बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry)

बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry) कोर्स प्रवेश, सिलेबस, स्कोप और वेतन

बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry) एक पूर्णकालिक 3-वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम है, जो छः महीनों में छह सेमेस्टर में बांटा गया है| बीएससी ऑप्टोमेट्री (B.Sc Optometry) में अनिवार्य रूप से दृष्टित्मक मापने, सुधारात्मक लेंस निर्धारित करने और आंखों की बीमारियों का पता लगाने में शामिल नैदानिक ​​कौशल का एक उन्नत अध्ययन शामिल है| यहां हम बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry) कोर्स प्रवेश, सिलेबस, स्कोप और वेतन आदि की विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे|

बीएससी ऑप्टोमेट्री की पेशकश करने वाले शीर्ष संस्थान हैं, जैसे

1. क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (सीएमसी), वेल्लोर

2. सरकारी मेडिकल कॉलेज, कोझिकोड

3. डीवाई पाटिल विश्वविद्यालय, नवी मुंबई

4. जामिया हमदार्ड विश्वविद्यालय, नई दिल्ली

5. क्रिश्चियन कॉलेज, बैंगलोर

इच्छुक उम्मीदवारों को भारत में पाठ्यक्रम का पीछा करने के लिए पात्रता के न्यूनतम मानदंड के रूप में, वरिष्ठ और उच्चतर माध्यमिक परीक्षाओं (कक्षा 10 वीं और 12 वीं) के योग्यता प्राप्त करने की आवश्यकता है| इस कार्यक्रम को भारत में अलग-अलग संस्थानों में अलग अलग 2 और 6 लाख के बीच औसत पाठ्यक्रम शुल्क के लिए अपनाया जा सकता है| पाठ्यक्रम में प्रवेश आम तौर पर उम्मीदवार के प्रदर्शन के आधार पर प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा में और उसके बाद परामर्श के दौर के आधार पर दिया जाता है|

यह भी पढ़ें- ऑप्टोमेट्री डिप्लोमा (Optometry Diploma) कोर्स प्रवेश, पात्रता, स्कोप और वेतन

कार्यक्रम के सफल स्नातक आंख क्लीनिक, ऑप्टिशियन शोरूम, संपर्क लेंस और नेत्रहीन लेंस उद्योग, अस्पताल आंख विभाग, ऑप्टिकल दुकानों जैसे क्षेत्रों में निजी और सरकारी दोनों क्षेत्रों में आकर्षक रूप से रोजगार कर रहे हैं, और ऐसे में, शुरुआती स्तर पर 15 से 30 हजार रुपये के आसपास मासिक वेतन के साथ, क्षेत्र में उम्मीदवार की विशेषज्ञता और अनुभव के साथ भिन्नता है|

बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स की महत्वपूर्ण जानकारी (Important of B. Sc Optometry Course)

पाठ्यक्रम की कुछ महत्वपूर्ण जानकारी नीचे सारणीबद्ध हैं, जैसे की-

कोर्स स्तर अवर
अवधि 3 साल
न्यूनतम योग्यता आवश्यक है एक मान्यता प्राप्त शैक्षणिक बोर्ड से 10 वीं और 12 वीं पूर्ण होना
प्रवेश प्रक्रिया एक प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा की योग्यता के बाद परामर्श।
परीक्षा का प्रकार सेमेस्टर सिस्टम
प्रमुख प्रवेश परीक्षाएं एम्स, जेएनयू, डीयू, सीएमसी, आदि
कुल पाठ्यक्रम शुल्क 2 से 6 लाख
औसत प्रारंभिक वेतन 2.5 से 8 लाख (सालाना)
शीर्ष भर्ती क्षेत्र संपर्क लेंस और नेत्रहीन लेंस उद्योग, आंख क्लीनिक, स्वास्थ्य परामर्श, अस्पताल आंखों के विभाग, लेंस विनिर्माण इकाइयों, ऑप्टिशियन शोरूम, आंखों की देखभाल उत्पादों से निपटने वाली बहुराष्ट्रीय कंपनियां इत्यादि|
नौकरी की स्थिति ऑप्टोमेट्रिस्ट, ऑप्टिशियन, सेल्स एक्जीक्यूटिव, टीचर, आई डॉक्टर, और ऐसे|

बीएससी ऑप्टोमेट्री के बारे में (About B. Sc Optometry)

बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry) कोर्स लेंस और अन्य ऑप्टिकल एड्स का उपयोग करके दृश्य प्रणाली की बीमारियों और विकारों की जांच, निदान, उपचार और प्रबंधन के लिए योग्य उम्मीदवारों को नैदानिक ​​कौशल और ज्ञान की विस्तृत श्रृंखला प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है|

अनुशासन में उच्च अध्ययन करने में रुचि रखने वाले पाठ्यक्रम के सफल स्नातक एमएससी, पीएचडी, और दृष्टि देखभाल विज्ञान में अन्य शोध-संबंधित अध्ययन जैसे उच्च पाठ्यक्रमों के लिए जा सकते हैं|

बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry) कार्यक्रम का लक्ष्य छात्रों को दृश्य स्क्रीनिंग, दृश्य समस्याओं का निदान, ऑर्थोटिक्स और दृष्टि प्रशिक्षण, और कम दृष्टि सहायक उपकरण, आंशिक दृष्टि वाले रोगियों की ऑप्टोमेट्रिक परामर्श, रंगहीनता और वंशानुगत दृष्टि दोष, और चश्मे के डिजाइनिंग और फिटिंग, संपर्क लेंस, के विभिन्न व्यावसायिक तरीकों के बारे में शिक्षित करना है|

कार्यक्रम के मुख्य उद्देश्यों में से एक है, उम्मीदवारों को सफलतापूर्वक परिचालन के लिए तैयार करना, और दृष्टि देखभाल विभाग में योगदान देना, साथ ही अनुशासन में उन्नत शोध के लिए, बीएससी ऑप्टोमेट्री पाठ्यक्रम अध्ययन के सैद्धांतिक और व्यावहारिक घटकों को मिलाता है|

बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स किसे चुनना चाहिए

योग्य उम्मीदवार आदर्श रूप से होंगे, जैसे-

1. रोगियों के साथ कुशलता से निपटने की क्षमता

2. प्रबंधकीय कौशल

यह भी पढ़ें- डेंटल हाइजीनिस्ट (Dental Hygienist) कोर्स प्रक्रिया, योग्यता करियर और वेतन

3. क्षेत्र में अन्य पेशेवरों से निपटने के लिए अच्छा संचार और पारस्परिक कौशल

4. समर्पण और दृढ़ता से विशेषता कार्य नैतिकता|

बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स के लिए शीर्ष संस्थान (Top institutions for B. Sc Optometry Course)

विभिन्न कॉलेज और संस्थान बीएससी ऑप्टोमेट्री की पेशकश करते हैं| लेकिन उनमें से कुछ पाठ्यक्रम को आगे बढ़ाने के लिए सर्वश्रेष्ठ मानते हैं, संबंधित संस्थान नीचे सूचीबद्ध हैं, जैसे-

1. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) नई दिल्ली

2. एसटी. जेवियर्स कॉलेज मुंबई

3. सुरेश ज्ञान विहार इंस्टिट्यूट जयपुर

4. क्राइस्ट यूनिवर्सिटी बैंगलोर

5. मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज (एमसीसी) चेन्नई

6. ऑक्सफोर्ड कॉलेज ऑफ साइंस बैंगलोर

7. स्टेला मैरिस कॉलेज चेन्नई

8. रामजस कॉलेज नई दिल्ली

9. फर्ग्यूसन कॉलेज पुणे

10. हंस राज कॉलेज (एचआरसी) नई दिल्ली

बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स के लिए योग्यता (Eligibility for B. Sc Optometry Course)

उम्मीदवार जो बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स का पीछा करना चाहते हैं, पाठ्यक्रम के लिए आवेदन करने के लिए नीचे उल्लिखित न्यूनतम योग्यता मानदंडों को पूरा करने की आवश्यकता है|

1. एक मान्यता प्राप्त शैक्षिक बोर्ड से पूरा, विज्ञान धारा में 10 + 2 योग्यता|

2. उच्चतर माध्यमिक परीक्षा (10 + 2) के स्तर पर 60% का न्यूनतम योग, कुछ कॉलेज एससी / एसटी उम्मीदवारों को 5% छूट देते हैं|

बीएससी ऑप्टोमेट्री के लिए प्रवेश प्रक्रिया (Access Process for BSc Optimization)

बीएससी ऑप्टोमेट्री में प्रवेश योग्य प्रवेश परीक्षा में प्रदर्शन के आधार पर योग्य उम्मीदवारों को ऑप्टोमेट्री पाठ्यक्रम प्रदान किया जाता है, जो संबंधित संस्था या राज्य या राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित किया जाता है| एक कट ऑफ स्कोर परीक्षा के लिए निर्धारित किया जाता है, और छात्र समाशोधन प्रक्रिया परामर्श प्रक्रिया के लिए योग्य होते हैं|

परामर्श प्रक्रिया में समूह चर्चा और व्यक्तिगत साक्षात्कार के दो अतिरिक्त दौर शामिल हैं, जिसमें पाठ्यक्रम के लिए उम्मीदवार की सामान्य योग्यता की जांच की जाती है, और छात्रों को अर्हता प्राप्त करने के लिए सीट आवंटित की जाती है|

हालांकि, भारत में ऐसे कुछ कॉलेज हैं, जो अंतिम योग्यता परीक्षा (कक्षा 12 वीं) में बनाए गए अंकों के आधार पर प्रवेश प्रदान करते हैं|

बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स में प्रवेश के लिए देश के कुछ प्रमुख प्रवेश परीक्षा नीचे दिए गए हैं, जैसे-

1. एम्स (ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज) प्रवेश परीक्षा

यह भी पढ़ें- बीएससी नर्सिंग (B.Sc Nursing) कोर्स, प्रवेश प्रक्रिया, करियर और वेतन

2. जेएनयू (जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय) संयुक्त प्रवेश परीक्षा

3. डीयू (दिल्ली विश्वविद्यालय) जैव प्रौद्योगिकी प्रवेश परीक्षा

4. सीएमसी (क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज) प्रवेश परीक्षा

5. एनईईटी-यूजी (अंडर ग्रेजुएट के लिए राष्ट्रीय योग्यता-सह-प्रवेश परीक्षा)

बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स और पाठ्यक्रम विवरण (BSc Optometry Courses and Course Details)

बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स और पाठ्यक्रम विवरण इस प्रकार है, जैसे-

सेमेस्टर I सेमेस्टर II
मूल लेखा

नैदानिक मनोविज्ञान

सामुदायिक और व्यावसायिक ऑप्टोमेट्री

कंप्यूटर मूल बातें

संपर्क लेंस

कार्यात्मक अंग्रेजी और संचार

जेरियाट्रिक ऑप्टोमेट्री और बाल चिकित्सा ऑप्टोमेट्री

सामान्य जैव रसायन और ओकुलर बायोकैमिस्ट्री

सेमेस्टर III सेमेस्टर IV
सामान्य फिजियोलॉजी और ओकुलर फिजियोलॉजी

जनरल एनाटॉमी और ओकुलर एनाटॉमी

ज्यामितीय ऑप्टिक्स

अस्पताल की प्रक्रियाएं

कानून और ऑप्टोमेट्री

कम दृष्टि एड्स

अंक शास्त्र

पोषण

सेमेस्टर V सेमेस्टर VI
ओकुलर रोग और आई और प्रणालीगत रोग

ऑप्टोमेट्रिक और वितरण

ऑप्टिमेट्रिक इंस्ट्रूमेंट्स और विजुअल सिस्टम की नैदानिक परीक्षा

पैथोलॉजी और माइक्रोबायोलॉजी

औषध

भौतिक प्रकाशिकी

जनसंपर्क

अनुसंधान पद्धति और सांख्यिकी

स्क्विंट और द्विपक्षीय दृष्टि

विजुअल ऑप्टिक्स

बीएससी ऑप्टोमेट्री के बाद करियर संभावनाएं (Career Prospects after B. Sc Optometry)

ऑप्टोमेट्री एक गतिशील और चुनौतीपूर्ण हेल्थकेयर पेशा है, जिसमें विभिन्न आंखों की बीमारी के दृष्टि, पहचान और उपचार में सुधार के लिए दृष्टि-माप, निर्धारण और फिटिंग लेंस शामिल हैं|

बीएससी के सफल स्नातक ऑप्टोमैट्री कोर्स शिक्षण क्षेत्र में संकाय के रूप में काम कर सकता है, या यहां तक कि अपना खुद का अभ्यास शुरू कर सकता है, जहां वे सालाना 7 लाख रुपये तक कमा सकते हैं, जो शुरुआती स्तर पर, समय के साथ बढ़ने की उम्मीद है| रोजगार के प्रमुख क्षेत्रों में शामिल हैं, जैसे-

1. आई केयर विभाग

2. आई क्लीनिक

यह भी पढ़ें- एएनएम नर्सिंग (ANM Nursing) कोर्स, प्रवेश प्रक्रिया, योग्यता, करियर और वेतन

3. ऑप्टिकल शोरूम

4. बहुराष्ट्रीय कंपनियां संपर्क लेंस और अन्य आंख उत्पादों का निर्माण करती हैं

5. लेंस विनिर्माण इकाइयों

6. व्यावसायिक स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र|

संबंधित बीएससी ऑप्टोमेट्री पाठ्यक्रम हैं, जैसे-

1. बीएससी (विज्ञान स्नातक)

2. बीएससी जीवविज्ञान

3. बीएससी मेडिकल

ऐसे स्नातकों के लिए खुले कुछ लोकप्रिय व्यावसायिक मार्ग नीचे दिए गए संबंधित वेतन और नौकरी कर्तव्यों के साथ नीचे सारणीबद्ध हैं-

नौकरी प्रोफ़ाइल नौकरी का विवरण औसत वेतन
प्रकाशविज्ञानशास्री वे ऑप्टोमेट्रिस्टर्स और नेत्र रोग विशेषज्ञों द्वारा लिखे गए नुस्खे से काम कर रहे, वयस्कों और बच्चों दोनों पर चश्मा और अन्य ऑप्टिकल एड्स को निर्धारित करते हैं, और फिट करते हैं| इसके अलावा, वे स्टाइल, वजन और रंग सहित विभिन्न प्रकार के लेंस और शानदार फ्रेम पर रोगियों को सलाह देते हैं| 3 से 6 लाख रुपये
ऑप्टोमेट्रिस्ट वे दृष्टि और ओकुलर बीमारियों जैसे ग्लूकोमा और कंजेंटिविटाइटिस में दोषों का पता लगाने के लिए आंखों की जांच करते हैं, और उनका इलाज करते हैं| 3.5 से 6 लाख रुपये

अध्यापक

वे सबक और योजनाएं बनाते हैं, और छात्रों को या छोटे समूहों में व्यक्तिगत रूप से उन वर्गों को पढ़ते हैं, छात्र प्रगति को ट्रैक करते हैं, और माता-पिता को जानकारी प्रस्तुत करते हैं, कक्षा के नियमों का परीक्षण, निर्माण और मजबूती, स्कूल प्रशासन के साथ काम करते हैं, और तैयार करते हैं मानकीकृत परीक्षण आदि के लिए छात्र| 2 से 4 लाख रुपये
अनुसंधान सहायक वे लेख, रिपोर्ट, और प्रस्तुतिकरण तैयार करते हैं, और पर्यवेक्षक या परियोजना की शोध गतिविधियों के लिए जरूरी है, जो अनुसंधान सहायक को सौंपा गया है, निर्देशानुसार नियमित क्लर्किकल कर्तव्यों का पालन करते हैं| साथ ही, वे रिपोर्ट को पूरा करने जैसे प्रशासनिक कर्तव्यों में सहायता करते हैं| 2.5 से 5 लाख रुपये
बिक्री कार्यकारी वे किसी संगठन और उसके ग्राहकों के बीच प्रश्नों का उत्तर देने, सलाह देने और नए उत्पादों को पेश करने के लिए संपर्क का मुख्य बिंदु हैं| उनके काम में बिक्री यात्राओं का आयोजन, उत्पादों का प्रदर्शन और प्रस्तुत करना शामिल है| 3 से 7 लाख रुपये
नेत्र चिकित्सक वे दृष्टि परीक्षण करते हैं, और परिणामों का विश्लेषण करते हैं| वे दृष्टि की समस्याओं का निदान करते हैं, जैसे निकटता या दूरदृष्टि, और आंखों की बीमारियां, जैसे ग्लूकोमा| 3 से 6 लाख रुपये

तो ये थी, बीएससी ऑप्टोमेट्री (B. Sc Optometry) कोर्स प्रवेश, सिलेबस, स्कोप और वेतन, की पूरी जानकारी, इस तरह आप इस क्षेत्र में अपना भविष्य सवांर सकते है|

यह भी पढ़ें- बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी (BPT) कोर्स, शीर्ष कॉलेज, पात्रता, स्कोप और वेतन

प्रिय पाठ्कों से अनुरोध है, की यदि वे उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी आपके पास है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

शुभकामनाएं

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *