जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS)

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) परीक्षा पैटर्न, योग्यता और मानदंड

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) या जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च सार्वजनिक अस्पताल सह चिकित्सा सह शोध संस्थान है, जो पुडुचेरी, भारत में स्थित है| 1823 में स्थापित, जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) सबसे पुराना मेडिकल स्कूल है, जो एशिया में यूरोपीय चिकित्सा सिखाता है| 2008 में, भारत में चिकित्सा अध्ययनों का एक अनिवार्य अंग होने के लिए, जेआईपीएमईआर को “राष्ट्रीय महत्व संस्थान (आईएनआई)” का ताज पहनाया गया था|

यह भी पढ़ें- मणिपाल एमबीबीएस (Manipal MBBS) परीक्षा पैटर्न, योग्यता, आवेदन और मानदंड

प्रत्येक वर्ष जेआईपीएमईआर अपने छात्रों को जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) पाठ्यक्रम में प्रवेश करने के लिए राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा आयोजित करता है| एम्स, नई दिल्ली के बाद यह भारत का दूसरा संस्थान है, जो एमबीबीएस प्रवेश के लिए अलग प्रवेश परीक्षा आयोजित करने का हकदार है| 200 सीटों के लिए एमबीबीएस कार्यक्रम में प्रवेश पाने के लिए विश्वविद्यालय जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) प्रवेश परीक्षा आयोजित करता है। ये कार्यक्रम जेआईपीएमईआर कराइकल और पुडुचेरी द्वारा आयोजित किए जाते हैं|

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस पात्रता (JIPMER MBBS Eligibility)

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस एलिजीबिलिटी आवश्यकताएं-

1. उम्मीदवार एक भारतीय नागरिक / भारत के विदेशी नागरिक होना चाहिए|

2. प्रवेश के समय उसे 17 वर्ष की आयु पूरी होनी चाहिए, या परीक्षा वर्ष के 31 दिसंबर को या उससे पहले की आयु होगी|

3. उम्मीदवारों ने जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी, भौतिकी, रसायन शास्त्र, व्यावहारिक कक्षाओं सहित 10+2 या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण की होनी चाहिए) राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) द्वारा निर्धारित वैकल्पिक विषय के रूप में अंग्रेजी के साथ|

4. अनारक्षित / सामान्य श्रेणी- ऐसे उम्मीदवारों को भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी में सभी विषयों में कम से कम 50% अंकों के साथ 10+2 या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण करनी चाहिए|

5. आरक्षित / अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / अन्य पिछड़ा वर्ग- ऐसे उम्मीदवारों को भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी में सभी विषयों में कम से कम 40% अंकों के साथ 10+2 या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए|

यह भी पढ़ें- एमजीआईएमएस वर्धा (MGIMS Wardha) एमबीबीएस परीक्षा पैटर्न, योग्यता, आवेदन, मानदंड

6. आर्थोपेडिक शारीरिक रूप से चुनौतीपूर्ण- सामान्य श्रेणी से संबंधित ओपीएच उम्मीदवारों को भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी में सभी विषयों में कम से कम 45% अंकों के साथ 10+2 या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण करनी चाहिए|

पंजीकरण और आवेदन (Registration and Application)

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) आवेदन प्रक्रिया-

1. एमबीबीएस में प्रवेश के लिए, छात्रों को आधिकारिक वेबसाइट पर खुद को पंजीकृत करने की आवश्यकता है|

2. पंजीकरण के बाद, उन्हें अपने पंजीकृत ईमेल पर एक लॉगिन लिंक प्राप्त होगा। लॉगिन करने के लिए उन्हें अपने उपयोगकर्ता आईडी और पासवर्ड का उपयोग करने की आवश्यकता है|

3. उन्हें सभी विवरण भरने और आवेदन पत्र जमा करने की आवश्यकता है|

4. विवरण जमा करने के बाद, उन्हें आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा|

5. एक बार शुल्क का भुगतान करने के बाद, उन्हें पुष्टिकरण पृष्ठ पर निर्देशित किया जाएगा जहां वे इसे डाउनलोड करने के लिए निर्देशित होंगे|

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) आवेदन शुल्क-

वर्ग जेआईपीएमईआर एमबीबीएस आवेदन शुल्क
जनरल / पी-यू.आर. 1200 रुपये + लेनदेन शुल्क
ओबीसी / पी-ओबीसी 1200 रुपये + लेनदेन शुल्क
अनुसूचित जाति / जनजाति एंड पी-एससी 1000 रुपये + लेनदेन शुल्क
एनआरआई / ओसीआई 2500 रुपये + लेनदेन शुल्क
पीएच और ओपीएच आवेदन शुल्क से छूट दी गई

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) आवेदन शुल्क का मोड- नेट बैंकिंग / क्रेडिट कार्ड / डेबिट कार्ड द्वारा कर सकते है|

महत्वपूर्ण तिथियाँ (Important Dates)

यहां हम उम्मीदवार की जागरूकता के लिए संदर्भित कर रहे हैं| की उम्मीदवारों को परीक्षा दिनांक की पूर्ण जानकारी के लिए जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) आधिकारिक वेबसाइट पर जाने की सलाह दी जाती है|

परीक्षा पैटर्न (Exam Pattern)

दो भागों में आयोजित, जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) प्रवेश परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की जाती है| ढाई घंटे लंबी परीक्षा में 200 एकाधिक विकल्प होंगे|

1. भौतिकी- 60 प्रश्न

2. रसायन शास्त्र- 60 प्रश्न

3. जीवविज्ञान- 60 प्रश्न

यह भी पढ़ें- CLAT Exam क्या है- आयु, पात्रता और पैटर्न ! CLAT Exam- Eligibility and Pattern

4. अंग्रेजी भाषा और समझ- 10 प्रश्न

5. तार्किक और मात्रात्मक तर्क- 10 प्रश्न

प्रत्येक सही उत्तर के लिए, छात्रों को चार अंक मिलेगा| किसी भी प्रश्न के लिए अनुत्तरित छोड़ दिया गया है, या गलत तरीके से उत्तर दिया गया है, नकारात्मक रूप से चिह्नित नहीं किया जाएगा|

पाठ्यक्रम (Syllabus)

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा के लिए प्रश्न राज्य बोर्ड द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम पर आधारित होते है| राज्य बोर्ड उच्च वरिष्ठ माध्यमिक की ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षाओं से और सीबीएसई पाठ्यक्रम आदि|

परिणाम (Result)

आमतौर जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) के परिणाम जून के महीने में आधिकारिक वेबसाइट पर घोषित किए जाते है| केवल वे उम्मीदवार जिन्होंने परीक्षा को पास है, वे अपने परिणामों की जांच कर सकते है|

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस के नतीजों में उन उम्मीदवारों की सूची होगी, जिन्होंने परीक्षा उत्तीर्ण की है, और परामर्श के लिए बुलाया जाएगा| कृपया ध्यान दें कि भाग 1 और भाग 2 परीक्षा के लिए दो योग्यता सूचियां होंगी|

जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) परिणाम कैसे जांचें, जैसे-

1. आधिकारिक वेबसाइट – www.jipmer.edu.in पर जाएं|

2. जेआईपीएमईआर एमबीबीएस परिणाम पीडीएफ लिंक पर नेविगेट करें|

3. सूची में अपने रोल नंबर और नाम की जांच करें|

यह भी पढ़ें- IIT JEE Exam क्या है- मापदंड और पैटर्न ! IIT JEE Exam – Criteria and Pattern

4. अपने अनुभागीय और सभी प्रतिशत पर जांचें|

5. अपनी पात्रता की जांच करें, और तदनुसार परामर्श के लिए आवेदन करें|

प्रवेश पत्र (Admit Card)

यह प्रवेश पत्र परीक्षा कक्ष में जाने के लिए एक अनिवार्य दस्तावेज है| प्रत्येक उम्मीदवार को अपना प्रवेश पत्र परीक्षा स्थल में ले जाने की आवश्यकता होती है| प्रवेश पत्र की अनुपस्थिति में उम्मीदवार को परीक्षा से प्रतिबंधित कर दिया जाता है|

प्रवेश पत्र में निम्नलिखित जानकारी होगी, जैसे-

1. उम्मीदवार का नाम

2. उम्मीदवार की रोल संख्या

3. पाठ्यक्रम के लिए आवेदन किया

4. परीक्षा की तारीख

5. परीक्षा का समय

यह भी पढ़ें- बीएचयू एमबीबीएस/बीडीएस (BHU MBBS/BDS) प्रवेश परीक्षा योग्यता और मानदंड

6. परीक्षा स्थल

7. छात्र का पता

8. छात्र का फोन नंबर

यदि जेआईपीएमईआर एमबीबीएस (JIPMER MBBS) प्रवेश पत्र की जानकारी में किसी भी विसंगति के मामले में, उम्मीदवार को तुरंत प्रवेश कार्यालय से संपर्क करना चाहिए और परीक्षा से पहले त्रुटि को सुधारना होगा|

अभ्यर्थियों को प्रवेश प्रक्रिया समाप्त होने तक प्रवेश पत्र को संरक्षित करने की सलाह दी जाती है|

प्रिय पाठ्कों से अनुरोध है, की यदि वे उपरोक्त जानकारी से संतुष्ट है, तो अपनी प्रतिक्रिया के लिए “दैनिक जाग्रति” को Comment कर सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का हमें इंतजार रहेगा, यदि लेख से संबंधित कोई नई जानकारी आपके पास है, तो आपने Comment में जरुर लिखें, ये आपका अपना मंच है, लेख पसंद आने पर Share और Like जरुर करें|

शुभकामनाएं

महत्वपूर्ण लिंक- Jawaharlal Institute of Postgraduate Medical Education and Research

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *