और उन्हें चिकित्सकीय रूप से फिट होना चाहिए|

बीएससी (पोस्ट-बेसिक)- उम्मीदवारों को पीसीबी में 10+2 पास करना चाहिए| जो लोग 10+1 पास कर चुके हैं, वे भी प्रवेश के लिए पात्र हैं| उन्होंने सामान्य नर्सिंग और मिडवाइफरी में एक प्रमाणपत्र प्राप्त किया होगा, और राज्य नर्स पंजीकरण परिषद के साथ आरएनआरएम (पंजीकृत नर्स पंजीकृत मिडवाइफ) के रूप में पंजीकृत होना चाहिए| इसके अलावा, निम्नलिखित नर्सिंग में भारतीय नर्सिंग काउंसिल या समकक्ष द्वारा प्रशिक्षण का सबूत आवश्यक है, जैसे-

1. ओ.टी. तकनीक

2. ओप्थाल्मिक नर्सिंग

3. कुष्ठ रोग नर्सिंग

4. टीबी नर्सिंग

5. मनोवैज्ञानिक नर्सिंग

यह भी पढ़ें- जीएनएम कोर्स (GNM Course) प्रवेश प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन

6. न्यूरोलॉजिकल और न्यूरो सर्जिकल नर्सिंग

7. सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग

8. कैंसर नर्सिंग

9. आर्थोपेडिक नर्सिंग

बीएससी नर्सिंग प्रवेश प्रक्रिया (B. Sc Nursing Admission Process)

बीएससी नर्सिंग प्रवेश पूरी तरह से अप्रैल-जून के बीच आयोजित प्रवेश परीक्षाओं पर आधारित है| अभ्यर्थी आवेदन पत्र को ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड दोनों में भर सकते हैं|

ऑनलाइन भरने के लिए, उम्मीदवारों को संबंधित प्रवेश परीक्षा की व्यवस्थापक वेबसाइट पर जाना होगा और आवश्यकताओं को भरना होगा| इसके बाद, पूरा फॉर्म का प्रिंट आउट निकालना है| अनिवार्य दस्तावेजों के साथ प्रिंट आउट और निर्दिष्ट राशि के डीडी को संबंधित परीक्षा निकाय को भेजने की आवश्यकता है| ऑफ़लाइन आवेदन के लिए, उम्मीदवारों को शरीर या नामित केंद्रों से आयोजित परीक्षा से ब्रोशर के साथ फॉर्म प्राप्त करने की आवश्यकता होती है, और औपचारिकता समाप्त कर सकते हैं|

उनके प्रवेश परीक्षा के साथ बीएससी नर्सिंग कॉलेजों की एक सूची निम्नलिखित है, जैसे-

एम्स- (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) बीएससी नर्सिंग प्रवेश परीक्षा
एएफएमसी प्रवेश परीक्षा सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज बीएससी नर्सिंग कार्यक्रम प्रवेश परीक्षा
नित विश्वविद्यालय मैंगलोर बीएससी नर्सिंग प्रवेश परीक्षा (एनयूपीएमईटी)
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय बीएससी (नर्सिंग) प्रवेश परीक्षा
पीपीएमईटी बीएससी में प्रवेश के लिए पंजाब पैरा मेडिकल प्रवेश परीक्षा नर्सिंग पाठ्यक्रम
सीएमसी लुधियाना बीएससी में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा नर्सिंग पाठ्यक्रम

बीएससी नर्सिंग प्रवेश परीक्षा 2 घंटे की अवधि का होता है, और इसमें 4-5 विकल्पों के साथ उद्देश्य प्रकार के प्रश्न शामिल होते हैं| परीक्षा 400 अंकों का होता है, और छात्रों को उनके उत्तरों को चिह्नित करने के लिए ओएमआर शीट प्रदान की जाती है| प्रत्येक गलत उत्तर के लिए नकारात्मक अंकन है| पीसीबी से प्रश्न पूछे जाते हैं, और प्रश्न मुख्य रूप से अंग्रेजी में सेट होते हैं| प्रवेश पाने के लिए आवश्यक कुल अंक संबंधित कॉलेज या विश्वविद्यालय की आवश्यकता पर निर्भर है|

बीएससी नर्सिंग कोर्स और कोर्स विवरण (B. Sc Nursing Course and Course Details)

पहले साल  दुसरे साल
एनाटॉमी नागरिक सास्त्र
फिजियोलॉजी औषध
पोषण पैथोलॉजी और जेनेटिक्स
जीव रसायन मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग
नर्सिंग फाउंडेशन सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग
मनोविज्ञान संचार और शैक्षिक प्रौद्योगिकी
कीटाणु-विज्ञान
कंप्यूटर का परिचय
अंग्रेज़ी
तीसरे साल  चोथे साल
मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग मिडवाइफरी और ऑब्स्टेट्रिकल नर्सिंग
बाल स्वास्थ्य नर्सिंग सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग
मानसिक स्वास्थ्य नर्सिंग नर्सिंग रिसर्च एंड स्टैटिस्टिक्स
मिडवाइफरी और ऑब्स्टेट्रिकल नर्सिंग नर्सिंग सेवाओं और शिक्षा का प्रबंधन

बीएससी नर्सिंग कोर्स संरचना (B. Sc Nursing Course Structure)

बीएससी नर्सिंग पाठ्यक्रम में अध्ययन के विभिन्न विषयों जैसे पोषण, मानसिक स्वास्थ्य नर्सिंग, चाइल्ड केयर नर्सिंग, एनाटॉमी, मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग, कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग, नर्सिंग रिसर्च और स्टैटिस्टिक्स शामिल हैं|

यह भी पढ़ें- एएनएम नर्सिंग (ANM Nursing) कोर्स, प्रवेश प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन

बीएससी के विषय नर्सिंग कोर्स इस तरह से डिजाइन किए गए हैं, कि छात्र नर्सिंग से संबंधित सभी ज्ञान को समझ सकें| इस कोर्स में छात्रों को गधे, योजना, कार्यान्वयन और देखभाल का मूल्यांकन करने के लिए विभिन्न विशिष्टताओं में नर्स के रूप में काम करना सिखाया जाता है| पाठ्यक्रम का विवरण आप निचे देख सकते है-

पहले साल के लिए विवरण के साथ अध्ययन के विषय

विषय  विवरण
एनाटॉमी सामान्य परिचय

कंकाल और संयुक्त प्रणाली

मासपेशीय तंत्र

संचार प्रणाली

फिजियोलॉजी सेल के फिजियोलॉजी का परिचय

रक्त

श्वसन प्रणाली

जठरांत्र प्रणाली

उत्सर्जन तंत्र

जीव रसायन बायोकैमिस्ट्री का परिचय, सेल का अध्ययन, विभिन्न कोशिकाओं के जैव रासायनिक कार्यों

लिपिड

प्रोटीन

मध्यस्थ चयापचय

न्यूक्लिक अम्ल

पोषण पोषण का अध्ययन, भोजन, पोषण और आहार संबंधी अर्थ का परिचय

खाद्य, जल, प्रोटीन, खनिजों, आदि के संविधान

खाना पकाने के विभिन्न तरीकों और खाद्य और खाद्य घटकों पर उनके प्रभाव

पोषण के सिद्धांत, संतुलित आहार

नर्सिंग फाउंडेशन परिचय- शिष्टाचार और नर्स

नर्सिंग की परिभाषा और दायरा

समुदाय में स्वास्थ्य संसाधन

संचार कौशल

निरीक्षण, रिपोर्टिंग, रिकॉर्डिंग

मनोविज्ञान उद्देश्य और मनोविज्ञान के तरीकों

इंसानी व्यव्हार

उद्देश्यों, ड्राइव और जरूरतें

भावनाएं, भावनाएं और प्रवृत्तियों

व्यक्तित्व

मानसिक स्वच्छता

दुसरे साल के लिए विवरण के साथ अध्ययन के विषय

विषय  विवरण
सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग इष्टतम स्वास्थ्य की अवधारणा और सफल जीवन के साथ इसके

संबंध

पर्यावरण स्वास्थ

जलापूर्ति

मना करने का निपटान

आवास

मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग सर्जिकल नर्सिंग का परिचय

रोगजनकों पर आक्रमण के खिलाफ आंतरिक रक्षा

रोगियों की देखभाल को प्रभावित करने में विशेष समस्याएं

सूजन

शरीर संतुलन को बनाए रखना

आर्थोपेडिक नर्सिंग

ईएनटी

नागरिक सास्त्र परिचय: नर्सिंग में समाजशास्त्र का अध्ययन करने का महत्व

व्यक्तिगत और समाज

संस्कृति

सामाजिक संगठन

सामाजिक प्रक्रिया

यह भी पढ़ें- आईबीपीएस एसओ (IBPS SO) परीक्षा योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

तीसरे साल के लिए विवरण के साथ अध्ययन के विषय

विषय  विवरण
बाल स्वास्थ्य नर्सिंग बाल देखभाल की आधुनिक अवधारणाएं

जन्म से किशोरावस्था तक विकास और विकास

नियोनेट की नर्सिंग देखभाल

सामान्य बचपन की बीमारियों में नर्सिंग प्रबंधन

बच्चों में विकार

मिडवाइफरी और ऑब्स्टेट्रिकल नर्सिंग परिचय

शरीर रचना विज्ञान और शरीर विज्ञान

भ्रूणविज्ञान

शिशु

मानसिक स्वास्थ्य नर्सिंग मानसिक स्वास्थ्य नर्सिंग के सिद्धांत और सामान्य नर्सिंग में उनके आवेदन

भारत और विदेश में मानसिक स्वास्थ्य नर्सिंग का संक्षिप्त इतिहास

मानसिक विकारों का वर्गीकरण

अंतिम साल के लिए विवरण के साथ अध्ययन के विषय

विषय  विवरण
नर्सिंग रिसर्च एंड स्टैटिस्टिक्स अनुसंधान की परिभाषा

आंकड़े

जैव सांख्यिकी

कंप्यूटर का उपयोग

सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग सार्वजनिक स्वास्थ्य और सामुदायिक नर्सिंग का परिचय

भारत में स्वास्थ्य सेवाओं के संगठन और प्रशासन

सामुदायिक स्वास्थ्य में महामारी विज्ञान की भूमिका

सार्वजनिक स्वास्थ्य नर्सिंग के सिद्धांत और अवधारणाएं

नर्सिंग सेवाओं और शिक्षा का प्रबंधन स्वास्थ्य शिक्षा के लक्ष्य, अवधारणाओं, दायरे और सीमाएं

अपने स्वास्थ्य शिक्षा के लिए राष्ट्रीय योजना

स्वास्थ्य शिक्षण और संचार

स्वास्थ्य शिक्षा के तरीके

बीएससी नर्सिंग करियर संभावनाएं (B.Sc Nursing Career Prospects)

यह बीएससी नर्सिंग नौकरी उन्मुख 4 साल का कोर्स है, जिसे छात्रों द्वारा पीछा किया जा सकता है| जिन्होंने एक मान्यता प्राप्त बोर्ड से पीसीबी विषयों के साथ 10+2 पूरा कर लिया है| इसके लिए प्रवेश जेआईपीएमईआर, जीजीएसआईपीयू सीईटी, एमएचटी सीईटी जैसे प्रवेश परीक्षाओं पर आधारित है| पाठ्यक्रम के सफल समापन के बाद, उम्मीदवार क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर, सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज, पुणे इत्यादि जैसे किसी भी शीर्ष कॉलेज से नर्सिंग में उच्च अध्ययन कर सकते हैं|

यह भी पढ़ें- बीडीएस ऑर्थोडोंटिक (BDS Orthodontics) कोर्स प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन

बीएससी नर्सिंग कार्यक्रम राष्ट्रीय उम्मीदवारों के जवाब देने के लिए व्यक्तिगत, सामाजिक और व्यावसायिक दायित्वों को पूरा करने में हर समय नैतिकता और पेशेवर आचरण के एक कोड का पालन करके अपने अनुयायियों को एक अनुकरणीय नागरिक बनने के लिए तैयार करता है| ये स्नातक नर्स काम करने के लिए तैयार हैं, अस्पतालों, नर्सिंग होम, रक्षा सेवाओं, रेलवे और वैमानिकीय क्षेत्रों, औद्योगिक घरों, कारखानों और इस तरह के विभिन्न में एक देखभाल प्रदाता, शिक्षक, समन्वयक, वकील, शोधकर्ता, परामर्शदाता और प्रशासक इत्यादि|

बीएससी नर्सिंग करियर (BSc Nursing Scope)

यह बीएससी नर्सिंग कार्यक्रम उम्मीदवारों को उच्च अध्ययन करने या इसे पूरा होने के बाद नौकरी चुनने की अनुमति देता है| उम्मीदवार निम्नलिखित विषयों में एमएससी जैसे फुरथुर शिक्षा ऑप्टों का चयन कर सकते हैं, जैसे-

1. एमएससी बायोटेक्नोलॉजी

2. एमएससी मेडिकल माइक्रोबायोलॉजी और मेडिकल बायोकैमिस्ट्री

3. एमएससी न्यूरोसाइंस

4. एमएससी नर्सिंग

5. एमएससी रेनल साइंसेज एंड डायलिसिस टेक्नोलॉजी

6. एमएससी चिकित्सा समाजशास्त्र

7. फार्मास्युटिकल प्रबंधन / अस्पताल प्रबंधन में एमबीए

8. पब्लिक हेल्थ मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम (पीजीपीपीएचएम)

इस कोर्स से स्नातक होने के बाद एक व्यक्ति निम्नलिखित प्रोफाइल में काम कर सकता है, जैसे-

1. मामले प्रबंधक

2. प्रमाणित नर्स मिडवाइफ

3. नैदानिक ​​नर्स विशेषज्ञ

4. निदेशक / मुख्य कार्यकारी अधिकारी

5. प्रबंधक / प्रशासक

6. नर्स एनेस्थेटिस्ट

7. नर्स शिक्षक

8. नर्स व्यवसायी

यह भी पढ़ें- डेंटल हाइजीनिस्ट (Dental Hygienist) कोर्स प्रक्रिया, योग्यता करियर और वेतन

9. परिचारिका

10. बीएससी (नर्सिंग) शीर्ष भर्ती करने वाले

इस क्षेत्र में भर्ती के साथ भारत में शीर्ष भर्ती कंपनियों की एक सूची नीचे उल्लिखित है, जैसे-

1. अपोलो अस्पताल उद्यम

2. फोर्टिस हेल्थकेयर

3. मेदांत औषधि

4. कोलंबिया एशिया अस्पताल

5. वॉकहार्ट अस्पताल

6. वैश्विक अस्पताल

7. मैक्स अस्पताल

8. मणिपाल अस्पताल

बीएससी नर्सिंग वेतन रुझान (B. Sc Nursing Salary Trends)

कॉलेज, डिग्री और विशेषज्ञता के स्तर के आधार पर बीएससी नर्सिंग कोर्स के उम्मीदवारों को दिया गया औसत वेतन 10,000 से 25,000 रुपये प्रति महिना तक है| यह उम्मीदवारों के अनुभव और दक्षता के साथ बढ़ता है| निम्नलिखित चार्ट उनके काम के अनुभव के अनुसार बीएससी नर्सिंग स्नातकों के वेतन रुझान दिखाता है, जैसे-

नौकरी प्रोफ़ाइल नौकरी का विवरण औसत वेतन रुपये में
कैश प्रबंधक ग्राहक प्रबंधक उपचार आवश्यकताओं का आकलन करके ग्राहक की देखभाल को पूरा करता है, वे उपचार योजनाओं का विकास, निगरानी और मूल्यांकन करते हैं| 2.3 से 8.5 लाख
नैदानिक नर्स विशेषज्ञ क्लिनिकल नर्स विशेषज्ञ एक उन्नत अभ्यास नर्स है, जो रोगी देखभाल की देखभाल करता है, और विभिन्न स्वास्थ्य क्षेत्रों में परामर्श सेवाएं प्रदान करता है, ये पेशेवर आमतौर पर दवा का अभ्यास करते हैं, अनुसंधान करते हैं| 2 से 3 लाख
नर्स एनेस्थेटिस्ट नर्स एनेस्थेटिस्ट रोगियों को संज्ञाहरण का प्रशासन करते हैं| 10 से 12 लाख
नर्स शिक्षक नर्स शिक्षक मुख्य रूप से नर्सिंग की बुनियादी अवधारणाओं के बारे में महत्वाकांक्षी नर्सों को शिक्षित करने की दिशा में काम करता है, वे अक्सर व्याख्यान या प्रयोगशाला / नैदानिक कार्य का उपयोग कर पाठ्यक्रम और शिक्षण के विकास के लिए जिम्मेदार होते हैं| 3.8 लाख
नर्स व्यवसायी नर्स प्रैक्टिशनर आम तौर पर सामान्य और निवारक देखभाल प्रदान करने, चेक-अप आयोजित करने, बीमारियों का इलाज, ऑर्डर लैब परीक्षण और बच्चों और वयस्कों के लिए दवा लिखने की दिशा में काम करता है|

2.16 लाख

परिचारिका स्टाफ नर्स दवाओं और अंतःशिरा संक्रमण पर नज़र रखता है, और प्रशासित करता है, वे आम तौर पर रोगी के नमूने, दालें, तापमान और रक्तचाप लेते हैं| 2.37 लाख
प्रबंधक / प्रशासक प्रबंधक / प्रशासक संगठन के समर्थन संचालन की देखभाल करते हैं, वे सुनिश्चित करते हैं, कि प्रभावी सूचना प्रवाह मौजूद है, और संसाधनों को पूरे व्यवसाय में कुशलता से नियोजित किया जाता है| 5 लाख
शोध सहयोगी रिसर्च एसोसिएट नमूने और ऊतक संस्कृतियों को इकट्ठा करने, तैयार करने, विश्लेषण करने, विच्छेदन करने और मूल्यांकन करने के लिए काम करता है| 3.2 लाख
मनोविज्ञानी मनोवैज्ञानिक मानव मन का अध्ययन करते हैं, शोध हमें व्यवहार, स्मृति और मानसिक स्वास्थ्य विकारों को समझने में मदद करता है| 3.3 लाख

यह तो थी, बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) कोर्स, प्रवेश प्रक्रिया, करियर और वेतन, आदि की प्रक्रिया, इस तरह आप इस कोर्स का पीछा कर सकते है, और इस क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकते है|

यह भी पढ़ें- एसबीआई क्लर्क (SBI Clerk) परीक्षा योग्यता, आवेदन, सिलेबस, पैटर्न, परिणाम

प्रिय पाठ्कों से अनुरोध है, की यदि वे उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी आपके पास है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

शुभकामनाएं

6 thoughts on “बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) कोर्स प्रवेश, अवधि, पात्रता, पाठ्यक्रम और करियर”

  1. This is the best site for nursing guide because language of content is very simple and easy to understand. content quality is great and providing us very useful and up to date information regarding nursing. Thank you so much for sharing great content.Keep Writing.

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *